इन दिनों सोशला मीडिया पर साड़ी पहनें और देसी अंदाज़ में गाती एक लड़की का गाना जमकर वायरल हो रहा है. ये गाना भोजपुरी भाषा में है और इसके बोल हैं "यूपी में का बा". up main ka ba song गाना मात्र 1 मिनट 19 सेकंड हैं, लेकिन गाने के अंदर जिन-जिन चीज़ों को समेटा गया है, उसने सोशल मीडिया पर खलबली-सी मचा दी है. इस गाने को गाने वाली लड़की का नाम है नेहा सिंह राठौर (Neha Singh Rathore). आइये, इस ख़ास लेख में जानते हैं कौन हैं नेहा सिंह राठौर और क्यों इनका ये गाना हो रहा है वायरल. 

आइये, अब विस्तार से जानते हैं कौन हैं Neha Singh Rathore. 

कौन हैं नेहा सिंह राठौर?  

Neha Singh Rathore
Source: labuwiki

Neha Singh Rathore एक भोजपुरी गायिका हैं, जो लोकगीत के साथ-साथ व्यंग से भरे और सामाजिक मुद्दों पर गाती हैं और कविताएं लिखती हैं. 25 वर्षीय नेहा बिहार के कैमूर ज़िले के रामगढ़ की रहने वाली हैं. उन्होंने अपनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई कानपुर विश्वविद्यालय से की थी. 

शुरू किया गाना  

neha singh rathore
Source: youtube

जानकारी के अनुसार, Neha Singh Rathore 2018 से गाना गा रही हैं. वो अक्सर भोजपुरी भाषा में गीत गाती हैं और अपने गीत में ख़ास अंदाज़ में विभिन्न सामाजिक और राजनीति मुद्दे उठाती हैं. यही वजह है कि यूट्यूब से लेकर फेसबुक, ट्वीटर तक पर उनके गाने शेयर किए जाते हैं. सोशल मीडिया पर उनकी अच्छी खासी फ़ैन फॉलोइंग है. यूट्यूब पर उनके 3 लाख से ज़्यादा सब्सक्राइबर हैं. वहीं, फ़ेसबुक पर उन्हें क़रीब 3 लाख 87 हज़ार लोग फ़ॉलो करते हैं.

दिलचस्प होते हैं उनके गाने के विषय 

neha singh rathore
Source: youtube

नेहा सिंह राठौर (Neha Singh Rathore) को आज लाखों लोग फॉलो करते हैं. इसकी ख़ास वजह है उनके गानों के दिलचस्प विषय. वो अपने गीतों में बेराजगारी से लेकर नेताओं की पोल खोलती नज़र आती हैं. 1 साल पहले उनका बिहार के राजनीति हाल पर गाया गया गीत “ला सुना जवाब... का बा बिहार में?” काफी पसंद किया गया था. इसके अलावा, उनका “बेरोज़गार बानी साहेब रोज़गार मांगीला” गाना यूट्यूब पर 4 लाख से ज़्यादा लोगों द्वारा देखा गया था. अगर आप उनके यूट्यूब चैनल पर जाएं, तो आपको और भी कई दिलचस्प विषयों पर गाने मिल जाएंगे. इसके अलावा, वो त्योहार पर भी ख़ासकर झठ पर्व भी गाती हैं. 

"यूपी में का बा" क्यों हो रहा है इतना वायरल?  

नेहा सिंह राठौर के संक्षिप्त परिचय के बाद अब आते हैं असल मुद्दे पर कि उनका "यूपी में का बा" गाना फेसबुक से लेकर ट्ववीटर पर इतना वायरल क्यों हो रहा है? जैसा कि आपको पता होगा कि यूपी में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. सियासी माहौल गर्म हैं और महामारी के बीच राजनीति दल चुनाव प्रसार में कोई कमी नहीं छोड़ रहे हैं. वहीं, डिजिटल तरीक़ों से भी चुनाव प्रसार किया जा रहा है. 

ravi kishan song
Source: youtube

इस बीच 15 जनवरी 2022 को भाजपा नेता और अभिनेता रवि किशन का एक गाना यूट्यूब पर रिलीज़ किया गया था. इस गाने के बोल हैं “यूपी में सब बा”. इस गाने को रवि किशन ने ख़ुद थोड़ा रैप अंदाज़ में गाना गाया है. इन्होंने इस गाने में मौजूदा सरकार की पूरी बढ़ाई कर डाली है कि यूपी में सब कुछ है. वो गाने में गाने नज़र आते हैं कि “यूपी में ग़रीब के मकान से लेकर किसान का सम्मान तक है. जो यूपी में कभी नहीं रहा वो अब सब कुछ है”. साथ ही वो यह भी कहते हैं कि “योगी के सरकार बा और विकास के बहार बा”

इसी गाने के जवाब देते हुए और यूपी की मौजूदा हक़ीकत बयां करते हुए भोजपुरी गायिका Neha Singh Rathore ने गीत लिखा और गाकर यूट्यब पर डाला दिया. ये गाना ठीक सांसद रवि किशन के गाने के एक दिन बाद रिलीज़ किया गया था. इस गाने को अब तक यूट्यूब पर 6 लाख से ज़्यादा लोग देख चुके हैं और सोशल मीडिया पर ये तेज़ी से वायरल हो रहा है. 

क्या है इस गाने में  

Neha Singh Rathore
Source: youtube

इस गाने को अगर आप सुनेंगे, तो पता चलेगा कि गायिका नेहा ने यूपी की कड़वी सच्चाई को बयां कर डाला है. गाने के बोल हैं “यूपी में का बा”. अपने गाने में उन्होंने यूपी के हाथरस दुष्कर्म से लेकर लखीमपुर में किसानों पर गाड़ी चढ़ाने तक की घटना का ज़िक्र किया है. गाने में नेहा कहती नज़र आती हैं कि “बाबा के सरकार बा…खतम रोज़गार बा”. साथ ही वो गाने में ये भी कहती हैं कि “कोरोना से लाखन मर गईल, लाशन से गंगा भर गईल”.