कॉमेडियन कपिल शर्मा ने कार डिज़ाइनर दिलीप छापड़िया पर 5.5 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का आरोप लगाया है. कपिल का कहना है कि उन्होंने दिलीप छाबड़िया को ये रकम वैनिटी वैन डिज़ाइन करने के लिए दी थी. लेकिन पेमेंट करने के बाद भी उन्हें गाड़ी डिलीवर नहीं हुई.

Source: dnaindia

दरअसल, कपिल शर्मा को मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच ने गवाह के रूप में बयान दर्ज कराने के लिए समन भेजा था. गुरुवार को कपिल ने इस सिलसिले में मुंबई पुलिस कमिश्नर परम बीर सिंह और अपराध खुफिया इकाई (CIU) के अधिकारियों से मुलाकात कर अपना बयान दर्ज कराया. 

कपिल ने मीडिया को बताया कि, उन्होंने दिलीप छाबड़िया और उनके स्कैम के बारे में अख़बार में पढ़ा था, जिसके बाद मुंबई पुलिस कमिश्नर से मिलने का फ़ैसला किया. इससे पहले उन्होंने आर्थिक अपराध शाखा में भी शिकायत दर्ज कराई थी.

Source: freepressjournal

इसके साथ ही कपिल ने कहा कि, उन्हें ख़ुशी है कि छाबड़ा जैसे लोग गिरफ़्तार हो रहे हैं. ऐसे बहुत से सफ़ेदपोश लोग हैं, जो ऐसी आपराधिक प्रवृत्तियों में लिप्त हैं. उन्होंने कहा कि, वो छाबड़िया को दिए गए पूरे अमाउंट के बारे में नहीं जानते हैं, इस बारे में उनके अकाउंटेंट को ज़्यादा पता होगा.

Source: dnaindia

बता दें, दिलीप छाबड़िया मशहूर कार डिज़ाइनर और डीसी डिज़ाइन प्राइवेट लिमिटेड के फ़ाउंडर हैं. उन्हें कथित धोखाधड़ी के मामले में क्राइम ब्रांच की क्राइम इंटेलिजेंस यूनिट (CIU) ने 29 दिसंबर की शाम को अंधेरी के एमआईडीसी से गिरफ़्तार किया था.