कोरोना महामारी ने इस साल फ़िल्म इंडस्ट्री को बहुत नुक़सान पहुंचाया. इसके चलते थिएटर बंद करने पड़े और बाद में खुले भी तो आधे-अधुरे. ख़ैर फ़िल्म मेकर्स ने 2020 में दिल कड़ा कर के अपनी फ़िल्मों को ऑनलाइन रिलीज़ किया. इनमें से कुछ हिट रहीं तो कुछ फ़्लॉप. चलिए एक नज़र इस साल रिलीज़ हुई कुछ बेहतरीन फ़िल्मों की लिस्ट पर डाल लेते हैं. इन्होंने महामारी वाले इस साल में हमारा मनोरंजन करने में कोई क़सर नहीं छोड़ी.

1. थप्पड़

तापसी पन्नू ने इस फ़िल्म में लीड रोल प्ले किया है. ये फ़िल्म पत्नियों को पुरुषों की जागीर समझ बैठने वालों को कड़ा संदेश देती है. फ़िल्म की स्टोरी से लेकर एक्टिंग तक सभी दर्शकों को पसंद आई थी. 

2. सर

तिलोत्तमा सोम और विवेक गोम्बर की ये फ़िल्म भी काफ़ी चर्चा में रही. इसमें एक मेड और अप्पर क्लास नौकरीपेशा शख़्स बीच की लव स्टोरी है. फ़िल्म को रोहेना गेरा ने डायरेक्ट किया है. इसने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई अवॉर्ड अपने नाम किए हैं. 

3. गुंजन सक्सेना द कारगिल गर्ल

ये शौर्य चक्र से सम्मानित देश की पहली महिला और फ़ाइटर पायलट गुंजन सक्सेना की बायोपिक थी. इसमें जाह्नवी कपूर ने लीड रोल प्ले किया था. पंकज त्रिपाठी ने इनके पिता को रोल निभाया था. दोनों की एक्टिंग दर्शकों को ख़ूब पसंद आई थी.

4. हर किसी के हिस्से कामयाब

संजय मिश्रा ने इस फ़िल्म में एक कैरेक्टर आर्टिस्ट का रोल प्ले किया था. ऐसे एक्टर जो सैंकड़ों फ़िल्में कर चुका है, लेकिन एक रोल चाहता है जिसके ज़रिये वो हमेशा के लिए याद किया जा सके. 

5. पंगा

कंगना रनौत की पंगा भी इस साल रिलीज़ हुई. फ़िल्म में एक ऐसे महिला की कहानी थी जो अपनी लाइफ़ की दूसरी इनिंग शुरू करने के बाद फिर से कबड्डी की फ़ील्ड में उतरती है. 

6. लूडो

अनुराग बासु की ये फ़िल्म काफ़ी मज़ेदार है. इसमें 4 अलग-अलग लोगों की ज़िंदगी में अलग-अलग सियापे दिखाए गए हैं. ये अंत में आकर मिलते हैं. बड़े ही इंटरेस्टिंग वे में. इसे नहीं देखा है तो पहली फ़ुर्सत में इसे देख डालियेगा. 

7. रात अकेली है

इस क्राइम-ड्रामा में नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी और राधिका आप्टे लीड रोल में हैं. इसकी स्टोरी एक पुलिस वाले(नवाज़ुद्दीन) के ईर्द-गिर्द घूमती है जो एक न्यूली मैरिड शख़्स के मर्डर की छानबीन कर रहा है. फ़िल्म को हनी त्रेहान ने डायरेक्ट किया है.

8. छपाक

इस फ़िल्म की कहानी एक एसिड अटैक सर्वाइवर लक्ष्मी अग्रवाल की ज़िंदगी पर आधारित है. दीपिका पादुकोण और विक्रांत मैसी लीड रोल में हैं. इसे मेघना गुलज़ार ने डायरेक्ट किया है.

9. अंग्रेज़ी मीडियम

दिवंगत अभिनेता इरफ़ान ख़ान की ये आख़िरी फ़िल्म थी. इसमें उनके साथ राधिका मदान, करीना कपूर और दीपक डोबरियाल जैसे स्टार्स थे. फ़िल्म में अपनी बेटी के सपने के लिए कुछ भी कर गुज़रने वाले पिता की स्टोरी है. 

