कोविड- 19 लॉकडाउन के शुरुआत से ही सोनू सूद ने देशवासियों की मदद करना शुरू कर दिया था. मज़दूरों को अपने-अपने घर भेजने से लेकर विदेशों में फंसे छात्रों को घर वापस लाने तक सोनू सूद ने हर एक शख़्स की मदद करने की कोशिश की है.

सोनू सूद ने गणेश उत्सव के दौरान कई मज़दूरों को महाराष्ट्र और कोंकण के दूर-दराज़ के इलाकों में भेजा, ताकि वो लोग अपने परिवार के साथ त्यौहार मना सकें.

ज़्यादातर शिक्षण संस्थानों ने ऑनलाइन क्लासेस शुरू कर दी हैं लेकिन बहुत से छात्र ऑनलाइन क्लास नहीं कर पाते. ऐसे कई छात्र हैं जो ऑनलाइन क्लास सिर्फ़ इसलिए नहीं कर पा रहे हैं क्योंकि उनके पास ज़रूरी उपकरण नहीं हैं.

ग़रीब बच्चों की परेशानियों को कम करने के लिए सोनू सूद ने अपनी दिवंगत मां के नाम पर स्कॉलरशिप प्रोग्राम शुरू करने का निर्णय लिया है. सोशल मीडिया पोस्ट्स के द्वारा सोनू सूद ने ख़ुद इसकी जानकारी दी.

स्कॉलरशिप के लिए एप्लाई करने के लिए अपनी ऐंट्रीज़ [email protected] पर भेजी जा सकती है.

लोगों की प्रतिक्रिया-