Crime Thriller Web Series Based on Uttar Pradesh : अमेज़न प्राइम व नेटफ़्लिक्स जैसे ओटीटी प्लेटफ़ार्म के आने से वेब सिरीज़ के बनने और उन्हें देखने का क्रेज़ बढ़ते जा रहा है. ये ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म इतना मनोरंजन का मसाला भरने का काम कर रहे हैं कि आज यूथ बिना सोए रात भर वेब सीरीज़ देखने पर मजबूर हो जाता है. इनकी ख़ासियत ये है कि आप इन ओटीटी प्लेटफ़ॉर्म के ज़रिए एक क्लिक पर रोमांटिक, सस्पेंस, कॉमेडी व हॉरर जैसी वेब सीरीज व मूवीज़ आसानी से देख सकते हैं. 

वहीं, अगर आप क्राइम थ्रिलर के शौक़ीन हैं, तो यहां इसका भी मसाला कूट-कूटकर भरा है. वैसे अगर आप इन दिनों कुछ क्राइम थ्रिलर देखना चाह रहे हैं, तो नीचे बताई जा रही उत्तर प्रदेश पर आधारित कुछ OTT Web Series का आनंद उठा सकते हैं. 

आइये, जानते हैं कौन-कौन सी हैं वो OTT Crime Thriller Web Series जो उत्तर प्रदेश पर आधारित (Crime Thriller Web Series Based on Uttar Pradesh) हैं.  

1. भौकाल  

यूपी पर आधारित देखने लायक क्राइम थ्रिलर वेब सीरीज़ में एक ख़ास नाम ‘भौकाल’ का भी है. ये वब सीरीज़ एसएसपी नवनीत सिकेरा की सच्ची स्टोरी पर आधारित है कि कैसे उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुज़फ्फ़रनगर में बढ़ते क्राइम पर अंकुश लगाया था. इस वेब सीरीज़ में एक्टर मोहित रैना ने नवनीत सिकेरा का जबरदस्त रोल निभाया है. 

इसके दो सीज़न एमएक्स प्लेयर पर उपलब्ध हैं, जहां आप बिना सब्सक्रिप्शन के इस धाकड़ वेब सीरीज़ का आनंद उठा सकते हैं. इसका दूसरा सीज़न इसी साल 20 जनवरी को आया था और इसी सीज़न के साथ कहानी का अंत भी है.   

2. रक्तांचल

एमएक्स प्लेयर पर आप फ्री में एक और जबरदस्त यूपी पर आधारित क्राइम थ्रिलर वेब सीरीज़ ‘रक्तांचल’ (Crime Thriller Web Series Based on Uttar Pradesh) का आनंद उठा सकते हैं. ये वेब सीरीज़ उत्तर प्रदेश के 80 के दशक के पूर्वांचल के क्राइम से जुड़ी सच्ची घटनाओं से इन्सपायर्ड है. इसके दो सीज़न एमएक्स प्लेयर पर उपलब्ध हैं. 

इसका दूसरा सीज़न हाल ही में रीलीज़ (11 फ़रवरी) हुआ है. इसमें क्रिमिनल वसीम ख़ान (निकितिन धीर) और हिरो विजय सिंह (क्रांति प्रकाश झा) के आपसी द्वंद को दिखाया गया है.   

3. रंगबाज़  

यूपी पर आधारित एक और क्राइम थ्रिलर आप ‘रंगबाज़’ देख सकते हैं. ये वेब सीरीज़ 90 के दशक के उत्तर प्रदेश के गोरखपुर पर आधारित है. ये ZEE5 की ऑरिजनल वेब सीरीज़ है और इसके दो सीज़न आप यहां देख सकते हैं. इसका पहला सीज़न कुख़्यात गैंग्स्टर और गोरखपुर के मोस्ट वांटेड क्रिमिनल ‘श्री कुमार शुक्ला’ की सच्ची कहानी पर आधारित है. 

