पद्मिनी कोल्हापुरे(Padmini Kolhapure) 80 के दशक की मशहूर एक्ट्रेस हैं. उन्होंने बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट ही फ़िल्मों में काम करना शुरू कर दिया था. ‘यादों की बारात’, ‘किताब’ और ‘दुश्मन दोस्त’ में इन्होंने बाल कलाकार के रूप में काम किया. यूं तो वो सिंगर बनना चाहती थीं, लेकिन नियती को कुछ और ही मंजूर था और बन गई अभिनेत्री.   

Kalam Times

पद्मिनी की पहली सुपरहिट फ़िल्म थी ‘प्रेम रोग’. इस फ़िल्म के बाद उनकी गिनती 80 के दशक की हिट एक्ट्रेस में होने लगी थी. ‘सौतन’, ‘वो सात दिन’ और ‘प्यार झुकता नहीं’ उनकी कुछ यादगार फ़िल्में हैं. आज हम आपको इनसे जुड़ा एक दिलचस्प क़िस्सा बताएंगे, जो जुड़ा है ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स(Prince Charles)से.  

फ़िल्म की शूटिंग देखने पहुंचे प्रिंस चार्ल्स

hindustantimes

बात 1980 की है जब प्रिंस चार्ल्स भारत दौरे पर आए हुए थे. उन्होंने अचानक बॉलीवुड फ़िल्मों की शूटिंग देखने का मन हुआ. तब प्रिंस चार्ल्स को मुम्बई के एक स्टूडियो में ले जाया गया. स्टूडियो था राजकमल जिसमें पद्मिनी कोल्हापुरे फ़िल्म ‘आहिस्ता-आहिस्ता’ की शूटिंग कर रही थीं. उनके आने की बात पता चली तो वो ख़ुद प्रिंस चार्ल्स से मिलने पहुंचीं. यहां एक्ट्रेस शशिकला ने प्रिंस की आरती उतारी और पद्मिनी कोल्हापुरे ने उन्हें गालों पर Kiss करते हुए उन्हें माला पहनाई थी.   

pinimg

यही वो चीज़ थी जो लोगों ने नोटिस कर ली. दरअसल, उन दिनों भारत में किसी एक्ट्रेस का यूं किसी को Kiss कर लेना आम बात नहीं थी. ये वो दौर था जब फ़िल्मों में भी Kissing Scene में 2 फूलों को दिखाया जाता था. इसलिए इस बात का बतंगड़ बनना लाज़मी था. ऊपर से उस वक़्त प्रिंस चार्ल्स की शादी भी नहीं हुई थी. 

tribuneindia

ये बात लोगों के बीच इतनी फैली की ब्रिटेन तक जा पहुंची. एक इंटरव्यू के दौरान पद्मिनी कोल्हापुरे ने बताया था कि एक छोटे से Kiss की वजह से उन्हें एक बार शर्मिंदगी महसूस करनी पड़ी थी. पद्मिनी कोल्हापुरे ने कहा-‘इस घटना के बाद एक बार मेरा ब्रिटेन जाना हुआ जहां इमिग्रेशन ऑफ़िसर ने मुझसे पूछ लिया था कि आप वही हैं ना जिन्होंने प्रिंस चार्ल्स को Kiss किया था?’   

ये बात सुन उस वक़्त पद्मिनी को Embarrassing फ़ील हुआ था. उन्होंने इंटरव्यू में कहा था कि ये बस गाल पर एक Kiss था, जो विदेशों में कोई बड़ी बात नहीं है. मगर मीडिया ने इसमें कुछ और ही निकाल लिया था. पद्मिनी ने ये भी बताया था कि उन्हें ‘एक दूजे के लिए’, ‘सिलसिला’ और ‘तोहफ़ा’ जैसी फ़िल्मों का ऑफ़र मिला था, लेकिन किन्हीं कारणों से उन्होंने इन्हें रिजेक्ट कर दिया था. फ़िलहाल वो मराठी और दूसरी फ़िल्मों में सपोर्टिंग रोल करती नज़र आती हैं.