सनी लियोन बॉलीवुड की उन अभिनेत्रियों में से हैं, जिन्होंने संघर्ष करके लाखों दिलों में अपनी पहचान बनाई. सनी ने न सिर्फ़ अपनी ख़ूबसूरती से लोगों को मोह लिया, बल्कि फ़िल्म इंडस्ट्री में अच्छा काम करके भी दिखाया. आज सनी के पास शोहरत, दौलत और फ़ैंस सब कुछ है. ज़ाहिर सी बात है कि कम समय में ये सब हासिल करना किसी के लिये आसान नहीं है. इसलिये सनी लियोन की लाइफ़ जर्नी भी संघर्ष भरी रही है.

हाल ही में सनी लियोन ने एक इंटरव्यू के दौरान अपने बचपन को लेकर चौंकाने वाले खुलासे किये. एक्ट्रेस का कहना है कि बचपन में उन्होंने लुक्स के कारण स्कूल में बहुत टॉर्चर सहा है. हांलाकि, सनी का ये भी कहना है कि वो उस हद तक Bully नहीं हुई हैं जैसे बाक़ी लोग होते हैं, पर वो भी इस ख़ौफ़नाक दर्द से गुज़र चुकी हैं.

सनी बताती हैं कि वो कनाडा के एक छोटे से शहर में पली-बढ़ी हैं. वो एक लाइट स्किन्ड इंडियन गर्ल थी, जिसके हाथ-पैर पर काले बाल नज़र आते थे. वो लड़की जो अच्छे से ड्रेसअप नहीं होती और बहुत भद्दी लगती थी. ख़राब लुक्स को लेकर स्कूल में परेशान किया जाता था और चिढ़ाया जाता था. इस चीज़ से डर उनके माता-पिता ने उन्हें पब्लिक स्कूल से निकाल कर कैथोलिक स्कूल में भेज दिया था.  

आगे सनी कहती हैं कि 'बुली एक सर्कल की तरह होता है, जब आप बुली होते हैं और कभी दूसरों को बुली करने का मौक़ा मिलता है, तो उसे बुली करते हैं. हमें इस सर्कल को तोड़ने की कोशिश करनी चाहिये.'

उम्मीद है कि आपने सनी के दर्द को समझा होगा और जब भी अपने आस-पास बुरी चीज़ें देखेंगे, तो उसका विरोध करेंगे. अगर इस बात से सहमत हैं, तो कमेंट में अपनी राय रख सकते हैं.