Bollywood Psychological Thriller Movies: ज़िंदगी बोरियत में कट रही हो और चिलचिलाती गर्मी ने जान ले रखी हो, तो टाइम पास के लिए बॉलीवुड मूवीज़ और वेब सीरीज़ से अच्छा भला क्या ही हो सकता है. हिंदी फ़िल्म इंडस्ट्री में ऐसी कई साइकोलॉजिकल थ्रिलर (Psychological Thrillerमूवीज़ बनी हैं, जो आपका दिमाग़ उसकी एंडिंग तक दौड़ाए रखेंगी. इन मूवीज़ को देखने के दौरान आपका स्क्रीन से नज़रें हटाने का एक पल के लिए भी मन नहीं करेगा और टाइम कब मक्खन की तरह आराम से कट जाएगा, ये जान भी नहीं पाओगे. 

आइए आपको बॉलीवुड की कुछ ऐसी ही साइकोलॉजिकल थ्रिलर मूवीज़ (Bollywood Psychological Thriller Movies) और वेब सीरीज़ के बारे में बताते हैं, जो रगों में खून की स्पीड दोगुनी कर देंगी. 

Bollywood Psychological Thriller Movies

1. ब्रीथ: इंटू द शैडोज़

अभिषेक बच्चन और अमित साध स्टारर इस वेब सीरीज़ ने लोगों का पूरा अटेंशन अपनी ओर खींच लिया था. इन दोनों ने सीरीज़ में ज़बरदस्त परफॉरमेंस दी थी. ये सीरीज़ मनोवैज्ञानिक रोग के विषयों को छूती है और एक आदमी के सफ़र को दिखाती है, जो अपनी फ़ैमिली को बचाने के लिए किसी भी हद तक जा सकता है. शुरुआत से अंत तक ये वेब सीरीज़ आपको अपनी जगह से हिलने नहीं देगी. 

koimoi

2. कहानी

इस मूवी में 7 मंथ प्रेग्नेंट विद्या बागची (विद्या बालन) नाम की महिला लंदन से कोलकाता अपने खोए हुए पति को ढूंढने आती है, जो कोलकाता में अपनी जॉब प्रोजेक्ट के लिए आया था. चीज़ें तब बदलती हैं, जब वो ग़ायब हुए व्यक्ति की रिपोर्ट थाने में लिखवाती है, लेकिन उस शहर में किसी ने उसके पति को नहीं देखा होता है. विद्या हिम्मत नहीं हारती है और अपने पति की ख़ोज जारी रखती है. विद्या बालन की आउटस्टैंडिंग परफॉरमेंस और दिल में एक्साइटमेंट जगानी हो, तो इस फ़िल्म को आज ही देख डालो.  (Bollywood Psychological Thriller Movies)

ibtimes

ये भी पढ़ें: 8 पुराने इंडियन थ्रिलर शोज़, जिनका मुकाबला आज के शोज़ शायद ही कर पाएं

3. अंधाधुन 

इस फ़िल्म में आयुष्मान ख़ुराना, तबु और राधिका आप्टे हैं. फ़िल्म में नेत्रहीन व्यक्ति ‘आकाश‘ जोकि एक पियानो बजाता है, वो एक नॉर्मल ज़िंदगी जी रहा होता है. लेकिन अचानक से उसकी ज़िंदगी तब बदल जाती है, जब उसे एक पूर्व एक्टर के घर पर पियानो बजाने के लिए बुलाया जाता है. जो एक शांत शाम होने वाली थी, वो एक मर्डर सीन में बदल जाती है, जिसमें वह उलझ जाता है और उसकी दुनिया उल्टी-पुल्टी हो जाती है. इस मूवी का एक सेकेंड भी मिस करना आपको काफ़ी भारी पड़ सकता है. 

openthemagazine

4. वज़ीर

यह एक्शन थ्रिलर एक विकलांग ग्रैंडमास्टर और एक आतंकवाद-रोधी दस्ते के अधिकारी की कहानी है, जो किसी प्रियजन को खोने के दुःख के दौरान एक अप्रत्याशित दोस्ती विकसित करता है. जैसे-जैसे मूवी आगे बढ़ती है, वैसे ATS अफ़सर को दूसरे ऑफ़िसर्स के कई एनकाउंटर्स कई सच्चाइयों के बारे में पता चलता है और वो उन रहस्यों को अपने ग्रैंडमास्टर की मदद से सुलझाता है. इस फ़िल्म में अमिताभ बच्चन, फ़रहान अख़्तर और अदिति राव हैदरी ने ज़बरदस्त काम किया था.  (Bollywood Psychological Thriller Movies)

