Kannada Film Kantara: तमिल और तेलगु के बाद कन्नड़ सिनेमा ने पहली बार KGF फ़िल्म के ज़रिए हिंदी में अपनी ताक़त का अहसास कराया था. साल 2022 में रिलीज़ हुई KGF 2 हिंदी बॉक्स ऑफ़िस पर 400 करोड़ रुपये से ज़्यादा की कमाई करने वाली पहली कन्नड़ फ़िल्म बनी थी. KGF के बाद कन्नड़ फ़िल्मों हिंदी में डब का सिलसिला जारी है. इसी साल ‘777 चार्ली’, ‘विक्रांत रोणा’ और ‘जेम्स’ जैसी बेहतरीन फ़िल्में भी दर्शकों को पसंद आई थीं. इस बीच एक और कन्नड़ फ़िल्म ने एंट्री मारी है. हिंदी में डब इस फ़िल्म ने अपनी ज़बरदस्त कहानी के दम पर हिंदी भाषी दर्शकों का दिल जीत लिया है.

metrosaga

दरअसल, हम कन्नड़ फ़िल्म कांतारा (Kantara) की बात कर रहे हैं. 30 सितंबर, 2022 को कन्नड़ सिनेमाघरों में रिलीज़ हुई ‘कांतारा’ ने कुछ ही दिनों में 100 करोड़ क्लब में एंट्री मार ली थी. कन्नड़ में ताबड़तोड़ कमाई को देखते हुये 2 हफ़्ते बाद इस फ़िल्म का हिंदी डब वर्ज़न भी रिलीज़ कर दिया गया है. हिंदी भाषी दर्शकों को भी ये फ़िल्म काफ़ी पसंद आ रही है. साउथ ही नहीं कई बड़े बॉलीवुड स्टार्स भी इस फ़िल्म की तारीफ़ कर चुके हैं. सोशल मीडिया पर भी फ़िल्म को लेकर काफ़ी बज़ है. 

News18

चलिए जानते हैं आख़िर ऐसी क्या ख़ास बात है इस फ़िल्म की, जो दर्शकों इसे इतना पसंद कर रहे हैं?

आख़िर क्या है Kantara की कहानी

फ़िल्म में सन 1847 में कनार्टक के मंगलौर में घटी एक कहानी दिखाई गई है. कहानी मंगलौर के एक राजा की है, जो अपने घर सुख-शांति के लिए वहां के स्थानीय देवता ‘पंजुरी’ की मूर्ति लाने पर ग्रामीणों को काफ़ी बड़ी भूमि दान करता है. देवता ने तब राजा से कहा था कि अगर उसने कभी ये भूमि वापस मांगी, तो वो उसे माफ़ नहीं करेंगे. लेकिन सन 1970 में राजा के वंशज को लालच आ जाता है और वो भूत कोला (स्थानीय पूजा) के दौरान देवता बने नर्तक पर सवाल उठाते हुए उनसे दान की हुई भूमि वापस मांगता है. इससे देवता नाराज़ हो जाते हैं और वो नर्तक समेत जंगल में जाकर ग़ायब हो जाते हैं. इसके कुछ दिन बाद ही राजा के वंशज की भी अचानक मृत्यु हो जाती है.

दरअसल, फ़िल्म की असल कहानी सन 1990 में शुरू होती है. फ़िल्म में दिखाया गया है कि राजा के एक वंशज साहब (अच्युत कुमार) की नज़र उस ज़मीन पर है. लेकिन कंबाला (भैंसों की रेस) खेल का विजेता शिवा (ऋषभ शेट्टी) गांव का रखवाला है. शिवा के पिता देवता बनकर पहले ही जंगल में ग़ायब हो चुके थे. इसलिए उसकी मां उसे लेकर काफ़ी परेशान रहती है. इस दौरान इलाक़े में नए फ़ॉरेस्ट ऑफ़िसर मुरलीधर (किशोर कुमार) की तैनाती होती है, जो जंगल को ‘रिज़र्व फ़ॉरेस्ट’ बनाना चाहता है. इसलिए राजा के वंशज ‘साहब’ उसे पसंद नहीं करता. 

firstpost

शिवा (ऋषभ शेट्टी) की गर्लफ्रेंड लीला (सप्तमी गौड़ा) फ़ॉरेस्ट गार्ड है और मुरलीधर की टीम का हिस्सा है. इंटरवल के बाद कहानी बेहद दिलचस्प मोड़ लेती है. फ़िल्म का क्लाईमैक्स आपको हिलाकर रख देगा. क्या शिवा अपने पूर्वजों को देवता की बदौलत मिली ज़मीन को साहब से बचा पाता है या फिर वो इस जंग में हार जाता है? ये जानने के लिए आपको फ़िल्म दिखनी पड़ेगी. 

gadgets360

फ़िल्म की ख़ास बात ये है कि आख़िर में दर्शकों के लिए इसके सीक्वल की गुंजाइश छोड़ी गई है. कहानी के साथ-साथ हीरो ऋषभ शेट्टी की दमदार एक्टिंग ने इस फ़िल्म को ख़ास बना दिया है. रिषभ ने ही फ़िल्म की कहानी लिखी है और डायरेक्टर भी की है. इसके ज़बरदस्त बैकग्राउंड स्कोर और लाजवाब सिनेमटोग्रफ़ी ने इस फ़िल्म को IMDb पर 9.5 रेटिंग मिली है. अगर आप एक बेहतरीन एक्शन थ्रिलर फ़िल्म देखना चाहते हैं, तो ‘कांतारा’ आपको निराश नहीं करेगी.

केवल 16 करोड़ रुपये के बजट में बनी कांतारा (Kantara) 15 दिन में ही 100 करोड़ रुपये के क्लब में शामिल हो गई है. इस हिसाब से फ़िल्म बॉक्स ऑफ़िस पर ‘ब्लॉकबस्टर’ बन चुकी है और प्रॉफ़िट के मामले में KGF का रिकॉर्ड भी तोड़ चुकी है. इस फ़िल्म का लाइफ़टाइम वर्ल्डवाइड कलेक्शन 170 करोड़ रुपये के आसपास रहने वाला है.