Bollywood Actresses In Southसाउथ इंडियन इंडस्ट्री (South Indian Industry) की फै़न फॉलोइंग मौजूदा समय में सबसे ज़्यादा है. नॉर्थ इंडिया में भी साउथ सिनेमा का क्रेज़ ज़्यादा से ज़्यादा बढ़ रहा है. आज के समय में साउथ सिनेमा की मूवीज़ लोग बड़े चाव से देखते हैं. यही वजह है कि कोई भी साउथ इंडियन मूवी बॉक्स ऑफ़िस पर आते ही सुपरहिट हो जाती है. इसी के चलते कई ऐसे बॉलीवुड एक्टर्स हैं, जो साउथ सिनेमा में भी अपना हाथ आज़मा रहे हैं. हाल ही में आई फ़िल्म ‘KGF 2’ में रवीना टंडन और संजय दत्त व फ़िल्म ‘RRR’ में आलिया भट्ट और अजय देवगन का होना इस बात का संकेत है.

हालांकि, ऐसी बहुत सी एक्ट्रेस हैं, जिन्होंने साउथ इंडियन इंडस्ट्री (Bollywood Actresses In South) में अपना परचम लहराने की कोशिश की, लेकिन इसमें उन्हें असफ़लता मिली. 

Bollywood Actresses In South

1. कैटरीना कैफ़

कैटरीना कैफ़ ने 2004 में तेलुगू इंडस्ट्री में डेब्यू फ़िल्म ‘मल्लिस्वरी’ से किया था. इस फ़िल्म को ख़ूब तारीफ़ें मिली थीं. हालांकि, इस मूवी के बाद उन्होंने एक तेलुगू मूवी ‘अल्लरी पिदुगू’ और मलयालम मूवी ‘बलराम बनाम थरदास‘ भी की, लेकिन इन फ़िल्मों के बाद कैट का जादू साउथ सिनेमा पर नहीं चल पाया. 

news18

2. प्रियंका चोपड़ा

प्रियंका चोपड़ा ने तमिल फ़िल्म ‘थमिज़न‘ से अपना एक्टिंग डेब्यू किया था. हालांकि, साउथ इंडस्ट्री में उनको वो जगह नहीं मिल पाई, जिसकी वो हक़दार थीं. इसके बाद उन्होंने अपना रुख बॉलीवुड की ओर कर लिया और बॉलीवुड फ़िल्म ‘द हीरो: लव स्टोरी ऑफ़ ए स्पाई‘ से हिंदी फ़िल्म इंडस्ट्री में क़दम रखा.  (Bollywood Actresses In South)

eksukoon

3. बिपाशा बसु

फ़िल्म ‘टक्करि दॊंग‘ में महेश बाबू, लीसा रे और बिपाशा बसु ने लीड रोल्स निभाए थे. फ़िल्म में इतने बड़े नाम जुड़े होने के बावजूद इसको बॉक्स ऑफ़िस से काफ़ी फीका रिस्पांस मिला. इसके बाद से ही एक्ट्रेस ने क्षेत्रीय मूवीज़ करना बंद कर दिया था.

7wallpapers

4. ट्विंकल खन्ना

ट्विंकल खन्ना ने ‘बरसात‘ से लेकर ‘इंटरनेशनल खिलाड़ी’ समेत कई हिंदी फ़िल्में कीं. लेकिन उनकी ज़्यादातर फ़िल्में फ्लॉप रहीं. इसके बाद उन्होंने साउथ इंडियन इंडस्ट्री में हाथ आज़माने की सोची और दग्गुबती वेंकटेश के साथ फ़िल्म ‘सीनू’ में काम किया. ये फ़िल्म हिट रही. लेकिन इसके बावजूद ट्विंकल ने आगे कोई साउथ इंडियन फ़िल्म नहीं की. 

indianexpress

5. अमृता राव

अमृता राव ने फ़िल्म ‘अथिदी’ से अपना तेलुगू इंडस्ट्री में डेब्यू किया था, जहां वो महेश बाबू के अपोज़िट नज़र आई थीं. फ़िल्म बॉक्स ऑफ़िस पर प्रभाव डालने में नाकामयाब रही और इसके बाद वो कोई साउथ फ़िल्म में नज़र नहीं आईं. 

bollywoodhungama

6. मनीषा कोइराला

फ़िल्म ‘क्रिमिनल‘ में मनीषा कोइराला एक्टर नागार्जुन और राम्या कृष्णा के अपोज़िट नज़र आई थीं. मूवी को महेश भट्ट ने डायरेक्ट किया था. इसके बाद उन्होंने दो-तीन साउथ फ़िल्में और कीं, लेकिन वो साउथ में उस तरीक़े से अपनी पॉपुलैरिटी नहीं बना पाईं, जिस तरीक़े से उन्होंने बॉलीवुड में बनाई थी. 

dnaindia

ये भी पढ़ें: साउथ की 10 मेगा बजट मूवीज़: जो बॉलीवुड ही नहीं, हॉलीवुड प्रोड्यूसर के भी होश उड़ा चुकी हैं

7. विद्या बालन

विद्या ने अपना एक्टिंग डेब्यू बंगाली मूवी ‘भालो ठेको‘ से किया था. सालों से विद्या ने बेहद कम ही क्षेत्रीय फ़िल्में की है, जबकि बॉलीवुड में उनका राज क़ायम है.

morungexpress

8. आएशा टाकिया

फ़िल्म ‘रॉबरी‘ में आएशा टाकिया एक्टर नागार्जुन अक्किनेनी, सोनू सूद, अनुष्का शेट्टी के साथ लीड रोल में नज़र आई थीं. इसकी रिलीज़ के बाद फ़िल्म को मिक्स रिस्पांस मिले थे, जिसके बाद एक्ट्रेस ने साउथ इंडस्ट्री से दूरी बना ली थी. 

peakpx

9. शमिता शेट्टी

शमिता शेट्टी ने अपना तेलुगू इंडस्ट्री में डेब्यू साल 2002 में आई फ़िल्म ‘राज्जीयम‘ से किया था. ये मूवी दर्शकों को बॉक्स ऑफ़िस तक खींच कर लाने में असफ़ल रही थी और फ्लॉप गई थी. 

इनमें से आपने कौन सी मूवी देखी है?