हिंदी क्लासिकल म्यूज़िक की दुनिया में उस्ताद बड़े गुलाम अली ख़ान साहब को 20वीं सदी का तानसेन कहा जाता है. उनके द्वारा गाई गई ठुमरी सुनकर आज भी लोग झूमने लगते हैं. उन्होंने हिंदुस्तानी क्लासिकल म्यूज़िक के पटियाला घराने से तालीम हासिल की थी और बाद में उसे नई ऊंचाइयों तक पहुंचाया.

उस्ताद बड़े गुलाम अली ख़ान साहब के ठुमरी पर आधारित कुछ फ़ेमस गीत हैं ‘का करूं सजनी आए न बालम’, ‘याद पिया की आए’, ‘जा रे बदरा बैरी जा’, ‘प्रेम जोगन बन के’, ‘नैना मोरे तरस रहे’, ‘कंकर मार जगाए’. मुग़ल-ए-आज़म के गाने ‘प्रेम जोगन बन के...’ के लिए बड़े गुलाम अली ख़ान को उस दौर में 25000 रुपये फ़ीस दी गई थी.

Bade Ghulam Ali Khan
Source: scroll

बड़े गुलाम अली ख़ान साहब ने ठुमरी के साथ कई प्रयोग किए और उसे एक नया अंदाज़ और मिठास भी दी. उनका लाइव कॉन्सर्ट देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ आया करती थी. मगर एक बार अपने एक कॉन्सर्ट में वो अपना गीत ही भूल गए. इसकी वजह थीं लता मंगेशकर.

Bade Ghulam Ali Khan
Source: cinestaan

हुआ यूं के उस्ताद बड़े गुलाम अली ख़ान मुंबई में एक कॉन्सर्ट करने गए थे. यहां उन्होंने अपने शिष्यों से कहा कि आज वो राग यमन के साथ इस कार्यक्रम की शुरुआत करेंगे. शो से पहले उस्ताद और उनके शिष्य रियाज़ कर रहे थे कि तभी रेडियो पर एक गीत सुनाई देने लगा. पड़ोस के एक फ़्लैट से रेडियो पर लता जी का गाना आ रहा था- 'जा रे बदरा बैरी जा रे जा रे.'

Bade Ghulam Ali Khan
Source: thehindu

फ़िल्म 'बहाना' के इस गीत को राजेंद्र कृष्ण ने लिखा था और इसका संगीत दिया था मदन मोहन जी ने. इस गाने को सुनकर उस्ताद बड़े गुलाम अली ख़ान साहब अपना यमन राग भूल गए. उन्होंने रियाज़ भी नहीं किया. पूरा गाना सुनने के बाद वो अपने शिष्यों से बोले कि-’जब से मैंने लता का गाना सुन लिया है, मैं अपना यमन भूल गया हूं. मैं आज क्या गाऊंगा.’

Bade Ghulam Ali Khan
Source: cinestaan

वो लताजी के द्वारा गाए गए उस गीत में इस कदर खो गए कि वो भूल गए कि उनके सुर कैसे लगने वाले हैं. कहते हैं कि उस दिन उन्होंने उस कार्यक्रम में यमन न गाकर किसी दूसरे राग से शुरुआत की. लता जी की तारीफ़ करते हुए उस्ताद बड़े गुलाम अली ख़ान कहते थे कि 'कम्बख़्त, कभी बेसुरी नहीं होती.' वहीं दूसरी तरफ लता जी हमेशा यही कहती थीं कि अगर वो ठीक से रियाज़ करतीं तो उस्ताद बड़े गुलाम अली ख़ान के जैसे गीत गा पाती.

Bade Ghulam Ali Khan
Source: sakshi

इन दोनों से जुड़ा ये दिलचस्प क़िस्सा आप यहां सुन सकते हैं.
Entertainment के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.