Highest Paid Lyricist In Bollywood: हम भारतीयों के लिए बॉलीवुड फ़िल्में (Bollywood Films) जितने मायने रखने हैं उतने ही फ़िल्म के लिए गाने (Songs) भी मायने रखते हैं. कई बार तो फ़िल्में अच्छे गाने नहीं होने की वजह से फ़्लॉप तक हो जाती हैं. बॉलीवुड फ़िल्मों में जब तक गाने न हों हमें मज़ा ही नहीं आता. इंग्लिश गाने सिर्फ़ क्लब या किसी हाई फ़ाई पार्टी में ही अच्छे लगते हैं. आम ज़िंदगी में जब तक हमारे कानों को शुद्ध देसी गाने (Bollywood Songs) सुनाई नहीं देते पैर थिरकने का नाम ही नहीं लेते. लेकिन कभी सोचा हमें अपने गानों के बोल पर थिरकने को मज़बूर करने वाले गीतकारों (Lyricist) 1 गाने के लिए कितना पैसा मिलता होगा? आज हम आपको इस आर्टिकल में यही बताने जा रहे हैं.  

ये भी पढ़िए: ललिता पवार: वो अभिनेत्री जिसने बॉलीवुड फ़िल्मों में ‘खड़ूस सास’ की इमेज आइकॉनिक बना दी

चलिए जानते हैं बॉलीवुड में सबसे अधिक फ़ीस लेने वाले गीतकार (Highest Paid Lyricist In Bollywood) कौन है-

8- समीर अंजान 

बॉलीवुड के जाने-माने लिरिक्स राइटर समीर अंजान (Sameer Anjaan) का असली नाम शीतला पांडेय है. 90 के दशक में अपने रोमांटिक गानों से दर्शकों का दिल जीतने वाले समीर साहब ने साल 1983 में फ़िल्म ‘बेखबर’ से बतौर गीतकार अपने करियर की शुरुआत की थी. उनका नाम सबसे अधिक (4000 से अधिक) गीत लिखने के लिए ‘गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड’ में दर्ज है. ‘आशिक़ी’, ‘साजन’, ‘दीवाना’, ‘रंग’, ‘दिलवाले’, ‘बरसात’, ‘राजा हिंदुस्तानी’, ‘तेरे नाम’, ‘धूम 2’, ‘धड़कन’, ‘कृष 3’ समेत सैकड़ों हिट फ़िल्मों के गाने लिखे हैं. समीर अंजान प्रति गाना 4-5 लाख रुपये चार्ज करते हैं. 

timesnowhindi

7- स्वानंद किरकिरे

स्वानंद किरकिरे (Swanand Kirkire) आज बॉलीवुड में अभिनेता, संवाद लेखक, पार्श्व गायक और गीतकार के तौर पर जाने जाते हैं. नेशनल ड्रामा स्कूल (NSD) से अभिनय की ट्रेनिंग लेने वाले स्वानंद किरकिरे ने बतौर गीतकार साल 2003 में Hazaaron Khwaishein Aisi फ़िल्म से बॉलीवुड में डेब्यू किया था. इसके बाद उन्होंने ‘परिणीता’, ‘लगे रहो मुन्नाभाई’, ‘3 इडियट्स’, ‘राजनीति’, ‘पीपली लाइव’, ‘सिंघम’, ‘बर्फ़ी’, ‘विकी डोनर’, ‘इंग्लिश इंग्लिश’, ‘काय पो चे’, और ‘पीके’ जैसी हिट फ़िल्मों के गाने भी लिखे. स्वानंद किरकिरे प्रति गाना 6 से 7 लाख रुपये चार्ज करते हैं.

allaboutmusic

6- अमिताभ भट्टाचार्य

नेशनल अवॉर्ड विनिंग लिरिक्स राइटर अमिताभ भट्टाचार्य ने अपने करियर की शुरुआत बतौर सिंगर की थी. अमिताभ गायक के रूप में प्रसिद्ध होना चाहते थे लेकिन बन गए गीतकार. अच्छा हुआ कि वो सिंगर नहीं बने, वरना बॉलीवुड इतना बेहतरीन गीतकार कैसे मिलता. ‘देव डी’, ‘अग्निपथ’, ‘कॉकटेल’, ‘बर्फ़ी’, ‘ये जवानी है दीवानी’, ‘चेन्नई एक्सप्रेस’, ‘यारियां’, ‘2 स्टेट्स’ और ‘बजरंगी भाईजान’ जैसी बेहतरीन म्यूज़िकल मूवीज़ के गाने अमिताभ ने ही लिखे हैं. अमिताभ भट्टाचार्य प्रति गाना 7 से 8 लाख रुपये चार्ज करते हैं. 