10. शुभ मंगल ज़्यादा सावधान

जितेंद्र कुमार की ये डेब्यू फ़िल्म थी. इसमें उनके साथ आयुष्मान ख़ुराना भी हैं. फ़िल्म में समलैंगिक जोड़ों की बेबसी और संघर्ष को दिखाया गया है. इसे आनंद एल. राय ने निर्देशित किया है.

11. कार्गो

ये एक साइंस-फ़िक्शन फ़िल्म है जिसमें मरने के बाद लोगों का क्या होता है उसकी कल्पना की गई है. इसमें विक्रांत मैसी और श्वेता त्रिपाठी ने मुख्य भूमिका निभाई थी. इसे आरती कादव ने डायरेक्ट किया है.

12. दिल बेचारा

दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की ये आख़िरी फ़िल्म थी. इसमें संजना संघी उनके अपोजिट नज़र आई थीं. फ़िल्म एक ज़िंदादिल लड़के की स्टोरी है जो मरने वाला है. मरने से पहले वो लोगों को जीना सीखा जाता है. 

13. शकुंतला देवी

ये मशहूर गणितज्ञ शकुंतला देवी की बायोपिक थी. इसमें विद्या बालन ने उनका किरदार निभाया था. इसे अनु मेनन ने डायरेक्ट किया है. 

14. डॉली किट्टी और वो चमकते हुए सितारे

अलंकृता श्रीवास्तव की ये फ़िल्म दो छोटे शहर से आई बहनों के ईर्द-गिर्द घूमती है. फ़िल्म में भूमि पेडनेकर और कोंकणा सेन ने कमाल की एक्टिंग की है. 

15. सीरियस मैन 

'सीरियस मैन' को फ़ेमस फ़िल्म डायरेक्टर सुधीर मिश्रा ने डायरेक्ट किया है. इसमें एक ऐसे पिता(नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी) की कहानी है जो अपनी सामाजिक रुतबे से ख़ुश नहीं है. इसलिए वो अपने बेटे को बहुत बड़ा और महान बनाना चाहता है.

16. ईब आले ऊ

प्रतीक वत्स द्वारा निर्देशित ये बेहतरीन फ़िल्म है. इसमें शार्दूल भारद्वाज ने कमाल की एक्टिंग की है. इसमें एक ऐसे शख़्स की कहानी है जो बिहार दिल्ली काम की तलाश में आता है और बंदर को भगाने की ड्यूटी करता है. 

17. AK vs AK

इसे विक्रम आदित्य मोटवाने ने डायरेक्ट किया है. इसमें अनुराग कशय्प और अनिल कपूर लीड रोल में हैं. इसकी स्टोरी एक फ़िल्म स्टार और डायरेक्टर के बीच की घिनौनी लड़ाई पर बेस्ड है. 

18. जवानी जानेमन

नितिन कक्कड़ द्वारा निर्देशित फ़िल्म में सैफ़ अली ख़ान और अलाया एफ़. लीड रोल में हैं. फ़िल्म में कॉम्पलेक्स ह्यूमन रिलेशनशिप्स को अच्छे से बयां किया गया है. ये अलाया की डेब्यू फ़िल्म थी.

19. एक्सट्रैक्शन

क्रिस हेम्सवर्थ और रणदीप हुड्डा स्टार इस फ़िल्म में एक माफ़िया डॉन के बच्चे की किडनैपिंग की स्टोरी है. इसे बांग्लादेश से किडनैपर्स के चंगुल से निकालना होता है.

20. गुलाबो सिताबो

अमिताभ बच्चन और आयुष्मान ख़ुराना ने इसमें मुख्य भूमिकाएं निभाई थीं. शूजीत सरकार द्वारा निर्देशित इस मूवी में एक हवेली के लिए लड़ते मकान मालिक और किरायदार की स्टोरी है. इसका अंत वाकई काफ़ी इंटरेस्टिंग हैं. 

इनमें जो फ़िल्म आपने नहीं देखी, उन्हें पहली छुट्टी मिलते ही निपटा देना.