आज की तारीख़ में करन जौहर बॉलीवुड का एक बड़ा नाम बन चुके हैं. भव्य सेट, रोमांस और मंहगी स्टार कास्ट करन की फ़िल्मों की पहचान होती है. हांलाकि, वो बात अलग है कि कभी-कभी उनकी फ़िल्में बिना सिर-पैर की कहानी के साथ होती हैं. ख़ैर, जो भी है करन आज जिस मुकाम पर हैं वो क़ाबिले-ए-तारीफ़ है.

Student of the year
Source: t2online

अब मुद्दा ये है कि करन काफ़ी कम उम्र में फ़िल्में डायरेक्ट करने लगे, आखिर ये सब हुआ कैसे. करन के अंदर फ़िल्म डायरेक्ट करने ज़ज़्बा कहां से आया. इस सवाल का जवाब है 'हम आपके हैं कौन'.

हां जी बिल्कुल सही सुना आपने. सलमान ख़ान स्टारर 'हम आपके हैं कौन' देखने के बाद करन जौहर ने हिंदी सिनेमा में आने का मन बनाया. फ़िल्म देख कर करन को लगा कि हिंदी सिनेमा में रोमांस, ट्रेडिशन, Values और Subtlety के अलावा करने को बहुत कुछ है. इस बात का ज़िक्र करन ने ख़ुद एक पुराने इंटरव्यू में किया है.

Karan Johar
Source: ibtimes

वीडियो क्लिप में करन ने फ़िल्म के फ़ेवरेट सीन्स के बारे में भी बताया, जो उन्हें काफ़ी पसंद आये थे. सलमान, माधुरी, मोहनीश बहल, रेणुका सहाणे, रीमा लागू और अनुपम खेर स्टारर 'हम आपके हैं कौन' पारिवारिक फ़िल्म थी. इस फ़िल्म को पर्दे पर रिलीज़ हुए 25 साल पूरे हो गये हैं. 'हम आपके हैं कौन' 90 के दशक की सुपरहिट फ़िल्म थी, जिसे दर्शकों ने ख़ूब सराहा था.

मतलब बॉलीवुड को एक सफ़ल डायरेक्टर देने का श्रेय हम 'आपके हैं कौन' को जाता है.