बॉलीवुड एक्ट्रेस ईशा देओल ने फ़िल्म ‘कोई मेरे दिल से पूछे’ से बॉलीवुड में डेब्यू किया था. इस मूवी के लिए उन्हें फ़िल्मफ़ेयर का बेस्ट डेब्यू (फ़ीमेल) का अवॉर्ड भी मिला था. इसके बाद उन्होंने ‘यूवा’, ‘धूम’, ‘ना तुम जानो ना हम’, ‘एल.ओ.सी. कारगिल’, ‘काल’, ‘दस’ जैसी कई फ़िल्मों में काम किया. 

ईशा देओल ने शादी के बाद फ़िल्मों में काम करना छोड़ दिया. मगर उनके छोटे से फ़िल्मी करियर के बारे में जानकर कुछ लोगों को ये ग़लतफ़हमी होती है कि एक एक्टर-एक्ट्रेस की बेटी होने के नाते उनका ये सफ़र बहुत ही आसान रहा होगा. पर ऐसा बिलकुल नहीं है. ईशा देओल के डांस और उनके फ़िल्मों में काम करने के सख़्त ख़िलाफ थे उनके पिता धर्मेंद्र. ईशा को कैसे फ़िल्मों में काम करने के लिए पिता से ग्रीन सिग्नल मिला, इसके बारे में आज हम आपको बताएंगे. 

indiatvnews

दरअसल, कुछ समय पहले ईशा देओल और उनकी मां हेमा मालिनी टीवी के पॉपुलर कॉमेडी शो ‘द कपिल शर्मा शो’ में पहुंची थीं. यहां हेमा मालिनी ने बताया कि धर्मेंद्र नहीं चाहते थे कि ईशा फ़िल्मों में काम करें. क्योंकि उन्हें अपनी बेटी का डांस और एक्टिंग करना बिल्कुल पसंद नहीं था. 

gulfnews

चूंकि हेमा मालिनी एक प्रोफ़ेशनल डांसर हैं और उन्हें भी डांस करना पसंद है. इसलिए घर पर मां को डांस करते देख ईशा भी डांस करने लगी और धीरे-धीरे उन्हें भी ये पसंद आने लगा. वो भी उनके साथ डांस करने लगी. मगर धर्मेंद्र को ईशा का डांस करना पसंद नहीं था. वहीं ईशा एक प्रोफे़शनल डांसर बनने के साथ ही बॉलीवुड में अपना करियर बनाने के सपने देख रही थीं. 

tribuneindia

पर एक दिन कुछ ऐसा हुआ कि धर्मेंद्र भी ईशा की डेडिकेशन के आगे हार गए. हेमा मालिनी कहती हैं- ‘जब पहली बार उन्होंने ईशा को डांस करते देखा तो वो उसके डांस के कायल हो गए, जिसके बाद उन्होंने उसकी खु़शी के लिए अपना मन बदल लिया और उसे बॉलीवुड में काम करने की इजाज़त दे दी.’

इस तरह ईशा देओल को बॉलीवुड में काम करने का मौक़ा मिला था. भले ही उन्होंने इंडस्ट्री में ज़्यादा दिन काम नहीं किया, मगर आज भी उनके चाहने वालों की देश में कमी नहीं है. 


Entertainmentके और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.