कोरोना वायरस के चलते हम सब घरों में बंद है. करने को कुछ काम नहीं तो जो समझ में आता है, वो निपटा डालते हैं. इस कलाकारी से महानायक अमिताभ बच्चन भी ख़ुद को बचा नहीं पाए हैं. अब सभी जानते हैं कि वो सोशल मीडिया पर ख़ासा एक्टिव रहते हैं और लगातार अपने फ़ैंस के लिए मज़ेदार पोस्ट शेयर करते रहते हैं. इस कड़ी में अब एक नई अतरंगी चीज़ जुड़ गई है.

Source: sirfnews

दरअसल, इस मुए कोरोना ने किसी को मुंह दिखाने क़ाबिल नहीं छोड़ा है. अजी मेरा मतलब है कि हरदम मास्क लगाए घूमना पड़ता है, लेकिन क्या आपने कभी सोचा कि मास्क को हिंदी में क्या बोलते हैं? नहीं न... तो बस, अमित जी ने इस पर ही मौज ले ली है. उन्होंने मास्क का हिंदी नाम खोज निकाला है, जो बेहद मज़ेदार होने के साथ-साथ आपकी ज़ुबान को पूरे मुंह में वर्ल्ड टूर करा देगा.

उन्होंने इंस्टा पर अपनी एक तस्वीर शेयर की है, जिसमें वो मास्क पहने नज़र आ रहे हैं. इस मास्क पर उनकी फ़िल्म गुलाबो-सिताबो का प्रिंट भी छपा है. पोस्ट शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, ‘मिल गया! मिल गया! मिल गया! बहुत परिश्रम के बाद, MASK का अनुवाद मिल गया! "नासिकामुखसंरक्षक कीटाणुरोधक वायुछानक वस्त्रडोरीयुक्तपट्टिका!'

अमिताभ बच्चन ने इसके पहले 23 जून से शुरू हुई जगन्नाथ यात्रा को लेकर भी एक पोस्ट शेयर किया था. उन्होंने अपने फ़ैंस के साथ इस पवित्र स्थल की एक तस्वीर साझा करते हुए लिखा, ‘23 जून जगन्नाथ रथ यात्रा की शुरुआत. इस महोत्सव की विशालता के कारण अंग्रेज़ी शब्द ‘जगरनोट’ का भी प्रयोग किया जाता है. इसका अर्थ बहुत बड़ा शक्तिशाली और विशाल है. इस शब्द की उत्पत्ति अविश्वसनीय जगन्नाथ मंदिर पुरी उड़ीसा से हुई है.’

बता दें कि अमिताभ की फ़िल्म 'गुलाबो सिताबो' 12 जून को Amazon Prime Video पर रिलीज़ हुई है, जिसमें उनके साथ लीड रोल में आयुष्मान ख़ुराना भी हैं. अमिताभ ने इस फ़िल्म में एक खड़ूस मकानमालिक की भूमिका निभाई है, जबकि आयुष्मान एक जिद्दी किराएदार बने हैं.