निर्देशक अनुभव सिन्हा ने Article 15 नाम से एक फ़िल्म बनाई है. उनके अनुसार, कहानी के केंद्र में कुछ सच्ची घटनाए हैं और एक लकीर है, जो संविधान द्वारा खींची गई है. संविधान का अनुच्छेद 15 समानता के अधिकार की बात करता है.

Source: JustShowBiz

फ़िल्म आज ही रिलीज़ हुई है लेकिन कुछ लोग ट्रेलर देख कर ही बौराए हुए थे. कई समूह इस फ़िल्म को उनकी 'जाति' के बदनाम करने की साज़िश बता रहे हैं और फ़िल्म का विरोध कर रहे हैं.

इस वजह से फ़िल्म के निर्देशक अनुभव सिन्हा ने अंतरराष्ट्रीय ब्राह्मण महासंघ के नाम एक खुला पत्र लिख कर ये आश्वासन दिया कि उनकी फ़िल्म किसी जाति को बदनाम नहीं कर रही.

फ़िल्म जैसी भी हो लेकिन इसे थिएटर में 'कबीर सिंह' का सामना करना पड़ेगा, जिसका असर बॉक्स ऑफ़िस कलेक्शन पर पड़ेगा.