india

5. दृश्यम

ये बॉलीवुड मूवी इसी नाम की मलयालम मूवी की रीमेक है. इस में एक आम आदमी ‘विजय’ (अजय देवगन) की ज़िंदगी एक डार्क टर्न लेती है, जब उसे एक पुलिस अफ़सर के बेटे की हत्या के लिए संदिग्ध माना जाता है. इस मूवी को देखने के लिए स्नैक्स पहले से ही लेकर बैठ जाना बेहतर है, क्योंकि बाकी समय ये आपको अपनी सीट से उठने का मौका नहीं देगी. (Bollywood Psychological Thriller Movies)

indiatvnews

6. पाताल लोक

इस थ्रिलर ड्रामा सीरीज़ को अनुष्का शर्मा ने प्रोड्यूस किया था. इसके बारे में ज़्यादा जानकारी न बताते हुए हम आपसे बस इतना कहेंगे कि इसमें जयदीप अहलावत, अभिषेक बनर्जी, इश्वक सिंह और नीरज कबी ने बेहतरीन परफॉरमेंस दी है. इसको क्रिटिक्स से भी काफ़ी अच्छे रिव्यूज़ मिले थे और एक बार इसे आपने देख लिया, तो इस सीरीज़ के फै़न बनने से ख़ुद को नहीं रोक पाओगे.

mashable

7. बदला

फ़िल्म ‘बदला‘ स्पेनिश मूवी ‘द इनविज़िबल गेस्ट‘ की ऑफिशियल रीमेक है. इसकी कहानी एक यंग और आज़ाद एंटरप्रेन्योर ‘नैना‘ के बारे में है, जिसके पास एक सक्सेसफ़ुल बिज़नेस, एक प्यारी फ़ैमिली और लविंग बॉयफ्रेंड समेत सब कुछ है. उसका एक एक्स्ट्रा मैरिटल अफ़ेयर होता है और तभी से चीज़ें दिलचस्प होती चली जाती है. चीज़ें तब यू टर्न लेती हैं, जब वो अपने बॉयफ्रेंड के साथ आउटिंग पर होती है और दोनों ग़लती से ‘सनी‘ नाम के लड़के का एक्सीडेंट कर देते हैं. ये पूरी फ़िल्म एक रोलर कोस्टर राइड है. तो सीट बेल्ट बांध लीजिए और पूरे सफ़र को एंजॉय करिए.  

dnaindia

8. रात अकेली है

राधिका आप्टे और नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी नेटफ्लिक्स पर एक क्राइम थ्रिलर लेकर आए, जिसने ऑडियंस को इम्प्रेस कर दिया. इसकी कहानी एक पुलिसवाले के बारे में है, जो एक राजनेता की हत्या की जांच करता है और ख़ूनी का नकाब सबके सामने लाने की कोशिश करता है. ये काफ़ी डार्क और रहस्यमयी है, लेकिन आपको पहले ही वार्निंग दे देते हैं. क्योंकि इसमें काफ़ी ग्राफ़िक लैंग्वेज और हिंसा भी शामिल है.

netflix

9. इत्तेफ़ाक़

इस फ़िल्म में एक पुलिसमैन ‘देव’ (अक्षय खन्ना) एक डबल मर्डर की जांच कर रहा है, जिसमें दो संदिग्ध माया और विक्रम ही दो चश्मदीद गवाह हैं. दोनों ही संदिग्धों की अपनी एक कहानी है, लेकिन ये पता लगाने का ज़िम्मा देव के ऊपर है कि कौन वास्तव में सच बोल रहा है. इस फ़िल्म में सिद्धार्थ मल्होत्रा और सोनाक्षी सिन्हा ने भी अहम भूमिका निभाई है. 

indianexpress

10. गेम ओवर

इस फ़िल्म के ज़रिए तापसी पन्नू ने एक और साइको थ्रिलर में अपनी चमक बिखेरी थी. मूवी में उनका क़िरदार ‘स्वप्न’ एक व्हीलचेयर से चलने वाली गेम डिज़ाइनर का है, जिसको PTSD की बीमारी है. वो अंदर और बाहर दोनों के राक्षसों से ख़ुद को लड़ता हुआ पाती है. ये फ़िल्म एक नाखून कुतरने वाली डार्क और थ्रिलर जर्नी है, जिसमें आपको ज़रूर सवारी करनी चाहिए.

thenewsminute

ये फ़िल्में दिल की धड़कनें बढ़ा देंगी.