Kamal Haasan Best Films: आज के समय में जहां अल्लू अर्जुन, यश, प्रभास जैसे रीजनल स्टार्स का जहां पूरे भारत में बोलबाला है. वहीं, कमल हसन (Kamal Haasan) जैसे बहुमुखी और टैलेंटेड एक्टर्स बहुत पहले से पूरे देश में अपनी बेहतरीन एक्टिंग से एक अलग पहचान बना चुके हैं. वो एक ऐसे एक्टर हैं, जिनको आप कभी भी सेम कैरेक्टर में नहीं देखेंगे. वो एक्टिंग इंडस्ट्री में क़दम रखने के बाद से लगातार अपने रोल्स के साथ एक्सपेरिमेंट करते आ रहे हैं. सबसे गौर करने वाली बात तो ये है कि वो हर कैरेक्टर को ऐसे निभाते हैं कि वो उनका अभिन्न अंग लगने लगता है. उन्होंने अब तक कई सर्वश्रेष्ठ फ़िल्मों में काम किया है. 

तो आइए आपको कमल हसन की उन 7 फ़िल्मों (Kamal Haasan Best Films) के बारे में बता देते हैं, जिन्होंने पूरे भारतवासियों के दिल में एक गहरी छाप छोड़ी थी.

news18

1. एक दूजे के लिए 

‘एक दूजे के लिए’ कमल हसन की बॉलीवुड में डेब्यू मूवी थी, जिसमें उनके अपोज़िट रति अग्निहोत्री ने काम किया था. ये मूवी ‘ब्लॉकबस्टर’ साबित हुई थी, जिसने कमल हसन को हिंदी बेल्ट में रातों-रात सुपरस्टार बना दिया था. इस फ़िल्म की कहानी एक साउथ इंडियन आदमी पर आधारित है, जिसको एक नॉर्थ इंडियन लड़की से प्यार हो जाता है. इस मूवी में एक्टर का हिंदी बोलने का तरीका, जो कई लोगों को लगा था कि एक बाधा के रूप में काम करेगा. यही उनकी सबसे बड़ी मज़बूती साबित हुआ, क्योंकि इसने कैरेक्टर में प्रमाणिकता को जोड़ा. 

satyagrah

2. सनम तेरी कसम

कमल हसन एक्ट्रेस रीना रॉय के साथ की गई दूसरी फ़िल्म ‘सनम तेरी कसम’ भी सुपरहिट रही. फ़िल्म में कई चार्टबस्टर गाने थे, जिसमें ‘कितने भी तू कर ले सितम‘ और ‘निशा‘ शामिल हैं. इस मूवी में एक अमीर आदमी का फिर अपने अतीत से सामना होता है, जब से पता चलता है कि उसके कर्मचारियों में से एक उसका बिछड़ा हुआ बेटा है. उसे ये नहीं पता चलता कि उसको धोखे में रखा जा रहा है और उसका असली बेटा वो है, जो उसकी भांजी को प्यार करता है. इस फ़िल्म में कमल हसन की एक्टिंग देखने लायक थी.

imdb

3. सदमा 

आज भी आप अगर साल 1983 में आई इस मूवी को फिर से देख लो, तो आपके दुःख और हताशा के आंसू निकल आएंगे. ये तमिल मूवी ‘मूंद्रम पिराई‘ का हिंदी वर्ज़न थी, जिसमें कमल हसन और श्रीदेवी लीड रोल में थे. इसकी ओरिजिनल फ़िल्म में बेहतरीन एक्टिंग के लिए हसन को ‘नेशनल अवार्ड’ तक मिला था. इसमें एक आदमी और मेंटली चैलेंज लड़की के बीच रोमांस दिखाया गया है. इसमें एक आदमी एक लड़की को वेश्यालय से बाहर लाता है. ब्रेन इंजरी के चलते याददाश्त गुम हो जाने के चलते वो एक 6 साल की लड़की की तरह एक्ट करने लगती है. क्या होगा जब उसकी याददाश्त वापस आएगी? ये आपको फ़िल्म देखने के बाद पता चलेगा. (Kamal Haasan Best Films)

