बॉलीवुड एक्ट्रेस काजोल (Kajol) आज भी 90's के बच्चों की फ़ेवरेट एक्ट्रेस हैं. काजोल ने साल 1995 में 'दिलवाले दुहनिया ले जाएंगे' फ़िल्म में सिमरन का किरदार निभाया था. उस दौर में हर युवा अपनी गर्लफ़्रेंड में सिमरन ढूंढने की कोशिश करता था. 90's के युवा राज (शाहरुख़) की तरह बाहें फ़ैलाकर अपनी सिमरन (गर्लफ़्रेंड) को प्रोपोज़ किया करते थे.

Kajol and Shahrukh Khan
Source: google

90's में काजोल ने कई हिट, सुपरहिट और ब्लॉकबस्टर फ़िल्में दी थीं. इनमें 'बाज़ीगर', 'करन-अर्जुन', 'दिलवाले दुहनिया ले जाएंगे', 'गुप्त', 'इश्क़', 'प्यार किया तो डरना क्या' और 'कुछ कुछ होता है' शामिल हैं. लेकिन काजोल ने बॉलीवुड कई बड़ी फ़िल्मों को न कह दिया था. इन सभी फ़िल्मों ने बॉक्स ऑफ़िस पर इतिहास बनाया. इनमें से कुछ फ़िल्में तो ऐसी भी थी जिन्होंने कमाई के सारे रिकॉर्ड्स तोड़ दिए थे.

Kajol and Shahrukh Khan
Source: google

अगर काजोल ने ये फ़िल्में की होतीं तो वो आज बॉलीवुड में सबसे अधिक हिट फ़िल्म देने वाली एक्ट्रेस होतीं- 

1- दिल तो पागल है (1997) 

निर्देशिक यश चोपड़ा 'दिल तो पागल है' फ़िल्म में काजोल को कास्‍ट करना चाहते थे, लेकिन काजोल ने इस फ़िल्म सेकंड लीड करने से मना कर दिया था. इसके बाद यश चोपड़ा ने उनकी जगह करिश्‍मा कपूर को कास्‍ट किया. करिश्‍मा ने लिए इस फ़िल्म के लिए 'बेस्ट स्पोर्टिंग एक्ट्रेस' का नेशनल अवॉर्ड जीता था. 

 Shahrukh Khan-Madhuri Dixit-Karishma Kapoor
Source: google

2- दिल से (1998) 

मणि रत्‍नम द्वारा निर्देशित 'दिल से' को क्रिटिक्स से काफ़ी सराहना मिली थी. मनीषा कोइराला वाले किरदार के लिए मणि रत्‍नम की पहली पसंद काजोल थीं, लेकिन डेट्स की वजह से उन्‍होंने ये फ़िल्म करने से मना कर दिया था. इस फ़िल्म ने 2 नेशनल अवॉर्ड्स और 6 फ़िल्मफ़ेयर अवॉर्ड्स जीते थे.

 Shahrukh Khan-Manisha Koirala
Source: google

3- गदर (2001) 

सनी देओल-अमीषा पटेल स्टारर 'गदर: एक प्रेम कथा' को भला कौन भूल सकता है. बेहतरीन स्‍टोरी, स्‍टारकास्‍ट, म्‍यूजिक से सजी इस फ़िल्म में शकीना का किरदार पहले काजोल को ऑफ़र हुआ था, लेकिन उन्‍होंने इसे रिजेक्‍ट कर दिया था. ग़दर ने बॉक्स ऑफ़िस पर कमाई के सारे रिकॉर्ड्स तोड़ दिए थे.

Sunny Deol- Amisha Patel
Source: google

4- वीर-ज़ारा (2004) 

यश चोपड़ा द्वारा निर्देशित इस फ़िल्म में इंडियन एयर फ़ोर्स के पायलट और एक पाकिस्‍तानी लड़की की प्रेम कहानी दिखाई गई थी. यश चोपड़ा इस फ़िल्म में भी शाहरुख़-काजोल की जोड़ी देखना चाहते थे, लेकिन काजोल ने ये फ़िल्म करने से मना कर दी. इसके बाद ये रोल प्रीति जिंटा ने निभाया था.

 Shahrukh Khan-Preity Zinta
Source: google

5- कभी अलविदा ना कहना (2006) 

करण जौहर 'कभी ख़ुशी कभी गम' फ़िल्म के बाद इस फ़िल्म में भी शाहरुख़-काजोल की जोड़ी को पेश करना चाहते थे. नैना के रोल के लिए करण की पहली पसंद काजोल थीं, लेकिन काजोल ने इस फ़िल्म को रिजेक्‍ट कर दिया था. इसके बाद काजोल की बहन रानी मुखर्जी ने ये किरदार निभाया था.

Shahrukh Khan- Rani Mukherji
Source: google

6- 3 इडियट्स (2009) 

बॉलीवुड इतिहास की सबसे सफ़ल फ़िल्मों में से एक '3 इडियट्स'दर्शकों को काफ़ी पसंद आई थी. राजकुमार हिरानी ने इस फ़िल्म के लिए सबसे पहले काजोल को अप्रोच किया गया था, लेकिन पिया के किरदार को लेकर काजोल ख़ुश नहीं थीं. इसके बाद ये रोल करीना कपूर के पास चला गया.

Amir Khan - Kareena Kapoor
Source: google

इनमें से आपकी फ़ेवरेट फ़िल्म कौन सी थी?