Spotify

बॉलीवुड गीतकारों की फ़ीस (Bollywood Lyricists Fees)

5- इरशाद कामिल

इरशाद कामिल (Irshad Kamil) ने साल 2004 में एक गीतकार के रूप में ‘चमेली’ फ़िल्म के ज़रिए बॉलीवुड में डेब्यू किया था. इसके बाद उन्होंने ‘जब वी मेट’, ‘लव आज कल’, ‘रॉकस्टार’, ‘आशिकी 2’, ‘हाईवे’ और ‘तमाशा’ समेत कई हिट फ़िल्मों के सुपरहिट गाने लिखे. इरशाद कामिल प्रति गाना 8 से 9 लाख रुपये चार्ज करते हैं.

starsunfolded

4- प्रसून जोशी

प्रसून जोशी (Prasoon Joshi) बॉलीवुड के सबसे प्रतिभाशाली गीतकारों में से एक हैं, जिन्हें सुनते हुए हम बड़े हुए हैं. प्रसून ने अपने करियर की शुरुआत बतौर जिंगल्स राइटर के तौर पर की थी. ‘ठंडा मतलब कोका कोला’ विज्ञापन का जिंगल उन्हीं की देन है. ‘ब्लैक’, ‘फ़ना’, ‘रंग दे बसंती’, ‘तारे ज़मीन पर’ और ‘दिल्ली 6’ जैसी तमाम फ़िल्मों के गीत लिख चुके हैं. एक समय में वो बॉलीवुड में सबसे अधिक भुगतान पाने वाले गीतकारों में से एक थे. प्रसून जोशी प्रति गाना 8 से 10 लाख रुपये चार्ज करते हैं. 

starsunfolded

3- मनोज मुंतशिर

बॉलीवुड के युवा गीतकार मनोज मुंतशिर इन दिनों निर्माता-निर्देशकों की पहली पसंद हैं.  मनोज मुन्तशिर का पूरा नाम मनोज शुक्ला है. उन्होंने साल 2005 में U, Bomsi n Me फ़िल्म से बतौर गीतकार बॉलीवुड में डेब्यू किया था. इसके बाद वो ‘एक विलेन’, ‘पीके’, ‘हेट स्टोरी 3’, ‘बाहुबली’, ‘सनम रे’, ‘कपूर एंड संस’, ‘तुम बिन 2’, ‘रुस्तम’, ‘एम इस धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी’, ‘काबिल’, ‘हेट स्टोरी 4’, ‘लवयात्री’, ‘कबीर सिंह’, ‘केसरी’ जैसी फ़िल्मों के हिट लगाने लिखकर बॉलीवुड के नंबर वन गीतकार बन गये. मनोज मुन्तशिर प्रति गाना 10 से 15 लाख रुपये चार्ज करते हैं.  

koimoi

2- जावेद अख्तर

जावेद अख़्तर (Javed Akhtar) को किसी परिचय की आवश्यकता नहीं है. बतौर राइटर 70 और 80 के दशक में सलीम-जावेद की जोड़ी की तौर पर बॉलीवुड ‘शोले’ और ‘दीवार’ जैसी ब्लॉकबस्टर फ़िल्में देने वाले जावेद साहब एक बेहतरीन गीतकार भी हैं. ‘गॉडमदर’, ‘1942: ए लव स्टोरी’, ‘बॉर्डर’, ‘रिफ्यूज़ी’, ‘लगान’, ‘ज़िंदगी ना मिलेगी दोबारा’ जैसी कई फ़िल्मों के बेहतरीन गीतों के लिए उन्हें कई फ़िल्मफ़ेयर और राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिल चुका है. जावेद अख्तर भी प्रति गाना 10 से 15 लाख रुपये चार्ज करते हैं. 

Siasat

1- गुलज़ार 

इस लिस्ट में टॉप पर हिंदी सिनेमा के सदाबहार गीतकार गुलज़ार (Gulzar) साहब हैं. वो भारतीय सिनेमा की अनमोल धरोहर हैं. वो गीतकार ही नहीं,बल्कि बेहतरीन फ़िल्म निर्देशक भी हैं. चाहे वो ‘लकड़ी की काठी’ साॉन्ग हो या फिर 21वीं सदी का हिट सॉन्ग ‘दिलबरों’ गुलज़ार साहब अपने मार्मिक गीतों से हर उम्र के लोगों का दिल जीत लेते हैं. इसके लिए वो मोटी रकम भी चार्ज करते हैं. गुलज़ार साहब प्रति गाना 15 से 20 लाख रुपये चार्ज करते हैं.

ये भी पढ़िए: Indian Cinema को क़रीब से देखना चाहते हैं तो Golden Era की ये 15 तस्वीरें आपको उस दौर की सैर कराएंगी