एक तरफ जहां पूरा देश कोरोना वायरस से लड़ रहा है, वहीं दूसरी तरफ मानव तस्करी और बाल विवाह के मामले तेज़ी से बढ़ रहे हैं. लोग भले ही तीन महीनों तक घरों में लॉकडाउन थे मगर कुछ लोग इस माहौल का फ़ायदा उठाकर कुछ लोगों का जीवन नर्क बनाने में तुले हुए थे.

Child Trafficking
Source: humanium

इस समस्या पर प्रकाश डाला है फ़िल्म मेकर निखिल आडवाणी ने जिन्होंने इस अपराध के ख़िलाफ आवाज़ उठाते हुए सोशल मीडिया पर अपनी राय शेयर की है. उन्होंने ट्विटर पर लिखा- 'मेरे एक बहुत ही विश्वसनीय सोर्स ने बताया कि कोरोना महामारी के दौरान बाल विवाह और मानव तस्करी के मामले बढ़ गए हैं. इसका क्या कनेक्शन है? क्या कुछ लोग जीवित रहने के लिए बच्चियों को बेच रहे हैं? #ChildTrafficking.'

उनके इस ट्वीट पर बॉलीवुड एक्टर मनोज बाजपेयी ने रिप्लाई करते हुए न सिर्फ़ इसे बहुत ही निंदनीय बताया, बल्कि इसे देश के नाम पर कलंक भी कहा. 

Child Marriage
Source: dressember

मनोज बाजपेयी ने लिखा- 'बाल तस्करी न सिर्फ़ हमारे समाज के लिए बहुत बड़ा ख़तरा है, बल्कि ये हमारे समाज पर काले धब्बे जैसा है. एक समाज के रूप में हमें एक होकर इस समस्या के ख़िलाफ अपनी इच्छाशक्ति और ताक़त को बटोर इसे ख़त्म कर देना चाहिए.' 

सोशल मीडिया पर लोग इन दोनों ही सेलेब्स की तारीफ़ करते हुए कह रहे हैं कि चलिए कुछ लोग तो हैं जो देश की वास्तविक समस्याओं के प्रति सजग हैं और आवाज़ भी उठा रहे हैं. आप भी देखिए लोगों की प्रतिक्रियाएं:

जो लोग ये सोच रहे हैं कि कोरोना वायरस हमारे हेल्थ सिस्टम को ही नुकसान पहुंचा रहा है, उनकी जानकारी के लिए बता दें कि इस महामारी के दौरान घरेलू हिंसा, बाल तस्करी और बाल विवाह जैसे अपराध तेज़ी से बढ़े हैं. इन्हें रोकने के लिए हमें अपने-अपने स्तर पर जितना बन सके करने की कोशिश करनी होगी वो भी तुरंत.

Life के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.