इसमें श्री प्रकाश शुक्ला का किरदार एक्टर साक़िब सलीम ने निभाया है. वहीं, दूसरा सीज़न ‘रंगबाज़ फिर से’ राजस्थान के कुख़्यात गैंगस्टर ‘आनंद पाल सिंह’ से प्रेरित है. इसमें आनंद पाल की भूमिका में जिमी शेरगिल दिखे हैं. वहीं, इसमें आनंद पाल का नाम अमर सिंह रखा गया है. 

4. मिर्ज़ापुर  

‘मिर्ज़ापुर’ (Crime Thriller Web Series Based on Uttar Pradesh) अब तक की सबसे ख़ास इंडियन वेब सीरीज़ में गिनी जाती है. इसे अधिकांश लोगों ने देख लिया होगा. लेकिन, अगर अभी तक आपने इसे नहीं देखा है, तो ज़रूर देखें. इसके दो सीज़न अमेज़न प्राइम पर उपलब्ध हैं. इस वेब सीरीज़ ने ही पकंज त्रिपाठी को काफ़ी लोकप्रिय बनाया है. 

‘मिर्ज़ापुर’ में पकंज त्रिपाठी ने कालीन भैया रोल निभाया है, जो कि एक बड़ा क्रिमिनल है और उसका काले धंधों का अपना एक बड़ा साम्राज्य है. बाद में उनके गिरोह में गुड्डू (अली फ़ैज़ल) और बबलू (विक्रांत मेसी) नाम के दो भाई जुड़ते हैं, जिसके बाद क्राइम और बढ़ता जाता है. वहीं, इसमें एक्टर दिव्येंदु का अभिनय भी कमाल का है, जो कि कालीन भैया के बेटे मुन्ना त्रिपाठी के रोल में हैं.  

5. असुर 

इस सूची में एक नाम ‘असुर’ का भी है. ये फ़िक्शनल वेब सीरीज़ उत्तर प्रदेश के वाराणसी के प्लॉट पर है. इसमें एक सीरियल किलर को दिखाया गया है, जो धार्मिक भी है और कई हत्याओं का अंजाम भी देता है. वहीं, इसमें सीरियल किलर और पुलिस व फ़ॉरेंसिक टीम के साथ काफ़ी चूहे-बिल्ली का खेल चलता है. 

इसमें अरशद वारसी धनंजय राजपूत के किरदार में हैं, जो कि फ़ॉरेंसिक एक्सपर्ट निख़िल नायर (एक्टर बरुन सोबती) के मेंटर के रूप में दिखे हैं. ये वेब सीरीज़ ओटीटी प्लेटफ़ार्म ‘वूट’ पर उपलब्ध है.  

6. अभय 2  

यूपी पर आधारित क्राइम थ्रिलर में आप ‘अभय 2’ (Crime Thriller Web Series Based on Uttar Pradesh) को भी देख सकते हैं. इसमें कुणाल खेमू एसटीएफ अधिकारी अभय प्रताप सिंह की भूमिका में हैं. अभय सीज़न 2 में आपको सायको सीरियल क्रीलर (चंकी पांडे) देखने मिलेगा, जो 11वीं और 12वीं के होनहार बच्चों का अपहरण करता है और उनको मार डालता है. जैसा कि हमने बताया कि सीरियल क्रीलर सायको है, तो वो दिमाग़ तेज़ करने के लिए छात्रों के ब्रेन का सूप बनाकर पीता है. 

वहीं, लखनऊ में दो साल के अंदर कई बच्चे गायब हो जाते हैं. इसकी पड़ताल की ज़िम्मेदारी अभय प्रताप सिंह को मिलती है. अभय किस तरह सीरियल क्रीलर तक पहुंचते हैं, ये आपको वेब सीरीज़ देखकर ही पता चलेगा. ये वेब सीरीज़ ZEE5 पर उपलब्ध है.