राम्या कृष्णन भारतीय सिनेमा की एक जानी-मानी कलाकार हैं. उन्होंने 14 साल की उम्र से ही फ़िल्मों में काम करना शुरु कर दिया था. राम्या की पहली फ़िल्म थी ‘वेल्लई मनासु’. तब से लेकर अब तक वो क़रीब 200 फ़िल्मों में काम कर चुकी हैं. उनकी कुछ यादगार हिंदी फ़िल्में हैं- ‘बाहुबली’, ‘बड़े मिया छोटे मियां’, ‘चाहत’, ‘वजूद’, ‘क्रिमिनल’, ‘खलनायक’, ‘बनारसी बाबू’ आदि. 

trujetter

राम्या कृष्णन एक बेहतरीन एक्ट्रेस होने के साथ ही कमाल की डांसर भी हैं. उन्होंने वेस्ट्रन और क्लासिकल डांस की तालीम ली हुई है. करियर की शुरूआत की कुछ फ़िल्मों में इनके डांस स्किल्स का बेहतरीन नज़ारा देखने को मिला था.

theweek

वो पिछले 4 दशकों फ़िल्म इंडस्ट्री में सक्रीय हैं. उन्होंने एक से बढ़कर एक रोल निभाए हैं. हर रोल को ऐसे निभाया जैसे हम साक्षात उस कैरेक्टर को स्क्रीन पर देख रहे हों. इतनी टैलेंटेड एक्ट्रेस होने के बावजूद उन्हें एक सीन को करने में 1 या 2 नहीं पूरे 37 रीटेक लेने पड़े थे.

ये एक तमिल फ़िल्म थी जिसका नाम ‘सुपर डीलक्स’ था. इस फ़िल्म को कई कहानियों को जोड़कर बनाया गया था. इसमें राम्या कृष्णन एक अधेड़ उम्र की महिला लीला के रोल में हैं जो पॉर्नस्टार है. राम्या कृष्णन ने एक इंटरव्यू में बताया था कि ये फ़िल्म उनके करियर की सबसे मुश्किल फ़िल्म थी. इस फ़िल्म के एक सीन को फ़िल्माने के लिए उन्हें 37 रीटेक्स लेने पड़े थे. इसलिए ये सीन दो दिन में शूट हो पाया था.

chanazorgaram

वहीं बात करें राम्या के कृष्णन के सबसे बेस्ट किरदार की तो बाहुबली में निभाए गए उनके किरदार राजमाता शिवगामी को कैसे भुलाया जा सकता है. वो इस रोल को निभाकर इतनी फ़ेमस हुई कि लोग उन्हें इसी नाम से बुलाने लगे थे. लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि ये रोल निर्देशक राजामौली ने उनसे पहले श्रीदेवी को ऑफ़र किया था.

thestatesman

मगर श्रीदेवी ने इसके लिए भारी-भरकम फ़ीस की डिमांड कर दी थी. इसलिए बाद में उन्होंने ये रोल राम्या कृष्णन को ऑफ़र किया. वो इसके लिए तैयार भी हो गई और वो भी कम फ़ीस में. इस तरह दर्शक राम्या को शिवगामी के रोल में देख पाए.

Entertainment के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.