नेटफ़्लिक्स और बॉलीवुड एक्टर अनिल कपूर अपनी नई फ़िल्‍म 'AK vs AK' के ट्रेलर को लेकर विवादों में घिर गए हैं. नेटफ़्लिक्स की इस फ़िल्म पर इंडियन एयरफ़ोर्स के अपमान का आरोप है. इसके लिए अनिल कपूर और नेटफ़्लिक्स को इंडियन एयरफ़ोर्स से माफ़ी मांगनी पड़ी है.

Source: koimoi

क्या है पूरा मामला? 

दरअसल, इंडियन एयरफ़ोर्स का आरोप है कि 'AK vs AK' फ़िल्‍म के ट्रेलर में एयरफ़ोर्स की वर्दी पहने अनिल कपूर, अनुराग कश्यप को गालियां दे रहे हैं. इस पर इंडियन एयरफ़ोर्स ने सोशल मीडिया पर नाराज़गी ज़ाहिर की और फ़िल्म से सीन को हटाने की मांग की. इसके बाद अनिल कपूर और नेटफ़्लिक्स को माफ़ी मांगनी पड़ी.

Source: scroll

वायुसेना ने ट्वीट करते हुए लिखा- इस वीडियो में इंडियन एयरफ़ोर्स की वर्दी का ग़लत इस्तेमाल किया गया है. इसमें जो भाषा प्रयोग की गई है वो ठीक नहीं है. ये भारत के सशस्त्र बलों के व्यवहार संबंधी मानक के लिहाज से ठीक नहीं है. इन सीन को निश्चित रूप से फ़िल्म से हटाया जाना चाहिए.

अनिल कपूर ने मांगी माफ़ी 

इस बीच अनिल कपूर ने एक वीडियो ट्वीट करते हुए कहा, मेरा इरादा इंडियन एयरफ़ोर्स का अपमान करने का नहीं था. मेरा कैरेक्टर यूनिफ़ॉर्म में इसलिए है, क्योंकि वो एक एक्टर है, जो ऑफ़िसर के रोल में है. जब उसे पता चलता है कि उसकी बेटी किडनैप हो गई है, तो वो गुस्से में वही दिखाता है, जो एक भावुक पिता महसूस करता है. मैं अनजाने में इंडियन एयरफ़ोर्स की भावनाओं को चोट पहुंचाने के लिए तहे दिल से माफ़ी मांगता हूं'.

Netflix ने भी ने मांगी माफ़ी 

Netflix ने भी ट्वीट करते हुए लिखा कि हमारा इरादा कभी भी और किसी भी संबंध में भारत के सशस्त्र बलों का अनादर करने का नहीं है. हम देश की रक्षा करने वाले बहादुर जवानों को सर्वोच्च सम्मान की दृष्टि से देखते हैं.

बता दें कि इस फ़िल्म में अनिल कपूर के साथ अनुराग कश्यप भी लीड रोल में हैं. इसका ट्रेलर हाल में रिलीज़ किया गया था. नेटफ़्लिक्स पर आने वाली इस फ़िल्म का निर्देशन विक्रमादित्य मोटवानी ने किया है. इसे 24 दिसंबर को रिलीज़ किए जाने की उम्मीद है.