dnaindia

Kamal Haasan Best Films

4. सागर

साल 1985 में आई ऋषि कपूर, डिंपल कपाड़िया और कमल हसन स्टारर ये रोमांटिक-ड्रामा फ़िल्म सुपरहिट साबित हुई थी. इसके लिए कमल को ‘बेस्ट एक्टर’ का ‘फ़िल्मफ़ेयर अवार्ड’ भी मिला था. इस फ़िल्म में एक मछुआरा ‘राजा’ एक लड़की ‘मोना’ से गुपचुप तरीके से प्यार में होता है. जब एक अमीर आदमी रवि अपनी दादी कमलादेवी के साथ रहने के लिए आता है, तो वो मोना को देखता है और उसे उससे प्यार हो जाता है. मोना के दिल में भी उसके लिए फ़ीलिंग्स जाग उठती हैं. राजा को ये पता चलने के बाद उसका दिल टूट जाता है. लेकिन जब कमलादेवी को इस बारे में पता चलता है, तो वो मोना पर रवि को छोड़ने का दबाव डालने लगती हैं. 

imdb

5. अप्पू राजा

इस फ़िल्म में कमल हसन ने ‘अप्पू’ का क़िरदार निभाया है. फ़िल्म की कहानी में एक सच्चे पुलिस अफ़सर (कमल हसन) को एक क्रिमिनल के गैंग को टारगेट करने की बहुत बड़ी क़ीमत चुकानी पड़ती है. वो उस पुलिस अफ़सर को मार देते हैं और उसकी पत्नी को ज़हर दे देते हैं. वो किसी तरह दो जुड़वा लड़कों को जन्म देती है, जो बचपन में बिछड़ जाते हैं. दो भाई में से एक ‘अप्पू’ (कमल) सर्कस का जोकर बन जाता है और ‘राजा’ (कमल) एक मैकेनिक है. बाद में अप्पू को अपने पिता की हत्या के बारे में पता चलता है और वो उन हत्यारों से बदला लेने का प्लान बनाता है. कमल हसन की लाजवाब एक्टिंग देखनी हो, तो ये मूवी देखना मत भूलना. (Kamal Haasan Best Films)

pinkvilla

ये भी पढ़ें: क़िस्सा: जब एक सीन के लिए कमल हासन ने बार-बार रानी मुखर्जी का मुंह धुलवाया

6. हिंदुस्तानी

इस फ़िल्म के लिए भी कमल हसन को फ़िल्मफ़ेयर अवार्ड मिल चुका है. इसमें मनीषा कोइराला और उर्मिला मांतोडकर के साथ कमल हसन ने डुअल रोल निभाया है. इस मूवी में ब्रिटिश राज के दौरान एक अपराध होता है. इसके बाद ‘सेनापति‘ नाम का एक आदमी ब्रिटिश राज के खिलाफ़ हिंसक तरीक़े से बदला लेने का फ़ैसला करता है. वो एक रेयर मार्शल आर्ट तकनीक सीखता है, जो उसे अपने हाथों से ही किसी को मारने की शक्ति देती है. ये फ़िल्म आपका रोमांच आख़िरी तक बनाए रखेगी.

bollywoodirect

7. चाची 420

इस मूवी में कमल हसन की एक्टिंग की जितनी तारीफ़ की जाए, उतनी कम है. ये उनकी ख़ुद की फ़िल्म ‘अव्वई शनमुघी’ की हिंदी रीमेक थी. इसमें उनके साथ तबू, अमरीश पुरी और ओम पुरी लीड रोल्स में थे. ये कहानी एक तलाकशुदा लड़के की है, जो अपनी पत्नी के घर में अपनी बेटी से मिलने के लिए एक हाउस हेल्प का रूप धारण कर लेता है. चीज़ें तब उलझ जाती है, जब बच्ची के दादा केयरटेकर के प्यार में पड़ जाते हैं. (Kamal Haasan Best Films)

scoopwhoop

इन फ़िल्मों ने कमल को एक अलग ही पहचान दिलाई है.