एक वक़्त था, जब फ़िल्म इंडस्ट्री में कोई भी सेकेंड लीड रोल का ऑफ़र सुनना नहीं चाहता था. यूं तो आज भी हर शख़्स मेन लीड रोल ही चाहता है पर अब सेकेंड लीड को लेकर सोच थोड़ी बदल चुकी है. इसके पीछे सबसे बड़ी वजह है कि अब हर क़िरदार को फ़िल्मों में अहमियत दी जाने लगी है. 

Source: lifestyleasia

फ़िल्में अब महज़ बड़े चेहरों पर निर्भर नहीं रह गई हैं. एक ज़बरदस्त कहानी और क़िरदारों की बेहतरीन परफ़ॉर्मेंस अब ज़्यादा महत्व रखती है. ऐसे में हर क़िरदार को फ़िल्म में एक न एक मौका ऐसा मिलता है, जहां वो दर्शकों पर अपनी छाप छोड़ सकता है. कई प्रतिभाशाली अभिनेताओं ने इन अवसरों का भरपूर फ़ायदा भी उठाया है. 

ये हैं वो 13 बेहतरीन एक्टर्स, जिन्होंने फ़िल्म में सेकेंड लीड होते हुए भी अपनी शानदार परफ़ॉर्मेंस से लोगों का दिल जीत लिया. 

1-अन्नू कपूर (डॉ. बलदेव चड्ढा) – विक्की डोनर 

Source: imdb

फ़िल्म में मेन लीड आयुष्मान खुराना थे, लेकिन डॉ. बलदेव चड्ढा के क़िरदार में अन्नू कपूर ने इस फ़िल्म को यादगार बना दिया. एक ऐसा डॉक्टर जो हर वक़्त अपने क्लाइंट्स के लिए स्पर्म की तलाश करता है. हर चीज़ में स्पर्म का रिफ़्रेंस और उनके क़माल के वन लाइनर्स दर्शकों को हंसा-हंसा कर लोट-पोट कर देते हैं. 

2- साहिल वैद (जेपी) – दिल बेचारा 

Source: indiatimes

सुशांत सिंह राजपूत की आख़िरी फ़िल्म होने के कारण फ़ैंस के लिए ‘दिल बेचारा’ बेहद ख़ास है. यूं तो ये फ़िल्म Kizzie औरह Manny के इर्द-गिर्द घूमती एक लव स्टोरी है लेकिन Manny के दोस्त जगदीश उर्फ़ जेपी की प्यारी हरकतों ने हर किसी का ध्यान अपनी ओर खींचा. ये कोई पहली बार नहीं था, जब उन्होंने अपनी परफ़ॉर्मेंस से दर्शकों पर ऐसा जादू किया हो, बल्कि इसके पहले हम्प्टी शर्मा की दुल्हनिया, बद्रीनाथ की दुल्हनिया और बैंक चोर जैसी फ़िल्मों में भी उन्होंने अपनी भूमिकाओं से दर्शकों को प्रभावित किया है. साहिल की न सिर्फ़ कॉमिक टाइमिंग बल्कि उनकी स्क्रीन प्रेसेंस भी कमाल है. 

3- वरुण शर्मा (चूचा) - फ़ुकरे 

Source: indiatimes

फ़ुकरे और फ़ुकरे रिटर्न्स के बाद वरुण शर्मा का निभाया गया क़िरदार चूचा घर-घर में फ़ेमस हो गया. चूचा वो क़िरदार रहा, जिससे हर शख़्स अपने फ़्रेंड सर्किल में किसी न किसी से रिलेट कर सकता था. वरुण शर्मा ने जिस भोलेपन और संजीदगी से इस कैरेक्टर निभाया, उसकी जितनी भी तारीफ़ की जाए कम है. इसी का नतीज़ा है कि पुलकित सम्राट और वरुण शर्मा की जोड़ी इंडियन सिनेमा की एक बेहद हिट जोड़ी साबित हुई है. 

