पहली फ़िल्म थी रंगीला. छोटा रोल था किसी ने ध्यान नहीं दिया. तीन साल बाद 1998 में सत्या रिलीज़ हुई, लोगों ने शेफ़ाली शाह के नाम को जाना, सत्या के लिए शेफ़ाली को फ़िल्मफ़ेयर अवॉर्ड भी मिला. उनका रोल मात्र सात मिनट का था लेकिन दमदार था.

Source: Rediff.com

करियर की दूसरी फ़िल्म में ही फ़िल्म फ़ेयर अवॉर्ड पाने के बाद सबको शेफ़ाली की प्रतिभा का अंदाज़ा लग गया था, बावजूद इसके वो आगे बड़ी फ़िल्मों में कम ही दिखीं.

एक साक्षात्कार में शेफ़ाली ने बताया कि उन्हें फ़िल्में ऑफ़र होती थी, लेकिन उन्हें किरदार पसंद नहीं आते थे या एक ही तरह के किरदार ऑफ़र होते थे.

Source: Reddif

बीच में कुछ एक फ़िल्मों से वो दोबारा सुर्खियों में आती रहीं. 'मानसून वेडिंग' एक अंतरराष्ट्रीय स्तर की फ़िल्म साबित हुई. 'वक़्त' में शेफ़ाली द्वारा निभाया किरदार विवादों में भी रहा. फ़िल्म में वो अक्षय कुमार की मां बनी हैं, जो असल ज़िंदगी में अक्षय से उम्र में छोटी हैं.

साल 2005 में रिलीज़ हुई Gandhi, My Father में उन्होंने कस्तूरबा गांधी का किरदार निभाया था, इसके लिए उन्हें टोकयो इंटरनेशनल फ़िल्म फ़ेस्टिवल में बेस्ट एक्ट्रेस का अवॉर्ड मिला. दो साल बाद 2007 में आई The Last Lear, इस फ़िल्म के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार मिला.

Source: Bollywood Dhamaka

पुरस्कार तो कई मिले, फ़िल्में भी मिलती रहीं, साथ-साथ में टेलिवज़न पर भी उनका करियर चल रहा था लेकिन बड़ी पहचान अबतक नहीं मिली थी. वो कसर पूरी हुई 2015 के बाद.

Source: bollywoodbubble

2015 को शेफ़ाली के करियर की सेकेंड इनिंग कह सकते हैं. इसी साल रिलीज़ हुई ज़ोया अख़्तर की मल्टी-स्टार्र 'दिल धड़कने दो'. फ़िल्म में शेफ़ाली का किरदार छोटा था लेकिन था प्रभावित करने वाला.

ये कारवां Brothers, The Jungle Book, Commando से आगे बढ़ते हुए पहुंचा साल 2018 में YouTube पर वायरल हुई शॉर्ट फ़िल्म Juice तक. इस शॉर्ट फ़िल्म ने तो मानो शेफ़ाली को अलग पहचान दे दी.

Source: Pandolin.com

2018 में Netflix पर नीरज काबी के साथ उनकी बहुत ही शांत, प्यारी और मानवीय भावनाओं से भरी फ़िल्म आई Once Again. इस फ़िल्म और शेफ़ाली शाह के अभिनय को आलोचक बहुत पसंद करते हैं.

2019 में Netflix पर रिलीज़ हुई Delhi Crime के साथ शेफ़ाली दर्शकों और आलोचकों की चहेती बन गईं . ये वेब सीरीज़ कुख्यात निर्भया रेप केस पर आधारित है. शेफ़ाली इस वेब सीरिज़ में केस की मुख्य जांच अधिकारी बनी. इस सीरिज़ ने देखने वालें को और अभिनेताओं को भी भीतर से झकझोर दिया.

Source: Sg2

शेफ़ाली शाह ने अपने एक साक्षातकार में कहा था कि उन्हें वैसी फ़िल्मों में काम करना पसंद है, जो उनकी प्रतिभा का पूर्ण इस्तेमाल करे, Delhi Crime वैसे ही प्रोजेक्ट में से एक है.

हम उम्मीद करते हैं कि शेफ़ाली को अपने करियर में ऐसी चैलेंजिंग रोल मिलते रहें और हमें उनके अभिनय के विभन्न आयाम देखने को मिलते रहें.