हर किसी का अपने हिस्से का संघर्ष होता है. समय, परिस्थिति और सहूलियत के हिसाब से कम-ज़्यादा हो सकता है. मगर होता ज़रूर है. बॉलीवुड एक्टर सैफ़ अली ख़ान की ज़िंदगी भी इससे अछूती नहीं है. 

Source: dnaindia

यूं तो हम सब जानते हैं कि सैफ़ न सिर्फ़ फ़िल्म इंडस्ट्री का बड़ा नाम है, बल्कि एक रॉयल फ़ैमिली से भी आते हैं. उन्हें छोटे नवाब बुलाया जाता है, जिनके पास पटौदी पैलेस जैसा आलीशान घर है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस आलीशान पैलेस को हासिल करना सैफ़ के लिए उतना आसान नहीं था, और इसके लिए उन्हें एक बड़ी क़ीमत अदा करनी पड़ी.

एक इंटरव्यू में सैफ़ ने बताया कि जो पैलेस उन्हें विरासत में मिलना था, उसे हासिल करने के लिए उन्होंने काफ़ी पैसे अदा किए, जो उन्होंने फ़िल्मों से कमाए.

Source: indiatimes
'जब मेरे पिता का निधन हो गया तब पटौदी पैलेस, नीमराना होटल को किराये पर दे दिया था. अमन, फ्रांसिस होटल चलाते थे. फ्रांसिस ने मुझसे कहा था कि अगर मुझे पटौदी पैलेस चाहिए तो मैं उन्हें बता दूं. मैंने कहा, हां, मुझे वापस चाहिए.'

                    - सैफ़ अली ख़ान

इसके बाद उनकी कॉन्फ्रेंस हुई और उन्होंने मुझे कहा, अगर तुम पैलेस वापस चाहते हो तो तुम्हें हमें बहुत सारा पैसा देना होगा, जो मैंने फिर कमाए और पैलेस को वापस लिया. 

तो आइए आपको भी उस पैलेस का इनसाइड व्यू दिखाते हैं, जिसके लिए सैफ़ अली ख़ान ने इतना संघर्ष किया है.

Source: msn
Source: msn
Source: msn

Image source: Gqindia