Top Bollywood Comedy Films: अगर पूरा दिन स्ट्रेस में बीता हो, तो दिन के आख़िर में कोई मज़ेदार सी कॉमेडी मूवी मूड के साथ ही दिल भी ख़ुश कर देती हैं. ऐसे कई बॉलीवुड के डायरेक्टर्स और प्रोड्यूसर्स हैं, जिन्होंने बेहतरीन कॉमेडी मूवीज़ हिंदी सिनेमा को दी हैं. उनकी मूवीज़ देखकर हम ख़ुद को दांत फाड़ने से रोक नहीं पाते. लेकिन आज भी ज़्यादातर लोग ऐसे हैं, जो कोई भी मूवी देखने से पहले IMDb की रेटिंग चेक करते हैं. 

तो आइए आज हम आपको IMDb रेटिंग के हिसाब बॉलीवुड की टॉप 10 कॉमेडी मूवीज़ के बारे में बता देते हैं.

1. गोलमाल (1979)

ऋषिकेश मुख़र्जी की सबसे फ़ेवरेट कॉमेडी मूवी में से एक ‘गोलमाल‘ ने अमोल पालेकर को घर-घर में पहचान दिला दी थी. 8.5 की IMDb रेटिंग के साथ ये मूवी किसी स्टीरियोटिपिकल हीरो के बारे में नहीं है, जो विलेन से लड़ता है. इसके बजाय ये एक आदमी के बारे में है, जिसके ज़िंदगी की परिस्थितियों से निपटने के लिए बोले गए झूठ अक्सर उसे गड्ढे में धकेल देते हैं. 

Top Bollywood Comedy Films
gadgets360

ये भी पढ़ें: ‘अंदाज़ अपना अपना’ के साथ भले ही ब्लॉकबस्टर न जुड़ा हो, पर ऐसी क्लासिक कॉमेडी दोबारा नहीं बन सकती

2. 3 इडियट्स (2009)

आल इज़ वेल’ के ख़ूबसूरत मंत्र से लेकर अपने टर्म्स पर ज़िंदगी जीने के लिए सामाजिक आदर्श को रिजेक्ट करने तक, ये ख़ूबसूरत मूवी डार्क और मुश्किल भरे दिनों के लिए परफ़ेक्ट वाच है. इसको IMDb की 8.4 रेटिंग मिली है.  

theobjectivestandard

3. जाने भी दो यारों (1983)

साल 1983 में आई ‘जाने भी दो यारों’ एक डार्क सटायर कॉमेडी फ़िल्म है, जिसे कुंदन शाह ने डायरेक्ट किया था. ये भारतीय राजनीति, नौकरशाही, न्यूज़, मीडिया और बिज़नेस में बड़े पैमाने पर हो रहे भ्रष्टाचार पर फ़ोकस करती है. इसे IMDb की 8.3 रेटिंग मिली है.

indianexpress

4. खोसला का घोंसला

8.3 की IMDb की रेटिंग के साथ, ‘खोसला का घोंसला‘ अब तक की सबसे मज़ेदार फ़िल्मों में से एक है. पॉवर-पैक परफॉरमेंस और एक एवरेज मिडिल क्लास व्यक्ति के रिलेटेबल चित्रण के साथ, ये मूवी फ़नी होने के साथ ही रियल भी है. ये फ़िल्म दिल्ली में रहने वाले एक रिटायर्ड मिडिल क्लास आदमी पर आधारित है, जो अपने बेटों और दोस्तों की मदद से एक ठग प्रॉपर्टी डीलर से अपनी प्रॉपर्टी वापस लेने के लिए पूरी जी-जान झोंक रहा है.  

hotstar

5. चुपके चुपके (1975)

धर्मेन्द्र, अमिताभ बच्चन, शर्मिला टैगोर, ओम प्रकाश, जया भादुड़ी, असरानी जैसी स्टारकास्ट के साथ फ़िल्म ‘चुपके चुपके‘ सबसे फ़नी मूवीज़ में से एक है. ये मूवी इस बात का सटीक उदाहरण है कि कैसे बिना किसी चीप ह्यूमर के भी एक मूवी फ़नी हो सकती है. इसे 8.3 रेटिंग मिली है. 

6. अंगूर (1982)

फ़िल्म ‘अंगूर‘ की IMDb रेटिंग 8.3 है. ये विलियम शेक्सपियर की बुक ‘कॉमेडी ऑफ़ एरर्स‘ का रूपांतरण है, जिसमें संजीव कुमार और देवेन वर्मा लीड रोल्स में हैं. ये फिल्म संजीव कुमार-देवेन वर्मा की जोड़ी को एक ही शहर में घूमते हुए दिखाती है, जिससे ग़लत पहचान की कई घटनाएं होती हैं. ये मूवी आपको शुरू से अंत तक हंसाएगी.

hotstar

7. छोटी सी बात (1976)

बासु चटर्जी की फ़िल्म ‘छोटी सी बात’ में अशोक कुमार को ‘डेट डॉक्टर’ के रूप में दिखाया गया है. वहीं, अमोल पालेकर इस मूवी में अपनी लेडी लव (विद्या सिन्हा) को पाने की हर संभव कोशिश करते हुए दिखाई दिए हैं. इसमें असरानी भी मुख्य भूमिका में हैं, जो लीडिंग लेडी का अटेंशन पाने के चक्कर में अमोल पालेकर के ‘दुश्मन’ बने हुए हैं. IMDb रेटिंग 8.3 के साथ, ये मूवी एक परफ़ेक्ट कॉमेडी है.  

primevideo

ये भी पढ़ें: कॉमेडी के ज़रिये हंसाने वाले इन 7 एक्टर्स ने सीरियस रोल कर लोगों को डराया और रुलाया भी है

8. छिछोरे (2019)

इस फ़िल्म में दिवंगत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत, श्रद्धा कपूर और वरुण शर्मा हैं. ये मूवी प्यार, दोस्ती, पेरेंटहुड और बड़े होने की कहानी बताती है. इस मूवी को 8.2 IMDb रेटिंग मिली है. 

9. क्वीन (2013)

IMDb की 8.2 रेटिंग के साथ, कंगना रनौत की फ़िल्म ‘क्वीन‘ उन दिनों के लिए परफ़ेक्ट है, जब आप लो फ़ील कर रहे हों. कैसे उनका कॉन्फिडेंस पूरी मूवी में धीरे-धीरे मज़बूत होता है, ये हमें उस समय की याद दिलाता है, जब हम ज़िंदगी की कुछ कठोर चुनौतियों से लड़ रहे होते हैं.  

timesofindia

10. ज़िंदगी ना मिलेगी दोबारा (2011)

इस मूवी को इसमें दिखाए गए हल्के-फुल्के पल स्पेशल बनाते हैं. ये मूवी एक बहुत ही इम्पोर्टेंट मैसेज देती है. वो ये है कि चाहे आप कितने भी सक्सेसफ़ुल क्यों ना हो जाओ, आपको अपने दोस्तों की कंपनी में ही शांति मिलेगी. 

indianexpress

इन मूवीज़ को किसी भी टाइम देख लो, मौज आ जाती है.