बॉलीवुड की फ़िल्मों में गानों और डांसिंग एक अहम भूमिका निभाते हैं, इतना की बॉलीवुड की अपनी एक डांसिंग स्टाइल बन गई है. कई फ़िल्में ऐसी हैं जो कहानी के लिए नहीं बल्कि उसके डांस के लिए हमेशा याद रह जाती है. लोग सालों-सालों तक उन आइकॉनिक स्टेप्स को फ़ंक्शंस और शोज़ में रिपीट करते रहते हैं.  

लीड एक्टर के साथ एक-साथ पीछे डांस करते बैकग्राउंड डांसर. ख़ैर, पहले बैकग्राउंड डांसर्स बस भीड़ में से चुने कुछ लोग हुआ करते थे मगर आज की तारीख़ में इन डांसर्स के लुक, मेक-अप, कॉस्ट्यूम पर उतना ही ध्यान दिया जाता है जितना की लीड एक्टर के ऊपर होता है.  

bollywood dance
Source: hindustantimes

उदहारण के तौर पर आप संजय लीला भंसाली की फ़िल्मों को ही ले लीजिये. 'बाजीराव मस्तानी' फ़िल्म में पिंगा गाने के लिए संजय ने ख़ासतौर से प्रोफ़ेशनल डांसर्स को बुलाया था. वैसे भी आम तौर पर ये बैकग्राउंड डांसर्स एक कोरियोग्राफ़र के अंदर काम करने वाली टीम होती है जिन्हें प्रोफ़ेशनली ट्रेन किया जाता है.      

यानी आज के समय में ये बैकग्रॉउंड आर्टिस्ट कोई 'एक्स्ट्रा' नहीं हैं बल्कि प्रोफ़ेशनल हैं. इन में से कुछ आगे चल कर कोरियोग्राफ़र के साथ असिस्टेंट का काम करते हैं, तो कुछ अपना स्टूडियो खोल लेते हैं.  

bollywood
Source: bookmyshow

अब ज़रा आपको बता दें कि टैलेंटेड डांसर हर महीने 50,000 से 1 लाख कमा सकते हैं.  

जैसा की आपको पहले बताया था कि ये डांसर्स एक ग्रुप या किसी कोरियोग्राफ़र के साथ काम करते हैं. इन्हें मंथली पे किया जाता है. ये फ़िल्मों से लेकर अवॉर्ड शोज़ में सब जगह डांस करते हैं.  

Hindustan Times को दिए अपने एक इंटरव्यू में डांसर, नवीन राजैया बताते हैं "कृपया मुझ पर ‘बैकअप डांसिंग’ या मुझे 'एक्स्ट्रा' न बुलाएं. इसे बॉलीवुड डांसिंग कहें. मैं एक प्रशिक्षित डांसर हूं और मैं जो भी करता हूं उसे कोई और नहीं कर सकता है." 

तो अब आप समझ गए?