बॉलिवुड एक्टर सोनू सूद ने लॉकडाउन में फंसे हज़ारों प्रवासी मज़दूरों और छात्रों की उनके घर-गांव पहुंचाया. कोरोना महामारी के दौर में सोनू सूद लगातार लोगों की मदद कर रहे हैं, जिसके लिए हर कोई उनकी सराहना कर रहा है. सोशल मीडिया पर भी लोग एक्टर के इस मानवतापूर्ण काम की जमकर तारीफ़ कर रहे हैं.   

Source: timesnownews

सोनू सूद ने मई में केरल के एर्नाकुलम में फंसी 167 लड़कियों को एयरलिफ़्ट करवाकर ओडिशा पहुंचाया था. ये लड़कियां एक स्थानीय फ़ैक्‍ट्री में सिलाई और कढ़ाई का काम करती थीं, लेकिन कोविड-19 के कारण फ़ैक्ट्री बंद हो गई. ऐसे में ये लड़कियां यहीं फंस गईं.   

Source: hindirush

संकट के समय में लोगों को घर पहुंचने में मदद करने की अभिनेता की पहल के बाद भुवनेश्वर (ओडिशा) के एक ट्विटर यूज़र ने उन्हें धन्यवाद देने के लिए सोशल मीडिया पर एक वीडियो साझा किया. वीडियो में सोनू सूद का एक बड़ा सा पोस्टर दिख रहा है, जिस पर ‘कोरोना फ़ाइटर’ लिखा हुआ है. साथ में दो और लोगों के पोस्टर हैं, जिन पर ‘कोरोना फ़ाइटर किंग’ और ‘कोरोना फ़ाइट क्वीन’ लिखा है. वीडियो शेयर करने वाले शख़्स ने बताया कि वे अक़्सर उनकी दयालुता के लिए इन लोगों की पूजा करते हैं.  

एक्टर सोनू सूद ने भी इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा कि, ‘ये बहुत प्यारा है...लेकिन मैं इसके लायक नहीं.’   

ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. लोगों का कहना है कि सोनू सूद इससे भी ज़्यादा सम्मान के हक़दार हैं.  

बता दें, सोनू सूद न सिर्फ़ दूसरे राज्यों में फंसे लोगों के खाने और उन्हें घर भेजने का इंतज़ाम कर रहे हैं, बल्क़ि वो लगातार ट्विटर पर सक्रिय रहकर लोगों का हौसला भी बढ़ाते रहते हैं. एक शख़्स ने सोनू सूद से ट्वीट कर बताया कि वो बेराज़गार हो गया है. उसे आर्थिक सहायता नहीं बल्क़ि काम चाहिए. तो इस पर उन्होंने उस शख़्स को जवाब दिया कि ‘कोशिश करते रहना अगर कोई दरवाज़ा नहीं खुला तो मैसेज़ ज़रूर करना. भाई खड़ा मिलेगा.’