सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड मामले में सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार को झटका देते हुए मामले की जांच केंद्रीय जांच एजेंसी CBI को दे दी है. महाराष्ट्र सरकार लगातार इस मामले में CBI जांच का विरोध कर रही थी.  

Source: amarujala

सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में फ़ैसला सुनाने हुए कहा कि, सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड मामले में बिहार सरकार सफ़ाई देने में सक्षम है. सीबीआई को सौंपी गई जांच में मुंबई पुलिस को कोर्ट के आदेश का पालन करना होगा. महाराष्ट्र सरकार कोर्ट के आदेश का पालन करे और सहायता करे'.  

Source: buzinessbytes

जस्टिस हृषिकेश रॉय की बेंच ने कहा कि, इस मामले में मुंबई पुलिस में किसी तरह की FIR दर्ज नहीं की गई है. मुंबई पुलिस के पास सिर्फ़ ADR दर्ज की गई थी, जबकि बिहार में इस मामले को लेकर FIR दर्ज हुई थी. कोर्ट ने ये साफ़ किया कि भविष्य में इस केस में किसी तरह आगे बात होती है तो इसकी जांच सीबीआई ही करेगी. 

Source: english

अदालत का फ़ैसला आने के बाद महाराष्ट्र सरकार ने जांच सीबीआई को ट्रांसफर करने के फ़ैसले को चुनौती देने के लिए स्वतंत्रता मांगी, जिससे सुप्रीम कोर्ट ने इंकार कर दिया है. यानी कि महाराष्ट्र सरकार सुप्रीम कोर्ट के इस फ़ैसले को चुनौती भी नहीं दे पाएगी. 

Source: koimoi

बता दें कि सुशांत की गर्लफ्रेंड रह चुकीं रिया चक्रवर्ती ने पटना की जांच को मुंबई ट्रांसफ़र करने की अपील की थी. इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने 11 अगस्त को फ़ैसला रिजर्व रखते हुए सभी पक्षों से 13 अगस्त तक लिखित जवाब मांगा था. इस केस में सभी पक्षों ने 13 अगस्त अपना जवाब दाख़िल कर दिया था. 

Source: webdunia

एबीपी न्यूज़ से बातचीत में बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने कहा, माननीय सु्प्रीम कोर्ट का फ़ैसला सर्वमान्य होगा. कोर्ट के इस फ़ैसले के लिए मैं उन्हें प्रणाम करता हूं. बिहार पुलिस को मुंबई पुलिस ने जिस तरह से क्वारंटीन किया वो ग़लत था