महिमा चौधरी ने साल 1997 में फ़िल्म 'परदेस' से बॉलीवुड के किंग ख़ान शाहरुख़ के साथ फ़िल्मी दुनिया में धमाकेदार एंट्री की थी. सुभाष घई द्वारा निर्देशित इस मूवी से वो रातों-रात स्टार बन गई थीं. मगर इस मूवी के रिलीज़ होने के कुछ साल बाद वो लाइम लाइट से दूर हो गई थीं. ऐसा क्यों हुआ और इसका कारण क्या था इस बात का खुलासा महिमा चौधरी ने अपने एक इंटरव्यू में किया है.

महिमा चौधरी ने पिंकविला से हाल ही में अपने करियर के बारे में बात की. उनके साथ किए गए वीडियो इंटरव्यू में उन्होंने अपनी लाइफ़ से जुड़े कई दिलचस्प ख़ुलासे किए हैं. उन्होंने बताया कि 1999 में वो एक हादसे का शिकार हुईं थीं, जिसने उनकी लाइफ़ को काफ़ी हद तक प्रभावित किया था.

mahima chaudhary
Source: pinterest

महिमा ने बताया कि वो 1999 में बेंगलुरू में फ़िल्म 'दिल क्या करे' की शूटिंग कर रही थी. इस मूवी में उनके को-स्टार थे अजय देवगन. एक दिन शूटिंग से लौटते समय उनकी कार को एक ट्रक ने टक्कर मार दी. ये एक्सिडेंट इतना ख़तरनाक था कि कार के शीशे के टुकड़े उनकी चेहरे में घुस गए.

mahima chaudhary
Source: superstarsbio

काफ़ी देर तक वो सड़क पर बेहोश पड़ी रहीं. कुछ समय बाद किसी ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया. महिमा उस दर्दनाक हादसे को याद करते हुए कहा- 'मुझे लगा मैं मर रही हूं और किसी ने भी वहां मेरी मदद नहीं की. हॉस्पिटल पहुंचने के कुछ देर बाद मेरी मां मेरे पास पहुचीं. बाद में अजय देवगन आए और दोनों ने कुछ बात की. मैं फिर उठी और अपना चेहरा देखा. उस वक़्त मैं डर गई थी. इसके बाद मेरे चेहरे की सर्जरी हुई और डॉक्टर्स ने मेरे चेहरे से 67 ग्लास के टुकड़े निकाले'.  

mahima chaudhary
Source: cinestaan

उन्होंने बताया कि इस सर्जरी से उबरने में महिमा को काफ़ी लंबा समय लगा. वो हमेशा घर में ही रहती थीं. उन्हें सूर्य की अल्ट्रा वायलेट किरणों से ख़ुद को बचाना था नहीं तो उनके चेहरे पर दाग रह जाते. महिमा ने बताया कि ये बहुत ही मुश्किल समय था. इसमें उनके परिवार ने उनका पूरा साथ दिया. वो आईना नहीं देखती थीं और महिमा को लगता था कि उन्हें अब कोई काम नहीं देगा. 

mahima chaudhary
Source: mid-day

इसलिए उन्होंने ख़ुद को पूरी दुनिया से काट लेना ही बेहतर समझा. महिमा कहती हैं- 'मैंने इस बारे में किसी को नहीं बताया क्योंकि तब लोग मुझे इतना सपोर्ट नहीं करते. वो कहते ओह… इसका चेहरा ख़राब हो गया किसी और को साइन कर लेते हैं. इसलिए मैं लोगों से दूर रही.' 

इस हादसे के काफ़ी समय बाद फ़िल्म 'प्यार कोई खेल नहीं' में सन्नी देओल के साथ उन्होंने एक गाना शूट किया था. इसके लिए डिज़ाइनर नीता लुल्ला ने उन्हें प्रेरित किया था. अक्षय कुमार ने भी अपनी फ़िल्म 'धड़कन' में कैमियो रोल करने का मौक़ा दिया था.

mahima chaudhary
Source: patrika

महिमा ने साल 2006 में आर्किटेक्ट बॉबी मुखर्जी से शादी की थी. 2013 में इनका तलाक़ हो गया था. दोनों की एक बेटी है जिसका नाम आरियाना है, जो महिमा के साथ ही रहती हैं. 

Entertainment के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.