Kota Factory: नेटफ़्लिक्स की बहुचर्चित वेब सीरीज़ 'कोटा फैक्ट्री 2' रिलीज़ हो चुकी है. पिछले सीज़न की तरह ही ये सीज़न भी लोगों को काफ़ी पसंद आ रहा है. राघव सुब्बू द्वारा निर्देशित ये वेब सीरीज़ आईआईटी की तैयारियों में लगे छात्रों की कहानी कहती है. कोटा में छात्रों के संघर्ष की कहानी बख़ूबी से दिखाई भी गई है.

ये भी पढ़ें: ये 18 Celebs ठुकरा चुके हैं Bigg Boss का ऑफ़र, किसी ने कम पैसे तो किसी ने बनाया बीमारी का बहाना

Kota Factory Season 2
Source: samaafm

इंजीनियर बनने की ख़्वाहिश लिए हज़ारों युवा हर साल राजस्थान के कोटा शहर जाते हैं. कोटा फैक्ट्री सीज़न 1 की तरह ही सीज़न 2 में भी छात्रों के बीच IIT क्रैक करने की जंग दिखाई गई है. इस जंग में वैभव, बालमुकुंद, उदय, शिवांगी, वर्तिका और मीनल उतरे हैं. इनके सपनों को पूरा करने में जी जान लगा देने वाले टीचर जीतू सर को हम कैसे भूल सकते हैं. इस बार भी जीतू भैया की प्रॉडिजी क्लासेस और माहेश्वरी क्लासेस की जंग देखने को मिल रही है.

Kota Factory
Source: newsncr

इन दिनों 'कोटा फैक्ट्री 2' वेब सीरीज़ को लेकर सोशल मीडिया पर बस एक ही सवाल गूंज रहा है. आख़िर इसे 'Black And White' क्यों बनाया गया है? 21वीं सदी में Black And White वेब सीरीज़ बनाए जाने को लेकर दर्शक उत्सुक हैं.  

चलिए अब इसके पीछे वजह भी जान लीजिये- 

आपको 'कोटा फैक्ट्री 2' के सभी एपिसोड 'ब्लैक एंड व्हाइट' में दिखाई दे रहे होंगे. लेकिन इस वेब सीरीज़ को उस तरह से फ़िल्माया नहीं गया था. इसका पहला सीज़न कलरफ़ुल था, लेकिन बाद में पोस्ट-प्रोडक्शन के दौरान इसे मोनोक्रोम में बदल दिया गया. हालांकि, इस फ़ैसले के पीछे कोई ख़ास वजह तो नहीं बताई गई है, लेकिन ऐसा लगता है कि ये शो के मेकर्स की ओर से काफ़ी हद तक एक क्रिएटिव चॉइस हो सकती है.

Kota Factory Season 2
Source: thecinemaholic

ये भी पढ़ें: 'रामसे ब्रदर्स' की वो 10 हॉरर फ़िल्में, जिन्हें देख कर सिनेमा हॉल में लोगों की सांसें थम जाती थीं

'कोटा फैक्ट्री 2' के कुछ प्रमुख दृश्यों को छोड़ दें तो इसके अधिकांश एपिसोड 'ब्लैक एंड व्हाइट' हैं. शो के शुरुआती सीन कलरफ़ुल हैं. इन दृश्यों में मुख़्य कलाकार कोटा आता है और अपने नए जीवन के साथ तालमेल बिठाता हुआ नज़र आता है. ये शहर छात्र जीवन की नीरस प्रकृति का प्रतीक भी है. क्योंकि छात्र अपने IIT के सपने को पूरा करने के लिए अपनी रंगीन दुनिया छोड़कर इस इस नीरस जीवन को अपनाते हैं. हालांकि, इसके कुछ आख़िरी सीन कलरफ़ुल हैं.  

Kota Factory Season 2
Source: koimoi

IMDb के मुताबिक़, कोटा में छात्रों के जीवन के रंगहीन, उबाऊ, निराशाजनक पहलू को सही से पेश करने के लिए करने 'कोटा फैक्ट्री 2' को 'ब्लैक एंड व्हाइट' शूट किया गया था. ये छात्र 15 से 16 साल की उम्र में अपने परिवार और दोस्तों को छोड़ कोटा आ जाते हैं. कोटा में उनका जीवन मनोरंजन के बिना पढ़ाई के इर्द-गिर्द ही घूमता रहता है.

Kota Factory
Source: thecinemaholic

इसे लेकर वेब सीरीज़ के निर्माता सौरभ खन्ना ने बताया कि, ये सिर्फ़ एक विचार नहीं, बल्कि एक पूरी प्रक्रिया थी. इसके लिए हमें निर्देशन टीम को समझने में काफ़ी समय लग गया था. क्योंकि उनका दृष्टिकोण भी जानना भी बेहद ज़रूरी था. हमने ऐसा दर्शक कोटा को क़रीब से जान और समझ सकें इस इरादे से किया था.   

Kota Factory Season 2
Source: lifestyleasia

बता दें की 'कोटा फ़ैक्ट्री' का पहला सीज़न TVFPlay और YouTube पर आया था. इस बार इसे आप Netflix पर देख सकते हैं. 

ये भी पढ़ें: TV की वो 10 एक्ट्रेसेस जिन्होंने वज़न घटा कर अपनी पर्सनैलिटी में किया ग़ज़ब का ट्रांसफ़ॉर्मेशन