कोरोना महामारी के बीच एक्टर सोनू सूद ने साबित कर दिया कि वो न सिर्फ़ रील लाइफ़ में बल्क़ि रियल लाइफ़ में भी हीरो हैं. सोनू सूद लॉकडाउन में फंसे प्रवासी मज़दूरों को घर पहुंचाने के साथ ही हज़ारों लोगों के खाने-पीने की व्यवस्था कर चुके हैं. अब उन्होंने महाराष्ट्र पुलिस को 25 हज़ार फ़ेस शील्ड्स डोनेट की हैं.   

Source: bollywoodbubble

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने ट्विटर पर इस बात की जानकारी देते हुए सोनू सूद का धन्यवाद किया. उन्होंने एक तस्वीर साझा करते हुए लिखा, ‘मैं हमारे पुलिस कर्मियों को 25,000 फेस शील्ड देने के लिए सोन सूद जी को धन्यवाद देता हूं.’  

सोनू सूद ने भी गृह मंत्री को ट्विटर पर रिप्लाई किया. उन्होंने लिखा, ‘आपके विनम्र शब्दों से सम्मानित महसूस कर रहा हूं. पुलिस के भाई-बहन असली हीरो हैं और उनके प्रशंसनीय काम के बदले कम से कम इतना तो कर ही सकता हूं. जय हिंद.'  

बता दें, सोनू ने प्रवासी मज़दूरों की मदद करने के अपने अनुभव पर किताब लिखने का फ़ैसला किया है. क़िताब का टाइटल अभी डिसाइड नहीं है. सोनू ने किस तरह लोगों की मदद की, उसकी भावनात्मक और चुनौतीपूर्ण यात्रा का इस क़िताब में ज़िक्र होगा. पब्लिकेशन Penguin Random House इंडिया ने बुधवार को बताया कि ये किताब इस साल के अंत तक प्रकाशित होगी.  

सोनू ने अपने बयान में कहा, ‘मैं भगवान का शुक्रगुज़ार हूं कि उसने मुझे इन लोगों की मदद करने का ज़रिया बनाया. मेरा दिल यूं तो मुंबई के लिए धड़कता है लेकिन इस मूवमेंट के बाद मुझे ऐसा लगता है कि मेरी ज़िंदगी का कुछ हिस्सा यूपी, बिहार, झारखंड, असम, उत्तराखंड और ऐसे ही कई राज्यों में भी बस गया है जहां मैंने नए दोस्त बनाए हैं.’  

Source: opindia

उन्होंने आगे कहा कि, ‘मैंने फ़ैसला लिया है कि हमेशा के लिए मेरी आत्मा में बस चुकी कहानियों और अनुभवों को मैं किताब में दर्ज़ करूंगा… मैं उत्साहित हूं और क़िताब के ज़रिए आपसे जुड़ने के लिए बेचैन हूं. मैं आपका समर्थन चाहता हूं, सभी को प्यार.’