4-अपारशक्ति खुराना (अब्बास शेख़) – लुका-छिपी 

Source: indiatimes

एक्टर आयुष्मान खुराना के छोटे भाई अपारशक्ति ने दंगल फ़िल्म से अपना डेब्यू किया था. पूर्व RJ अपारशक्ति ने न सिर्फ़ एक से बढ़कर एक बड़ी सुपरहिट मूवीज़ में काम किया, बल्कि उनके निभाए गए क़िरदार भी यादगर बन गए. लुका-छिपी में उन्होंने एक कैमरामैन और एक ऐसे दोस्त की भूमिका निभाई, जो अपने दोस्त को उसकी प्रेमिका के साथ लिव-इन में रहने में मदद करता है. अपारशक्ति ने इस क़िरदार को बड़ी ही ख़ूबसूरती से निभाया है, यही वजह उन्हें इस फ़िल्म में सबसे ज़्यादा नोटिस किया गया. 

5- सिद्धांत चतुर्वेदी (एम.सी. शेर) – गली बॉय 

Source: indiatimes

सिद्धान्त चतुर्वेदी ने गली बॉय में एक रैपर एम.सी. शेर का क़िरदार निभाया. उनका ये क़िरदार लोगों को इतना पसंद आया कि उन्हें नेशनल क्रश घोषित कर दिया गया. फ़िल्ममेकर्स को भी उनमें काफ़ी टैलेंट नज़र आया और अब वो 2005 में रिलीज़ हुई बंटी और बबली के पार्ट 2 में लीड रोल निभा रहे हैं. 

 6- लीज़ा हेडन (विजयलक्ष्मी) – क्वीन 

Source: indiatimes

क्वीन फ़िल्म हर मायने में बेहतर थी. इस फ़िल्म की सफ़लता ने एक तरह से फ़ीमेल लीड फ़िल्मों के दरवाज़े खोल दिये. कंगना ने इस मूवी में एक ऐसी लड़की की भूमिका निभाई, जो ख़ुद को तलाशने के लिए भारत से बाहर निकील है तो वहीं लीज़ा हेडन ने इस सफ़र में कंगना के ऐसी दोस्त विजयलक्ष्मी का क़िरदार निभाया है, जो उसे ज़िंदगी देखने का नया नज़रिया देती है. कंगना और लीज़ा की इस फ़िल्म में जोड़ी बेहद प्यारी नज़र आई है. 

7- सोहम मजूमदार (डॉ. शिवा) क़बीर सिंह 

Source: indiatimes

इस फ़िल्म को पसंद-नापसंद करने वाले बहुत हैं, लेकिन फ़िल्म में क़बीर सिंह और शिवा के बीच की दोस्ती हर किसी को पसंद आई. एक ऐसा दोस्त, जो न सिर्फ़ क़बीर का दर्द महसूस कर सकता है, बल्कि कई बार उसे ख़राब स्थितियों से बाहर भी निकाल कर लाता है. कबीर फ़िल्म में कई बार शिवा के साथ बुरा बर्ताव कर देता है, लेकिन इसके बावजूद शिवा उसका साथ नहीं छोड़ता. यही वजह है कि इस दोस्ती ने हर किसी के दिल में सोहम मजूमदार के इस क़िरदार के लिए जगह बना दी. 

8- दीपक डोबरियाल (पप्पी जी) – तनु वेड्स मनु/ तनु वेड्स मनु रिटर्न्स 

Source: thequint

पप्पी जी का क़िरदार तनु वेड्स मनु फ़्रेंचाइज़ी की सही मायने में जान है. पूरी फ़िल्म में दीपक डोबरियाल का ये क़िरदार हंसा-हंसा कर लोट-पोट होने पर मजबूर कर देता है. यही वजह है कि ओमकारा, मक़बूल और दिल्ली-6 सहित कई बड़े प्रोजेक्ट का हिस्सा रहे दीपक डोबरियाल को इस फ़िल्म से असल पहचान मिली. फ़िल्म में पप्पी जी का बोला गया डॉयलाग तो हम आज भी यूज़ करते हैं, ‘It is a very good question, but your question hurt me!’ 

