राजकुमार हिरानी बॉलीवुड के बेस्ट डायरेक्टर्स में से एक हैं. फ़िल्मों के ज़रिये किसी कहानी को बयां करने का उनका अंदाज़ थोड़ा हटके है. तभी तो उनकी फ़िल्मों को दर्शकों को बहुत प्यार मिलता है. साल 2003 में आई 'मुन्ना भाई एमबीबीएस' भी राजू हिरानी की ऐसी ही फ़िल्मों में से एक है.

भारत में शायद ही कोई शख़्स होगा जिसे ये फ़िल्म पसंद न आई हो. इस फ़िल्म की कहानी से लेकर कैरेक्टर्स तक को दर्शकों ने प्यार किया है. फिर चाहे बात मुन्ना भाई के दोस्त सर्किट की हो या फिर कैरम खेलने वाले पारसी अंकल.

Source: timesofindia

ख़ैर, बात को ज़्यादा न घुमाते हुए सीधे मुद्दे पर आते हैं. इस फ़िल्म का बजट काफ़ी कम था और इसके लिए राजकुमार हिरानी को कॉस्ट कटिंग यानी कम ख़र्च करने के लिए कुछ जुगाड़ भी करने पड़े थे. खर्चे कम करने का एक ऐसा ही क़िस्से को आज हम आपके लिए लेकर आए हैं.

Source: dawn

मुन्नाभाई एमबीबीएस का आख़िरी सीन तो आपको याद ही होगा. इसमें मुन्ना और सुमन उर्फ़ चिंकी की शादी की तस्वीरें दिखाई जाती हैं. इस सीन के लिए हिरानी को एक परफ़ेक्ट वेडिंग वाला माहौल चाहिए था. पर बजट कम होने के चलते वो इसे क्रिएट नहीं कर सकते थे. इसलिए उन्होंने एक जुगाड़ निकाला.

Source: masala

दरअसल, जहां इस फ़िल्म की शूटिंग चल रही थी, वहीं पास में एक मैरिज हॉल था. यहां आए दिन कोई न कोई शादी होती रहती थी. ये बात राजू हिरानी ने नोटिस कर ली थी. इसलिए उन्होंने अपने एक असिसटेंट से मैरिज़ हॉल के मालिक से बात करने कहा. मैरिज़ हॉल वाले ने पूरी कहानी सुनी और वो शूटिंग के लिए राज़ी हो गया. उसने कहा कि रात 10 बजे तक हॉल खाली हो जाता है, उसके बाद वो शूटिंग कर सकते हैं.

Source: indiatimes

फिर वो दिन आ गया जब इस सीन को शूट किया जाना था. फ़िल्म की शूटिंग करने के बाद सभी लोग घर जाने को थे, मगर राजू हिरानी ने सभी को थोड़ी देर रुकने को कहा. संजय दत्त अपनी वैनिटी में बैठे थे. दस बज गए लेकिन हॉल वाले का कॉल नहीं आया. कुछ देर बाद जब उसे कॉल किया गया तो उसने बताया कि अभी हॉल पूरी तरह खाली नहीं हुआ है, कुछ समय और लगेगा. ऐसे करते-करते 11 बज गए. मैरिज हॉल के ओनर ने उन्हें कॉल कर बुला लिया.

Source: masala

यहां जब राजू हिरानी की टीम पहुंची तो देखा कि अभी स्टेज पर दुल्हा-दुल्हन बैठे हैं. जब उन्हें पता चला कि उनकी शादी में संजय दत्त आए हैं, तो वो भी हैरान रह गए. वो स्टेज से उतरे उधर संजय दत्त और ग्रेसी सिंह पूरे गेटअप के साथ स्टेज पर पहुंच गए. राजकुमार हिरानी ने जल्दी से अपना सीन शूट किया और वहां से निकल गए. इस तरह 'मुन्ना भाई एमबीबीएस' के इस आख़िरी शॉट के लिए तस्वीरें ले ली गईं, वो भी बिना एक पाई ख़र्च किए.

Source: patrika

है न कमाल की बात. एक फ़न फ़ैक्ट और जान लीजिए. इस शूट के लिए संजय दत्त को बताया नहीं गया था कि वो असली शादी में जाने वाले हैं. इसलिए संजय उस रात देरी होने के चलते ड्रिंक्स भी लेने लगे थे और नशे में ही उन्होंने ये तस्वीरें ख़िंचवाईं थीं. जाते-जाते मुन्ना भाई एमबीबीएस का ये सुपरहिट सीन देख लीजिए. इसकी यादें ताज़ा हो जाएंगी

Entertainment के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.