चुनावी सीज़न में गूंगा भी बोलने लगता है. कोई इस पार्टी, तो कोई उस पार्टी को सपोर्ट करने में लगा हुआ है.

इसी तरह पूर्व 'बिग बॉस' कंटेस्टेंट पायल रोहतगी भी इन दिनों काफ़ी एक्टिव दिख रही हैं. पायल कभी कश्मीर में लागू धारा 370, तो कभी नाथूराम गोडसे के अपमान पर लड़-भिड़ने को तैयार हो जाती हैं.

कुछ दिन पहले पायल रोहतगी 'बिग बॉस' कंटेस्टेंट रहीं गौहर खान से कश्मीर में धारा 370 को लेकर सोशल मीडिया पर भीड़ गयी थीं.

अब पायल के निशाने पर हाल ही में कांग्रेस में शामिल होने वाली बॉलीवुड अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर हैं. कांग्रेस में शामिल होने के साथ ही उर्मिला ने भी अपने तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं. वो सोशल मीडिया पर कभी मोदी तो कभी तो नाथूराम गोडसे को लेकर टिप्पणी कर रही हैं.

Source: amarujala

बाक़ायदा पायल ने करीब 12 मिनट के एक वीडियो के ज़रिये उर्मिला को नसीहत दी है कि अगर हिम्मत है तो धर्म परिवर्तन के बाद बदले नाम के साथ चुनाव लड़ कर दिखाएं.

Source: amarujala

पायल का कहना है कि 'उर्मिला को ये सच लोगों को बताना चाहिए कि उन्होंने अब धर्म परिवर्तन कर लिया है. अब वो उर्मिला मातोंडकर नहीं, बल्कि 'मरियम अख़्तर मीर' हैं. इस लिए उर्मिला मातोंडकर को अपने नए नाम से ही लोकसभा चुनाव में उतरना चाहिए. तभी हम उन्हें एक सशक्त महिला मानेंगे. अगर वो ऐसा नहीं करती हैं, तो वो हिंदू नाम का उपयोग करके हिंदुओं का ब्रेनवॉश कर रही हैं. हमें लगता है उर्मिला अपनी बॉलीवुड छवि का इस्तेमाल वोट बटोरने के लिए कर रही हैं, जो कि ग़लत है.

पायल ने इस दौरान उर्मिला के हर एक ट्वीट का बेबाकी से जवाब दिया.

गांधी को मारने वाला आतंकी नहीं वक़ील था

Source: bhaskar

इसके साथ ही पायल ने उर्मिला मातोंडकर के नाथूराम गोडसे मुर्दाबाद वाले ट्वीट को लेकर कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को मारने वाले गोडसे आतंकवादी नहीं, बल्कि एक वक़ील थे. वो पढ़े-लिखे थे. ये शायद आपको पता नहीं होगा. आप स्कूल जाती तो पता होता, क्योंकि आप तो कम उम्र से ही फ़िल्मों में आ गई थीं. मैं स्कूल गई थी और मुझे इसकी जानकारी है.

जानकारी दे दें कि उर्मिला मातोंडकर मुंबई की नॉर्थ सीट से बीजेपी के दिग्गज नेता गोपाल शेट्टी के अपोज़िट चुनाव लड़ रही हैं.