अगर 2019 की मनोरंजक और मसालेदार फ़िल्मों की बात करें, तो कुछ अच्छी फ़िल्म आ चुकी हैं और साल के अंत तक आती रहेंगी.आप उनके विज्ञापन देखेंगे, गाने सुनेंगे, Memes और टिक-टॉक वीडियो भी बनेंगे.कुल मिला कर ऐसी फ़िल्में चर्चा के केंद्र में बनी रहेंगी. लेकिन कुछ फ़िल्में ऐसी भी होंगी, जो बिना शोर मचाए आएंगी-जाएंगी और सीधा देखने वाले के दिल में घर बनाएंगी.

ये वो फ़िल्में होंगी जो तारीफ़ तो बटोरेंगी लेकिन भीड़ नहीं जुटा पाएंगी. अगर आप अच्छे सिनेमा के कद्रदान हैं, तो इन्हें देख सकते हैं, कुछ रिलीज़ हो चुकी हैं, कुछ होने वाली हैं.

1. Bombairiya

Source: TriStar Pictures

फ़िल्म का निर्देशन Pia Sukanya ने किया है और मुख्य अभिनता हैं राधिका आप्टे, सिद्धांत कपूर, अदिल हुसैन, रवि किशन. ये फ़िल्म एक ब्लैक कॉमेडी-ड्रामा है. कहानी के केंद्र में एक महिला है, जिसका मोबाईल फ़ोन गुम हो जाता है, जिसकी वजह से कई लोगों की ज़िंदगी में भूचाल आ जाता है.

2. हामिद

Source: Yoodlee Films

कशमीर की घाटी में एक हामिद नाम का बच्चा घाटी में हुए किसी लड़ाई में अपने पिता को खो देता है. 8 साल के हामिद को किसी ने बता दिया कि '786' भगवान का नंबर है, वो इस नंबर पर अपने पिता से बात करने के लिए फ़ोन करने लगता है.

'हामिद' का निर्देशन एजाज़ ख़ान ने किया है और रसिका दुग्गल, विकास कुमार और Talha Arshad Reshi जैसे कलाकार फ़िल्म में मौजूद हैं.

3. No Fathers In Kashmir

Source: Alipur Films

ऑस्कर नॉमनेटेड और राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता अश्विन कुमार ने इस फ़िल्म को निर्देशित किया है.कश्मीर में रहेन वाले दो किशोरों को प्यार हो जाता है, जिनके पिता सालों से लापता हैं. पिता की तलाश उनको कश्मीर के छुपे हुए राज़ तक पहुंचा देती है.

4. कामयाब

Source: Eros International

इस फ़िल्म में दीपक डोबरियाल और इशा तलवार भी ज़रूरी रोल्स में हैं. इसका निर्देशन राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता फ़िल्म मेकर हार्दिक मेहता ने किया है. संजय मिश्रा का किरदार एक रिटायर्ड कैरेक्टर एक्टर का है लेकिन वो रिटायर्मेंट छोड़ कर दोबारा काम करना चाहता है. सिर्फ़ उस कैरेक्टर के लिए, जिसे उसने ज़िंदगीभर नहीं किया.

5. पिंड दान

Source: Poetic License Production

ये फ़िल्म अभिनेत्री सीमा पाहवा द्वारा निर्देशित पहली फ़िल्म होगी. आपने सीम पाहवा को 'शुभ मंगल सावधान', 'बरेली की बर्फ़ी' और अन्य फ़िल्मों में मां का किरदार निभाते देखा होगा.

इस फ़ैमली ड्रामा में आपको विक्रांत मेसी, नसीरुद्दीन शाह, विनय पाठक, मनोज पाहवा, कोंकणा सेन जैसे जानी-मानी अदाकारों की फ़ौज दिखेगी.

6. Tryst With Destiny

Source: Youtube, Twitter, BCCL

ये फ़िल्म चार कहानियों का संग्रह होगी. ये उन मुद्दों पर केंद्रित होगी, जो आज़ादी के बाद भी हमारे देश और समाज में विद्यमान हैं. विनीत कुमार, गितांजली थापा, अमित सियाल, प्रकाश राज आदि इसकी कास्ट का हिस्सा होंगे.

7. पशमिना

Source: Renzu Films

एक युवा कश्मीरी की ज़ुबानी चार अलग-अलग लोगों की कहानी सुनाई जाएगी, जो परिस्थिति के कारण एक दूसरे के ज़िंदगी में पहुंच जाते हैं.

आप इस फ़िल्म में अदिति राव हैदरी, श्वेता त्रिपाठी, रोनित रॉय, फ़रीदा जलाल, दुलक़र सलमान को आप महत्वपूर्ण किरदारों को निभाते देख सकते हैं, इसका निर्देशन Danish Renzu ने किया है.

8. The Storyteller

Source: Youtube, Twitter, BCCL

The Storyteller की कहानी महान निर्देशक सत्यजित रे पहले एक बार सुना चुके हैं, उसे दोबारा अनंथ महादेवन के निर्देशन में सुनाने की तैयारी है.

नसीरुद्दीन शाह, परेश रावल और रेवथी इसके मुख्य अभिनेता होंगे. ये कहानी होगी एक ऐसे अंकल की, जो अपने पेशे से रिटायर होने के बाद कहानी सुनाने का काम शुरू करता है.

9. Yours Truly

Source: Platoon One Films

राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता Sanjoy Nag द्वार रचित Yours Truly एक रोमैंटिक ड्रामा फ़िल्म होगी, जिसमें सोनी राज़दान और पंकज त्रिपाठी मुख्य भूमिका निभाएंगे. साथ ही साथ हमेश भट्ट की Special Appearance देखने को मिलेगी. इसकी कहानी Annie Zaidi की किताब 'Love Stories#1 To 14' के एक कहानी से प्रेरित है.

10. अल्बर्ट पिंटो को गुस्सा क्यों आता है?

Source: No Guts No Glory Films

1980 में बनी सईद अख़्तर मिर्ज़ा की क्लासिक फ़िल्म, जिसमें नसीरूद्दीन शाह और स्मिता पाटिल मुख्य भूमिका निभाई थी. सुमित्रा रानाडे उसी कहानी को दोबारा कहने की कोशिश कर रही हैं, इस बार मानव होंगे जो अपने पिता की मौत के राज़ पर पर्दा उठाने की जद्दोजहद करते दिखेंगे.

जब भी वक्त मिले, आराम से इन फ़िल्मों के आप क़ानूनी तरीके से देख लीजिएगा, निराशा हाथ नहीं लगेगी.