बॉलीवुड फ़िल्मों को अगर किसी ने एक नया रूप दिया और एक्टिंग को नए पैमाने पर पहुंचाया तो वो दिलीप कुमार साहब थे. इन्होंने 'ज्वार भाटा' फ़िल्म से करियर की शुरुआत की और लोगों के दिलों में ऐसे बसे की कभी न निकल पाए. दिलीप साहब के इसी प्यार के चलते उनके करोड़ों फ़ैंस थे, जो उनसे बेइंतेहा प्यार करते थे. मगर एक फ़ैन ऐसा भी था, जो उन पर तेज़ाब फेंकना चाहता था और उसने ये बात दिलीप कुमार साहब को चिट्ठी में लिखकर बताई थी और कारण भी बताया था कि वो क्यों नहीं तेज़ाब फेंकना चाहता था?

dilip kumar acid attack story
Source: mathrubhumi

ये भी पढ़ें: क़िस्सा: जब 3 महीने तक एक गाने की शूटिंग करने में ज़ख़्मी हो गई थीं दिलीप कुमार की उंगलियां

दिलीप कुमार से जुड़ी इस बात का ख़ुलासा 70 MM With Rahul शो में किया गया था. इसके मुताबिक़, ये शख़्स दिल्ली का रहने वाला था और इसका नाम मोहम्मद यासीन चांदीवाला था. यासीन ने तेज़ाब फेंकने के पीछे तीन कारण बताए थे, पहला कारण दिलीप साहब को अपना हिंदू नाम नहीं रखना चाहिए था. दूसरा कारण, दिलीप कुमार मुस्लिम महिलाओं के साथ रिश्ता बनाते हैं और फिर उनकी ज़िंदगी ख़राब कर देते हैं और तीसरा कारण ये बताया था कि दिलीप उस इंसान की मदद करें.

Fan Wants To Throw Acid On Him
Source: gulfnews

ये भी पढ़ें: दिलीप कुमार का वो झूठ जिसका सच जानकर उनके पिता को लगा था सदमा, कई सालों तक नहीं की थी उनसे बात

दिलीप साहब के इस फ़ैन ने ये सब इसलिए किया था ताकि वो उसे जानें और उसकी मदद करें. दरअसल, फ़ैन पाकिस्तान का रहने वाला था, किसी कारण वश वो भारत में फंस गया था. इसलिए, वो चाहता था कि दिलीप कुमार उसकी मदद करें ताकि वो अपने अपनों के पास पाकिस्तान पहुंच पाए. इस क़िस्से का ज़िक्र दिलीप कुमार ने एक इंटरव्यू में करते हुए बताया था, उन्होंने उस शख़्स की बातों को ज़्यादा गंभीरता से नहीं लिया था.

s He Wants To Grab Attention of Him
Source: asianetnews

रिपोर्ट की मानें तो, ये चिट्ठी दिलीप कुमार तक पुलिस के ज़रिए पहुंची थी. दरअसल, यासीन की ये चिट्ठी उसके दोस्त को मिली थी और उसने इसे पुलिस को दे दिया था. इस चिट्ठी को पढ़ने के बाद पुलिस ने दिलीप कुमार के पाली हिल बंगले की सुरक्षा बढ़ा दी थी. लेकिन दिलीप साहब ने पुलिसकर्मियों को वहां से जाने के लिए कह दिया था और पुलिसवालों से मिलने के लिए वो बाहर भी आए थे, तभी वो शख़्स भी उनके गेट के बाहर तेज़ाब की बोतल लिए खड़े था.

the fan wrote a letter to the actor and also told the reason.
Source: deccanherald

हालांकि, पुलिसवालों की नज़र यासीन पर पड़ गई और और वो उसे लेकर थाने आ गए, उन्होंने दिलीप कुमार को भी पूछताछ के लिए बुलाया. वहां जब दिलीप कुमार ने उससे कारण पूछा तो वो रोने लगा और कुछ भी बोल नहीं पाया.

Source Link