Bollywood Movies Based On Mental Health: मेंटल हेल्थ यानि कि मानसिक स्वास्थ्य. ये विषय जितना महत्वपूर्ण है, इसकी उतनी अवहेलना भी हुई है. इस पीड़ा से गुज़र रहे लोगों को समाज आज भी बड़ी बेशर्मी के साथ पागल करार दे देता है. ऐसे में पीड़ित शख़्स ख़ुद की तकलीफ़ों को बयां तक नहीं कर पाते. यहां तक कि परिवार के अंदर भी लोग इस बारे में बात करने से डरते हैं.   

ये भी पढ़ें: अगर आप मानसिक तनाव से गुज़र रहे हैं तो ये 15 मेंटल हेल्थ हेल्पलाइन नंबर्स आपकी मदद कर सकते हैं

हालांकि, कुछ सालों से दुनिया भर में मानसिक स्वास्थ्य या पर काफ़ी ज़ोर दिया जाने लगा है. महामारी के वक़्त इस पर चर्चा और भी बढ़ गई है. बॉलीवुड में समय-समय पर इस विषय पर फ़िल्में बना चुका है. तो आइए एक नज़र डालते हैं कुछ ऐसी फ़िल्मों पर जो मेंटल हेल्थ पर बेस्ड हैं. 

Bollywood Movies Based On Mental Health-

1. डियर ज़िंदगी

Dear Zindagi
Source: mediaindia

इस फ़िल्म में आलिया भट्ट ने काम किया है. साथ ही, शाहरुख़ ख़ान, इरा दुबे, कुणाल कपूर, अंगद बेदी, अली जफर, यशस्विनी दयामा और रोहित सुरेश सराफ़ फ़िल्म में हैं. कहानी एक सिनेमेटोग्राफर के इर्द-गिर्द घूमती है जो अपने जीवन से नाखुश है और एक मनोवैज्ञानिक से मिलता है जो उसे लाइफ़ में एक नया दृष्टिकोण अपनाने में मदद करता है. 

2. 15 पार्क एवेन्यू

15 Park Avenue
Source: blogspot

'15 पार्क एवेन्यू' अपने तरह की अनोखी फ़िल्म है. इसमें शबाना आजमी और कोंकणा सेनगुप्ता की बेहतरीन एक्टिंग की थी. फ़िल्म में सिजोफ्रेनिया पर बात की गई थी. ये फ़िल्म यथार्थवादी और भावनात्मक है, और ये लंबे समय तक आपके साथ रहेगी.

3. तमाशा

Tamasha
Source: huffingtonpost

तमाशा इम्तियाज अली की एक बेहतरीन फ़िल्म थी. इसमें रणबीर कपूर का किरदार अपने असली व्यक्तित्व की खोज करने की कोशिश कर रहा है और दीपिका पादुकोण उसकी प्रेमिका तारा बनी हैं. जो उसकी जर्नी में मदद करने की कोशिश करती है. इसमें दिखाया गया है कि कैसे लोग अक्सर बॉर्डरलाइन पर्सनैलिटी डिसऑर्डर से पीड़ित व्यक्ति के व्यवहार को नहीं समझ पाते हैं.

4.  तारे ज़मीन पर

Taare Zameen Par
Source: straight

तारे ज़मीन पर एक ऐसी फ़िल्म थी, जिसने मेंटल हेल्थ को बच्चों के नज़रिए से देखा. इसमें ईशान अवस्थी यानी दर्शील सफारी ने एक बच्चे का किरदार निभाया है, जो 3 और 8 , अंग्रेजी के D और B का फ़र्क़ नहीं समझ पाता था. सिर्फ बच्चे ही नहीं, फ़िल्म डिस्लेक्सिक बच्चों के पैरेंट्स की भी मेन्टल हेल्थ की एक झलक दिखाती है. 

5. छिछोरे

Chhichhore
Source: bollywoodhungama

दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत फ़िल्म में लीड रोल में थे. इस फ़िल्म ने दिखाया कि कैसे यंग जेनरेशन परीक्षा की चिंता, दबाव के चलते आत्महत्या की ओर प्रेरित हो जाते हैं. लोगों की एक्सपेक्टेशन के बोझ को ढोते हुए बच्चों की मेन्टल स्ट्रेंथ कितनी अफेक्टेड होती है, इस फिल्म ने हमें उसकी एक झलक दिखाई है. साथ ही, फ़िल्म में ये भी दिखाया है कि आत्महत्या एक आसान और सही कदम नहीं है.  

6. अ डेथ इन द गंज

a death in the gunj
Source: medium

कोंकणा सेन शर्मा ने इस फ़िल्म को डायरेक्ट किया है. इसमें विक्रांत मेसी, तिलोत्तमा शोम, कल्कि, रणवीर शोरी, ओम पुरी, तनुजा जैसे दिग्गज एक्टर्स ने काम किया है. ये फ़िल्म मानसिक स्वास्थ्य, विषाक्त मर्दानगी और अनुरूपता के दबाव सहित कई विषयों के इर्द-गिर्द घूमती है. फिल्म मैक्लुक्सीगंज में एक पारिवारिक अवकाश की पृष्ठभूमि के भीतर सेट है और 23 वर्षीय उदास चरित्र शुटु  के बारे में है, जिसे विक्रांत मेस्सी ने निभया है. (Bollywood Movies Based On Mental Health)

7. जजमेंटल है क्या

Judgementall Hai Kya
Source: financialexpress

ये एक साइकॉलॉजिकल थ्रिलर ड्रामा फिल्म है. फिल्म में कंगना रनौत और राजकुमार राव मुख्य भूमिका मे हैं. फिल्‍म में राजकुमार रॉव और कंगना रनौत दोनो ही मेंटल की भूमिका में हैं. उनकी सोच दुनिया से बिल्कुल अलग है. इसमें कंगना का किरदार ये मानता है कि हर पुरुष जानवर होता है, क्योंकि उसकी मां को उसके पिता ने बहुत प्रताड़ित किया होता है, जिसका मानसिक असर उसके ऊपर होता है. फिल्म के ज़रिए दिखाने की कोशिश की गई है कि घरेलू हिंसा का बच्चों पर कितना बुरा असर होता है.  (Bollywood Movies Based On Mental Health)