कलाकार 

बहुत बड़ा कलाकार
अल्ताफ़ राजा 

ये भी पढ़िए: अल्ताफ़ राजा प्लीज़ हमें माफ़ कर दीजिएगा... हमें आपके गाने ज़रा देर से समझ आए, मगर आ गए

अपने वक़्त से काफ़ी आगे के कलाकार थे जनाब अल्ताफ़ राजा (Altaf Raja). और इस सवाल पर तर्क-वितर्क करने की ज़रूरत नहीं है, सीधे घर पर मम्मी-पापा से ये सवाल पूछना! ट्रक ड्राइवर्स, ऑटोरिक्शा वालों को राजा की आवाज़ को ताज़ा रखने का पूरा क्रेडिट जाता है! वरना मुए मिलेनियल्स (Millennials) ने तो उन्हें कब का भुला दिया है! इनको कोका कोला, लहंगा से फ़ुर्सत ही कहां है! 

अल्ताफ़ मियां के तो काफ़ी गाने आये हैं. जैसे- 

पहले तो कभी कभी ग़म था 

इश्क़ और प्यार का मज़ा लीजिए 

दिल का हाल सुने दिलवाला 

जा बेवफ़ा जा 

लिस्ट लंबी है लेकिन टॉप पॉज़िशन जिस गाने को मिलता है वो है 'तुम तो ठहरे परदेसी' (Tum To Thehre Pardesi).

अगर हम कहें कि इस गाने का सीक्वल भी आ चुका है तो? फ़ेक न्यूज़ नहीं फैला रहे भई. गूगल करने पर पता चला कि 1999 में इस गाने का पार्ट-2 तुम तो ठहरे परदेसी-पार्ट 2 रिलीज़ किया गया. गाने की धुन तुम तो ठहरे परदेसी की ही है लेकिन गाने के बोल अलग हैं. हालांकि इस गाने में वो जादू नहीं है जो पहले पार्ट में था शायद इसलिये इस गाने के बारे में कम लोग ही जानते हैं.

2015 में आई मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो अल्ताफ़ राजा ने तुम तो ठहरे परदेसी, पार्ट 2 रिलीज़ करने की बातें कहीं थीं लेकिन इंटरनेट पर कहीं भी ये गाना नहीं मिला.  

एक लेख की मानें तो 1997 में आये तुम तो ठहरे परदेसी गाने ने श्रोताओं के बीच धूम मचा दिया था. लोग इस गाने के जबरा फ़ैन बन गये थे. चाय की दुकान, ट्रक, ऑटो रिक्शा, शादी, घर जहां भी जाओ ये गाना सुनाई देता था. बेहद कम समय में इस गाने के लाखों कैसेट बिक गये. बिक्री इतनी ज़्यादा बढ़ गई थी कि कैसेट ख़त्म हो जाते थे और लोग कैसेट के लिये दूसरे शहर भी चले जाते थे!

2020 में अल्ताफ़ राजा ने ऐ सनम गाना रिलीज़ किया.

पेशकश कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में बताइए.