मीडिया पर तीखा प्रहार करते हुए कंगना ने एक वीडियो जारी किया है. वीडियो में कंगना ने मीडियावालों को अपशब्द कहे हैं.


एन्टरटेनमेंट जर्नलिस्ट गिल्ड ने कंगना को बॉयकॉट करने का निर्णय लिया था और उसी के जवाब में कंगना ने ये वीडियो जारी किया है.

कंगना ने वीडियो के शुरुआत में मीडिया को धन्यवाद दिया, पर बाद में उन्होंने मीडिया के कुछ लोगों की तरफ़ इशारा करते हुए बहुत बुरा-भला कहा.


'... एक सेक्शन है मीडिया का जो हमारे देश में दीमक की तरह लगा हुआ है...अपने गंदे-भद्दे विचार, देशद्रोहिता के विचार हैं वो ओपनली सबके सामने रखते हैं और इनके खिलाफ़ हमारे कॉन्स्टीट्यूशन में किसी भी तरह की न पेनल्टी है और न ही सज़ा है. इस चीज़ से मुझे ठेस लगी और मैंने अपनेआप में ही डिसाइड कर लिया कि ये जो दोगुली मीडिया है, ये जो बिकाऊ मीडिया है जो ख़ुद लिबरल कहती है, सेक्युलर कहती है और कुछ नहीं है. दसवीं फ़ेल भी नहीं हैं ये लोग.'

जस्टिन राव का नाम न लेते हुए कंगना ने उन्हें भी अपशब्द कहे,


'ऐसे ही एक चिंदी से जर्नलिस्ट को मैं 1-2 दिन पहले एक प्रेस कॉनफ़्रेंस में मिली तो उसी की तरह बहुत सारे लोग हैं जो जितने भी सीरियस Issues हैं, सीरियस Causes हैं... World Environment Day के दिन मैंने प्लास्टिक बैन को लेकर कैंपेन किया था, जिसमें मैंने प्लास्टिक के खिलाफ़ Isha Yoga सेंटर के साथ मैंने काफ़ी कुछ Activities की थी, इस जर्नलिस्ट को मैंने उसकी खिल्ली उड़ाते देखा. फिर मैंने Cow slaughter के Against, Animal Cruelty के Against कैंपेन किया उसका भी ये मज़ाक उड़ा रहा था. एक शहीद पर मैंने फ़िल्म बनाई, उसके नाम की खिल्ली उड़ा रहा है.'

Source: Instagram

कंगना यही नहीं रुकी, पत्रकारों की पत्रकारिता के Criteria तक पहुंच गईं.


'ग़ौरतलब ये है कि इनके पास किसी भी तरह का तर्क-वितर्क, समीक्षा या विचार जो कि एक पत्रकार का हक़ है... उस तरीके से नहीं गाली-गलौच करके, गंदी बातें लिखकर, Professionals Trolls जो हैं ख़ुद को... मुफ़्त का खाना खाने पहुंच जाते हैं ये हर जगह प्रेस कॉनफ़्रेंस में. मैं जानना चाहती हूं कि... कोई तो Criteria होना चाहिए कि अगर आप ख़ुद को जर्नलिस्ट कह रहे हैं. क्या आपने किया? मुझे एक अपना लिखा हुआ कोई न कोई एक Piece, एक Blog... जैसे मैं अगर ख़ुद को कलाकार कहती हूं तो कुछ तो होना चाहिए To My Credit. आप ख़ुद को क्यों पत्रकार कह रहे हैं, किसलिए आप पत्रकार बने हुए हैं?'

एन्टरटेनमेंट गिल्ड के बॉयकॉट पर कंगन ने एन्टरटेनमेंट गिल्ड के अस्तित्व पर ही प्रश्न खड़ा कर दिया.


'इन 3-4 लोगों ने मिलकर क्योंकि मैंने उस इंसान के प्रश्नों का उत्तर देने से मना कर दिया, मैंने कहा कि मैं एक ऐंटीनेशनल को क्यों Entertain करूं? मेरे पास किसी भी तरह के देशद्रोही के लिए ज़ीरो परसेंट टॉलरेंस है. 3-4 लोगों ने मिलकर मेरे ख़िलाफ़ कोई गिल्ड बनाई है, अभी शायद कल ही बनी है... ही उसकी कोई मान्यता है और न ही उसकी कोई धारणा है...'


कंगना ने पत्रकारों को गद्दर तक कह दिया,

'अरे नालायकों, देशद्रोहियों, बिकाऊ लोगों तुम लोगों को ख़रीदने के लिए लाखों भी नहीं चाहिए, तुम लोग इतने सस्ते हो 50-60 रुपए में बिच(बिक) जाते हो. जो अपने देश के साथ गद्दारी करे, जिसमें खाते हैं उसी में छेद करते हैं, तुम जैसे नालायक मुझको बर्बाद करोगे? तुम लोगों के बाप-दादाओं को भी मैंने लोहे के चने चबवाए हैं. अगर तुम जैसे लोगों की चलती न, मूवी माफ़िया और सड़े हुए Pseudo-Journalists की चलती तो आज मैं इंडिया की टॉप एक्ट्रेस और Highest Paid एक्ट्रेस नहीं होती. मैं तुम्हारे सामने हाथ जोड़ती हूं और कहती हूं कि प्लीज़ मुझे बैन करो क्योंकि मैं नहीं चाहती कि मेरी वजह से तुम लोगों के घर में चूल्हा जले. और इससे ज़्यादा बड़ा एहसान आप मुझ पे नहीं कर सकते. आप मुझे बैन कीजिए.'

Source: Instagram

बालाजी टेलिफ़िल्म्स ने पूरे घटना पर लिखित माफ़ी मांगी पर कंगना टस से मस नहीं हो रही हैं.

वीडियो के आख़िर में कंगना ने मणिकर्णिका की सफ़लता के लिए लोगों का धन्यवाद दिया.

कंगना के शब्दों पर कुछ लोग उनका समर्थन कर रहे हैं-

वहीं कुछ लोग उनके खिलाफ़ बोल रहे हैं-