पाकिस्तान इंडस्ट्री के ऐसे बहुत से सितारे हैं, जिन्होंने सिनेमाजगत को एक नये मुकाम तक पहुंचाया. मेहनत और टैलेंट से इन्होंने सिनेमाजगत में अपनी गहरी छाप छोड़ी और लोगों के दिलों में ख़ास जगह बनाई. इन्हीं कलाकारों में एक नाम वहीद मुराद का भी है. वहीद मुराद पाकिस्तान सिनेमा के चमकते सितारे थे, जिनकी लोकप्रियता कई बड़े सितारों पर भारी पड़ रही थी. वहीद मुरीद एक बेहद टैलेंटेड और जादुई कलाकार थे. यही नहीं, वो साउथ एशिया के सबसे प्रभावशाली स्टार्स में एक भी माने जाते थे.  

Source: amazon

फ़ैंस थे स्टाइल के कायल 

वहीद मुराद इतने प्रतिभावान कलाकार थे कि वोअपने टैलेंट से हर किसी को अपना मुरीद बना लेते थे. वो एक फ़ैशनेबल और स्टाइलिश अभिनेता थे. जिन्हें उठने-बैठने से लेकर प्रभावशाली तरीक़े से बातचीत करने का तरीक़ा पता था. यही वजह थी कि लोग उनसे मिलते ही उनके फ़ैन बन जाते थे.

वहीद मुराद
Source: tribune

कैसे हुई एक्टिंग की शुरुआत?

वहीद मुराद ने करियर की शुरुआत निर्माता के तौर पर की थी, लेकिन कुछ इत्तेफ़ाक हुए और वो निर्माता से अभिनेता बन गये. उन्होंने 1966 में फ़िल्म 'अरमान' से अभिनय की दुनिया में क़दम रखा और धूम मचा दी. उनकी डेब्यू फ़िल्म ने सारे रिकॉर्ड तोड़ डाले और इसी के साथ सिनेमा को एक टैलेंटेड सितारा मिला. कमाल की बात ये है कि उनकी पहली फ़िल्म 75 हफ़्तों तक सिनेमाघरों में लगी रही और इसके बाद उन्होंने जितनी फ़िल्में की सब हिट साबित हुईं. 

अरमान
Source: pakistanpoint

शराब की लत ने ली ज़िंदगी 

वहीद मुराद ने मेहनत से कामयाबी के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिये थे, लेकिन वक़्त किसी के पास टिक कर कहां रहता है. एक समय आया जब उन्हें फ़िल्मों में सेकेंड लीड रोल मिलने लगे. इस चीज़ को लेकर वो धीरे-धीरे डिप्रेशन में जाने लगे और एक वक़्त आया जब वो शराब में डूब गये. शराब की वजह से वहीद को कई बीमारियों ने घेर लिया.

Pakistani Actor
Source: reloaded

परेशानियां यहीं नहीं रुकी 1983 में उनकी ज़िंदगी में एक बड़ा हादसा हुआ और उनकी गाड़ी पेड़ से टकरा गई. इस एक्सीडेंट में उनके काफ़ी चोट आई, जिसके बाद उन्हें सर्जरी कराने के लिये कहा गया. 

Pak Actor
Source: pinimg

कमरे में मिली लाश 

सर्जरी से एक दिन पहले अभिनेता का बर्थडे था, जिसे उन्होंने धूम-धाम से मनाया था. जन्मदिन के अगले दिन जब उन्हें उठाने के लिये दरवाज़ा खटखटाया गया, तो वो कमरे में मृत पड़े हुए थे. ये नज़ारा हर किसी के लिये हैरान करने वाला था. वहीद मुरीद की हत्या हुई थी या उन्होंने आत्महत्या की थी? इस बात का आज तक पता नहीं चल पाया है. वो इस आज दुनिया में मौजूद नहीं हैं, लेकिन उनके अभिनय आज भी उन्हें ज़िंदा रखा है.