बॉलीवुड के दबंग विलेन सोनू सूद कोरोना काल में ग़रीबों के लिए मसीहा बनकर सामने आये हैं. संकट के समय में हज़ारों प्रवासी मज़दूरों को बस, ट्रेन और फ़्लाइट से घर पहुंचाने के बाद सोनू की दरियादिली एक बार फिर से देखने को मिली है.

Source: hindustantimes

सोनू सूद ने एक बार फिर से दरियादिली दिखाते हुए 400 मज़दूरों के परिवारों की मदद करने का फ़ैसला किया है. सोनू अधिकारियों की मदद से ऐसे लोगों की लिस्ट निकलवा रहे हैं, जिन्हें मदद की सख़्त ज़रूरत है.

Source: timesofindia

दरअसल, गांव लौटने की जुगत में कई प्रवासी मज़दूर रास्ते में घायल हो गए थे, जबकि कईयों की मौत भी हो गई थी. प्रशासन की तरफ़ से अब तक इन लोगों को किसी भी प्रकार की मदद नहीं मिल पाई है, ऐसे में सोनू सूद ने इन मज़दूरों के परिवारों की मदद का बीड़ा उठाया है.

Source: news18

सोनू सूद इन दिनों मज़दूरों की लिस्ट निकलवाने में जुटे हुए हैं. वो लगातार उत्तर प्रदेश, बिहार और झारखंड के अधिकारियों से संपर्क कर रहे हैं. सोनू सूद अपनी टीम के साथ अब ऐसे 400 प्रवासी मज़दूरों और कामगारों के परिवारों की मदद करेंगे, जो रास्ते में या तो घायल हो गए या जिनकी मौत हो गई थी.

Source: news18

बता दें कि लॉकडाउन के बाद जो मज़दूर अपने घर लौटे थे उनके पास इनकम का कोई रास्ता नहीं है. परिवार चलाने के लिए उन्हें दिक़्क़तों का सामना करना पड़ रहा है. ऐसे में सोनू और उनकी दोस्त नीति गोयल इन परिवारों को आर्थिक मदद देंगे. इसके साथ ही उनके बच्चों की पढ़ाई का ख़र्चा भी उठाएंगे.

Source: news18
मैंने फ़ैसला किया है कि जो प्रवासी मज़दूर अपने घर पहुंचने के दौरान घायल हो गए या मारे गए उनके परिवार को एक सुरक्षित भविष्य दिया जाए. मुझे लगता है कि उनकी मदद करना मेरी निजी ज़िम्मेदारी है. 
Source: amarujala

सोनू सूद से अब भी लोग ट्विटर के जरिए मदद मांग रहे हैं. सोनू भी लोगों की मदद करते नज़र आ रहे हैं. कुछ समय पहले उन्होंने मदद के लिए एक हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया था.