'रिस्क है तो इश्क़ है'

Scam 1992
Source: thenewsminute

और इसी लाइन के साथ हमें प्रतीक गांधी की एक्टिंग से भी इश्क़ हो गया. अभिनेता प्रतीक गांधी के बारे में बात करने से पहले इस पर बात करना ज़रूरी है कि उनकी तारीफ़ हो क्यों रही है?

Scam 1992
Source: indiatoday

दरअसल, लोगों को काफ़ी लंबे समय से हंसल मेहता की वेब सीरीज़ 'स्कैम 1992' का इंतज़ार था. कैलेंडर पर तारीख़ और घड़ी की सुईयों को गिन-गिन कर आख़िर वो समय आ ही गया, जब 'स्कैम 1992' 'Sony Liv' पर रिलीज़ हो गई. वेब सीरीज़ 'Scam 1992- The Harshad Mehta' पर आधारित है. वेब सीरीज़ की कहानी पत्रकार सुचेता दलाल और देबाशीष बसु की किताब, The Scam: Who Won, who Lost, who Got Away से प्रेरित है.

Prateek Gandhi
Source: letsott

अगर आपको इतिहास में दिलचस्पी है, तो आपने हर्षद मेहता का नाम सुना होगा. अगर नहीं सुना तो बता दें कि हर्षद मेहता भारतीय शेयर बाज़ार का वो नाम था, जिसने अपनी सफ़लता से हड़कंप मचा रखा था. यही नहीं, उन्हें स्टॉक मार्केट का 'बच्चन' और 'बिग बुल' कह कर भी बुलाया जाता है. सफ़लता के साथ हर्षद मेहता का नाम 500 करोड़ रुपये के फ़्रॉड से जुड़ जाता है और तत्कालीन प्रधानमंत्री पर भी कई सवाल उठाता है. 

View this post on Instagram

@hansalmehta I have been saving this for today... I still remember that 1st call from you when you introduced yourself and asked me to meet for Scam 1992. I was pinching myself to believe that it actually was happening. After the audition during our meeting you politely asked if I would like to do it or no... Now how does one process this? I was screaming YES in my head, I had my fingers crossed throughout the meeting and then I composed myself and said an obvious yes... Since then the kind of confidence and faith you showed on me has been the biggest driving force to pull this huge deal off. Can't thank you enough for trusting me and giving me "Harshad Mehta" . I Love you sir for everything. Major thanks and gratitude to @castingchhabra , @mukeshchhabracc , @applausesocial @spnstudionext and @sonylivindia for this milestone in my career.

A post shared by Pratik Gandhi (@pratikgandhiofficial) on

पूरी कहानी बता कर हम दर्शकों का सस्पेंस तो ख़त्म नहीं करेंगे, पर हां उस इंसान की बात ज़रूर करेंगे, जिसने हर्षद मेहता के किरदार को पर्दे पर जीवंत कर दिया. यानि प्रतीक गांधी की. भाई पूरी सीरीज़ में एक पल के लिये भी ऐसा नहीं लगता है कि पर्दे पर हम किसी एक्टर को देख रहे हैं. प्रतीक को देख कर ऐसा लगा जैसे हर्षद मेहता ख़ुद अपनी कहानी दर्शकों तक पहुंचा रहा हो. 

View this post on Instagram

A post shared by Pratik Gandhi (@pratikgandhiofficial) on

प्रतीक गांधी ने एक गुजराती परिवार के लड़के की भूमिका निभा कर दर्शकों का दिल जीत लिया. स्टाइल हो या डायलॉग बोलने का तरीक़ा प्रतीक गांधी ने हर चीज़ काफ़ी परफ़ेक्शन के साथ की. यही नहीं, सीरीज़ देखते हुए आपको ये भी महसूस होगा कि बॉलीवुड का आने वाला कल ऐसे ही कलाकारों से है. सीरीज़ की शुरूआत से ही प्रतीक ने ज़बरदस्त एक्टिंग की है.

एक बार आप हर्षद मेहता की कहानी से बोर हो सकते हैं, लेकिन प्रतीक की अदाकारी आपको बोर नहीं होने देगी. जिन लोगों ने सीरीज़ देख ली है वो प्रतीक गांधी की तारीफ़ करते नहीं थक रहे. आपकी जानकारी के लिये बता दें कि जिन प्रतीक गांधी की इतनी प्रशंसा हो रही है. वो गुजराती थिएटर और सिनेमा के लिये काम करते हैं. प्रतीक के साथ-साथ श्रेया धनवंतरी, शारिब हाशमी, निखिल द्विवेदी और रजत कपूर ने अहम रोल अदा किया है.

View this post on Instagram

Our center of gravity . Happy mother's day.

A post shared by Pratik Gandhi (@pratikgandhiofficial) on

काफ़ी टाइम बाद टीवी पर कोई बेहतरीन सीरीज़ आई है और इसे भूल कर भी देखना नहीं भूलना. जितनी ज़बरदस्त और शानदार सीरीज़ है, उतनी ही मस्त प्रतीक की एक्टिंग भी है.