बॉलीवुड के एवरग्रीन एक्टर थे शम्मी कपूर. उनकी डांसिंग स्टाइल के लोग दीवाने थे और आज भी हैं. तभी तो उन्हें एक ज़माने में इंडिया का Elvis Presley कहा जाता था. उन्होंने लगभग 200 फ़िल्मों में काम किया है, जिनमें 'तुमसा नहीं देखा', 'कश्मीर की कली', 'जानवर' और 'पगला कहीं का' ‘दिल देके देखो’, ‘जंगली’, ‘प्रोफ़ेसर', चाइना टाउन’, ‘ब्लफ मास्टर’, जैसी कई शानदार फ़िल्मों के नाम शामिल हैं.

Source: wordpress

शम्मी कपूर ने इस दौरान इंडस्ट्री के बड़े-बड़े स्टार्स के साथ काम किया, लेकिन एक स्टार था जिसके साथ काम करने की तमन्ना उनके दिल में थी. ये थे बॉलीवुड के दादा मुनी अशोक कुमार. उन्हें ये मौक़ा मिला तो ज़रूर, लेकिन वो भी एक एड के रूप में. और इस एड की वजह से राज कपूर उनसे ख़फा हो गए और सबके सामने एयरपोर्ट पर उनको डांट तक लगा दी.

Source: blogspot

दरअसल, जो एड उन्होंने किया था वो एक पान मसाले का एड था. इसके लिए जब शम्मी कपूर को अप्रोच किया गया तो वो बिना किसी फ़ीस के इसमें काम करने को तैयार हो गए. कारण थे अशोक कुमार जिनके साथ काम करने की ख़्वाइश उनकी अभी तक अधूरी थी.

ये एड पान पराग का था. अशोक कुमार और शम्मी कपूर ने इसमें दहेज प्रथा पर तंज कसा था. इसकी मशहूर लाइन आपने ज़रूर सुनी होगी- ‘बारातियों का स्वागत पान पराग से होना चाहिए.’

इस विज्ञापन नें अशोक कुमार लड़की वाले बने थे और शम्मी कपूर लड़के वाले. ख़ैर, एड बना और हिट भी हो गया. इसके कुछ दिनों बाद पूरा कपूर खानदान विदेश से छुट्टी मनाकर लौट रहा था. तभी एयरपोर्ट पर लोग शम्मी कपूर को देखकर पान पराग-पान पराग कहकर पुकारने लगे. लोगों ने उन्हें घेर लिया और उनके साथ तस्वीरें खिंचवाने लगे.

पर राज कपूर को ये बात बहुत बुरी लगी. उन्होंने तब तक ये एड नहीं देखा था. भीड़ के हटने पर उन्होंने शम्मी कपूर को एयरपोर्ट पर ही डांटना शुरू कर दिया. उन्होंने कहा- 'क्या तुम्हें ख़ुद पर शर्म नहीं आती, तुमने इतने सालों की मेहनत पर पानी फेर दिया. कहां गई तुम्हारी वो ‘जंगली’, ‘राजकुमार’, ‘प्रोफ़ेसर’, ‘कश्मीर की कली’, ‘तीसरी मंज़िल’ की सफ़लता की कहानियां? अब तुम्हें लोग पान पराग के लिए याद कर रहे हैं.'

ये सुनने के बाद शम्मी कपूर भी शॉक रह गए थे. उन्होंने इस क़िस्से का ज़िक्र अपने यूट्यूब ब्लॉग 'Shammi Kapoor Unplugged' में किया है. इसे याद करने के बाद वो कहते हैं कि- 'राज कपूर जी अपनी जगह ठीक थे, लेकिन वो नहीं जानते थे कि मैंने ये एड क्यों किया. मैं अशोक कुमार जी का बड़ा फ़ैन था और इतने लंबे करियर में कभी उनके साथ काम करने का मौक़ा नहीं मिला. और जब ये मौक़ा मिला तो इसके लिए मैं ना नहीं कह पाया.'

Source: indiatimes

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ये पहला और आखिरी मौक़ा था जब अशोक कुमार और शम्मी कपूर एक साथ कैमरे के सामने आये थे.

Entertainment के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.