क्या अभी आप 'मिर्ज़ापुर-2' के मुन्ना भईया के भौकाल को मिस कर रहे हैं? और मिर्ज़ापुर-3 के इंतज़ार में हैं, तो जनाब इंतज़ार छोड़िये और ALTBalaji पर आई 'बिच्छू का खेल' देख डालिये. सीरीज़ एकता कपूर की है, जिसके लीड एक्टर दिव्येंदु शर्मा यानि अपने मुन्ना भईया हैं. सीरीज़ में मुन्ना भईया का किरदार ज़रूर बदला है, लेकिन अंदाज़, तेवर और गालियां वही हैं.

Munna Bhaiya
Source: filmcompanion

'बिच्छू का खेल' देखते हुए आपको मिर्ज़ापुर के मुन्ना भईया की कमी बिल्कुल नहीं खलेगी. 'बिच्छा का खेल' में दिव्येंदु शर्मा बनारसी लौंडे अखिल श्रीवास्तव के रोल में हैं. अगर आपको 'मिर्ज़ापुर-2' पसंद आई है, तो 'बिच्छू का खेल' देख कर भी आप निराश नहीं होंगे. सीरीज़ जब देखिएगा, तब देखिएगा. उससे पहले उसके ये शानदार डायलॉग पढ़ लीजिये.

1.

2. 

3. 

4. 

अब आगे बढ़ते हैं और बात करते हैं दमदार कलाकार दिव्येंदु शर्मा की. 'मिर्ज़ापुर' में उन्होंने जिस तरह मुन्ना भईया का किरदार निभाया, लोग असल ज़िंदगी में उन्हें मुन्ना भईया के नाम से ही जानने लगे. दिव्येंदु एक बेहतरीन कलाकार हैं और अभिनय की दुनिया में उनका भविष्य भी उज्जवल है. इस बात का सबूत हैं, उनके चुनिंदा बेहतरीन किरदार. इन रोल्स के ज़रिये दिव्येंदु ने ख़द को साबित करने की कोशिश की और सफ़ल भी रहे. आइये उनके कुछ बेहतरीन रोल्स पर नज़र डालते हैं.

1. 'कनपुरिया'

'कनपुरिया' एक एंथोलॉजी फ़िल्म है. इसमें दिव्येंदु शर्मा, हर्ष मायर, विजय राज और अपारशक्ति खुराना ने अहम भूमिका निभाई है. 'कनपुरिया' ऐसे लोगों की कहानी है, जो छोटे शहर से होकर बड़े-बड़े सपने देख रहे हैं. दिव्येंदु ने 'कानपुरिया' में कानपुर के लौंडे की बेबाक भूमिका निभाई और सबके दिल पर छा गये.

2. 'प्यार का पंचनामा'

'प्यार का पंचनामा' से सिर्फ़ कार्तिक आर्यन ने ही बॉलीवुड डेब्यू नहींं किया था, बल्कि ये दिव्येंदु शर्मा की डेब्यू फ़िल्म भी है. मुन्ना भईया ने फ़िल्म में 'लिक्विड' का किरदार निभाया था, जिसकी क़िस्मत रोमांस में बहुत बुरी होती है. फ़िल्म देखने वाले हर शख़्स को आज तक 'लिक्विड' का कैरेक्टर याद है.

3. 'बदनाम गली'

'बदनाम गली' ZEE5 की ओरिज़नल सीरीज़ है. सीरीज़ की कहानी सरोगेसी के एक नये दृष्टिकोण को दिखाती है. 'बदनाम गली' में दिव्येंदु शर्मा ने एक ऐसा कैरेक्टर प्ले किया है. जिसे देख कर हंसी भी आती है, भावनात्मक रूप से जुड़ा हुआ महसूस करते हैं और दमदार एक्टिंग की झलक भी दिखती है.

4. 'शुक्राणु'

श्वेता बसु प्रसाद, शीतल ठाकुर और दिव्येंदु शर्मा की जोड़ी 'शुक्राणु' की कहानी को बेहतरीन बनाती है. सीरीज़ की कहानी नसबंदी के बाद एक आदमी के जीवन के संघर्ष को दिखाती है. 'शुक्राणु' में दिव्येंदु शर्मा ने अपनी बेहतरीन एक्टिंग का परिचय दिया और नाम कमाया.

5. फटाफट

फ़टाफ़ट में हमें दिव्येंदु शर्मा की ज़बरदस्त कॉमिक टाइमिंग देखने को मिली. उनका एक्शन हो या डायलॉग सबकी टाइमिंग बहुत सही होती है और यही एक बेहतरीन अभिनेता की पहचान है.

6. 'मिर्ज़ापुर'

'मिर्ज़ापुर' दिव्येंदु शर्मा के करियर के लिए जैकपॉट साबित हुई. 'मिर्ज़ापुर' के दबंग लौंडे के किरदार में दिव्येंदु घुसे हुए दिखाई दिये और उन्हें देख कर ऐसा लगा जैसे हम हर सीन हकीक़त में जी रहे हैं. जीओ मुन्ना भईया.  

दिव्येंदु शर्मा जिस तरह से अपने किरदारों के साथ न्याय करते हैं और आगे बढ़ रहे हैं उसे देख कर लगता है कि वो आगे बहुत कुछ कमाल करेंगे. आप बताओ आपको अब तक हमारे दिव्येंदु शर्मा किस रोल में सबसे ज़्यादा अच्छे लगे हैं.