‘रिंग-रिंग रिंगा’

‘गुप-चुप गुप-चुप’
‘चोली के पीछे क्या है’

इन तीनों गाने में एक बात कॉमन है वो है सिंगर. ये सारे गाने गाये हैं वेटरन बॉलीवुड एक्ट्रेस और सिंगर ईला अरुण ने. इनकी गायकी का स्टाइल अलहदा है, जो कुछ-कुछ राजस्थानी लोक गीतों से मिलता है.

socialtelecast

बात तो सही है और इसमें राजस्थान की धरती का भी कुछ हाथ है. दरअसल, कानपुर में ससुराल और उन्नाव में ननिहाल पाने वाले वाली ईला अरुण का जन्म राजस्थान के जोधपुर ज़िले में हुआ था. 

cinestaan

यहीं से ईला जी ने शिक्षा हासिल की और रंगमंच की दुनिया से लेकर बॉलीवुड/हॉलीवुड तक नाम कमाया. ईला अरुण बॉलीवुड की कई फ़िल्मों में बेहतरीन अभिनय कर चुकी हैं. इनमें ‘जोधा अकबर’, ‘बेगम जान’, ‘लम्हें’, ‘मंटो’ ‘ठग्‍स ऑफ़ हिंदोस्‍तान’ और ‘घूमकेतू’ जैसी फ़िल्मों के नाम शामिल हैं.

timesofindia

ईला जी पिछले 4 दशकों से इंडस्ट्री में सक्रीय हैं. एक बार उन्होंने बताया था कि फ़िल्म ‘घूमकेतू’ की शूटिंग करते समय उन्हें एक्टर नवाज़ुद्दीन के सामने जाने में हिचकिचाहट होती थी. वो इसलिए कि कम उम्र के होने के बावजूद वो बहुत ही उम्दा और सजग एक्टर थे. इसलिए किसी भी सीन को फ़िल्माते समय उन्हें भी सतर्क रहना होता था.

telanganatoday

ख़ैर, ये तो रही अभिनय की बात. इला जी की एक और ख़ासियत है वो ये कि उन्हें कई गानों में राजस्थानी लोकगीत की संस्कृति की झलक दिखाने के लिए भी जाना जाता है. ये कुछ गाने हैं जो इसीलिए याद किए जाते हैं:

मोरनी बागा में बोले…

फ़िल्म ‘लम्हें’ के इस गाने के दो पार्ट हैं. इसकी शुरुआत ईला जी करती हैं और दूसरे पार्ट में लता जी मोर्चा संभालती हैं. इसे अनिल कपूर और श्रीदेवी पर फ़िल्माया गया था. इसमें इला जी एक बंजारन के रूप में अपने साथियों के साथ डांस करती भी दिखाई दी थीं. 

चोली के पीछे…

https://www.youtube.com/watch?v=8nd5NLbUu44

फ़िल्म ‘खलनायक’ के इस गाने के बाद ईला जी को इंडस्ट्री में एक गायिका के रूप में पहचाना जाने लगा था. ये भी लोक कला पर आधारित गाने था जिसे इला और अलका याग्निक ने मिलकर गाया था. 

गुटर-गुटर…

मिथुन चक्रवर्ती और आयशा जुल्का पर फ़िल्माया गया था ये गाना. इसे बप्पी लहरी और ईला अरुण ने मिलकर गाया था.  फ़िल्म ‘दलाल’ का ये गाना काफ़ी फ़ेमस भी हुआ था.

गुप-चुप गुप-चुप…

फ़िल्म ‘करन अर्जुन’ का ये सुपरहिट गाना था. इसे ममता कुलकर्णी पर फ़िल्माया गया था. इसे भी ईला अरुण और अलका याग्निक ने मिलकर गाया था.  

रिंग-रिंग रिंगा…

ऑस्कर जीतने वाली फ़िल्म ‘स्लमडॉग मिलेनियर’ का एक गाना इला जी ने भी गाया था. इस गाने को फ़ेमस म्यूज़िक डायरेक्टर ए.आर. रहमान ने ख़ासतौर पर ईला जी के चोली के पीछे गाने को ट्रिब्यूट देने के लिए बनाया था. इसमें भी ईला जी का साथ अलका याग्निक ने दिया था. 

आ गई न इला जी के इन सुपरहिट गानों की याद?