9- अभिषेक बनर्जी (जना) – स्त्री 

Source: indiatimes

इस हॉरर कॉमेडी फ़िल्म में जना का क़िरदार कॉमेडी का जबर तड़का था. विक्की उर्फ़ राजकुमार राव के दो क़रीबी दोस्तों में से एक जना पूरी फ़िल्म लोगों को ख़ूब हंसाया. उसके डर और नासमझी ने पूरी फ़िल्म में लोगों को हंसा-हंसाकर आंसू निकाल दिए. हाल ही में पाताल लोक में निभाई गई उनकी भूमिका को लेकर भी अभिषेक को काफ़ी सराहना मिल रही है. 

10- अरशद वारसी (सर्किट) – मुन्ना भाई MBBS/ लगे रहो मुन्ना भाई 

Source: indianexpress

इस क़िरदार के बारे में क्या ही कहा जा सकता है. बेहतरीन बस बेहतरीन. ये क़िरदार अरशद वारसी के करियर का टर्निंग प्वाइंट बन गया. फ़िल्म में लीड रोल तो मुन्ना भाई यानि कि संजय दत्ता का था, लेकिन अब सर्किट के बिना इस फ़िल्म के बारे में दर्शक सोच तक नहीं सकते. अरशद की फ़िल्म में डॉयलाग डिलिवरी, स्टाइल और कॉमेडी टाइमिंग इतनी ज़बरदस्त रही है कि सर्किट का क़िरदार हमेशा के लिए यादगार बन गया. 

11- उदय चोपड़ा (अली) – धूम सीरीज़ 

Source: jaipurbeat

एक एक्शन-थ्रिलर फ़िल्म में उदय चोपड़ा ने एक ऐसा क़िरदार निभाया, जो दिल से रोमियो है और हरकतों से कॉमेडियन. अली जिसे लड़की देखते ही प्यार हो जाता है. इतना ही नहीं, फ़्यूचर की शादी, बच्चे, घर सब सपने में ही सोच लेता है. साथ ही सीरियल कॉप अभिषेक बच्चन के साथ उदय चोपड़ा के क़िरदार की नोंकझोंक को देखना लोगों को बेहद पंसद आता है. 

12- नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी (चांद नवाब) बजरंगी भाईजान 

Source: indiatimes

नवाज़ ने इस फ़िल्म में एक पत्रकार का क़िरदार निभाया है, जो असल ज़िंदगी के एक पत्रकार से इंस्पायर्ड है. चांद नवाब जो पाकिस्तान में बजरंगी उर्फ़ सलमान ख़ान की मदद करता है ताकि पाकिस्तान में मुन्नी को उसके परिवार से मिलाया जा सके. नवाज़ ने फ़िल्म में इतना ज़बरदस्त काम किया कि सलमान जैसा सुपरस्टार साथ होने के बाद भी उन्हें फ़िल्म में न सिर्फ़ अलग से नोटिस किया जा सकता है, बल्कि जिस सीन में भी वो रहे, उसकी जान बन गए. 

13- नेहा धूपिया (मारिया) – तुम्हारी सुलु 

Source: indiatimes

इस फ़िल्म में नेहा धूपिया ने मारिया का क़िरदार निभाया है, जो सुलु (विद्या बालन) की बॉस है. मारिया एक सपोर्टिव वुमेन है और अपने जूनियर्स के साथ बराबरी का व्यवहार करती है. सुलु को भी वो एक सुनहरा अवसर देती है और सफ़लता का जश्न मनाती है. वास्तव में, नेहा धूपिया एक बढ़िया एक्ट्रेस हैं और उन्हें अब तक उनकी प्रतिभा के मुताबिक काम नहीं मिला. उम्मीद है कि भविष्य में उन्हें अच्छे ऑफ़र्स आएंगे.