बॉलीवुड (Bollywood) में एक से बढ़कर एक विलेन हुए हैं. 70 से लेकर 90 के दशक के अंत तक बॉलीवुड में प्राण, प्रेम चोपड़ा, अजीत, रंजीत, अमजद ख़ान, अमरीश पूरी, डैनी डेंज़ोंग्पा, शक्ति कपूर, गुलशन ग्रोवर और आशुतोष राणा समेत कई विलेन काफ़ी मशहूर हुये हैं. इन्हीं में से एक नाम मुकेश ऋषि (Mukesh Rishi) का भी है. मुकेश अपनी कद काठी और दमदार आवाज़ के लिए आज भी मशहूर हैं. आमिर ख़ान स्टारर 'सरफ़रोश' फ़िल्म का ईमानदार पुलिस इंस्पेक्टर 'सलीम' हो या फिर 'गुंडा' फ़िल्म का डॉन 'बुल्ला' मुकेश ऋषि अपनी दमदार एक्टिंग से हर किरदार को यादगार बना देते हैं.

ये भी पढ़ें- 90's में कांचा चीना और कात्या जैसे किरदारों को यादगार बनाने वाले Danny Denzongpa आजकल कहां हैं?

मुकेश ऋषि, Mukesh Rishi
Source: timesofindia

चलिए आज मुकेश ऋषि के बारे में जान लेते हैं कि वो इन दिनों कहां हैं और क्या कर रहे हैं?

कौन हैं मुकेश ऋषि (Mukesh Rishi)?

मुकेश ऋषि (Mukesh Rishi) का जन्म 19 अप्रैल, 1956 को जम्मू के कठुआ ज़िले में हुआ था. इनके पिता 'स्टोन क्रशिंग' का बिज़नेस करते थे. मुकेश ने अपनी शुरुआती पढ़ाई जम्मू में ही पूरी की. वो क्रिकेट अच्छा खेलते थे इसलिए उनका दाखिला स्पोर्ट्स कोटे से 'पंजाब यूनिवर्सिटी' में हो गया. मुकेश जल्द ही अपनी कॉलेज क्रिकेट टीम के उपकप्तान बन गये. कॉलेज के दौरान ही उनकी रुचि फ़िल्मी दुनिया में भी बढ़ने लगी थी. मुकेश की पर्सनेलिटी और हाइट देखकर हर कोई उन्हें फ़िल्मों में काम करने की सलाह देता था.

Mukesh Rishi
Source: connectgujarat

कॉलेज की पढ़ाई पूरी करने के बाद मुकेश ऋषि अपने फ़ैमिली बिज़नेस में पिता और बड़े भाई का हाथ बंटाने मुंबई चले गये, लेकिन कुछ समय तक ये काम करने के बाद इसमें मन नहीं लगा तो वो काम की तलाश में फिजी चले गये. फिजी में उनकी मुलाक़ात कॉलेज के समय की गर्लफ्रेंड केशनी से हुई जिनका परिवार फिजी में एक डिपार्टमेंटल स्टोर चलाया करता था. इस दौरान मुकेश उसी डिपार्टमेंटल स्टोर में काम करने लगे और कुछ समय बाद उन्होंने केशनी से शादी कर ली.

 Mukesh Rishi Bollywood Actor
Source: indya101

मुकेश ऋषि को फिजी में काम करते हुए एक मॉडलिंग कोर्स के बारे में पता चला और उन्होंने ये कोर्स ज्वाइन कर लिया. लेकिन कुछ समय बाद मुकेश अपने स्टोर के काम के चलते न्यूज़ीलैंड चले गये. न्यूज़ीलैंड में उन्हें एक मॉडलिंग एंजेसी के बारे में पता चला और अपने शौक को पूरा करने के लिए वो वहां चले गए. मॉडलिंग एंजेसी के मालिक ने मुकेश की कद काठी और रैंप वॉक देखकर इन्हें सलेक्ट भी कर लिया. इसके बाद मुकेश ने न्यूज़ीलैंड की कई एजेंसियों के लिए रैंप मॉडलिंग भी की.

Mukesh Rishi Modeling Days
Source: timesofindia

मॉडलिंग छोड़ बॉलीवुड का किया रुख  

90 के दशक की शुरुआत में मुकेश मॉडलिंग छोड़ न्यूज़ीलैंड से भारत लौट आये. इसके बाद उन्होंने मुंबई में रहकर बॉलीवुड में काम करने का फ़ैसला किया. बॉलीवुड में जहां हर कोई हीरो बनने का सपना लेकर मुंबई आता है, वहीं मुकेश बतौर विलेन मशहूर होना चाहते थे. इसके बाद उन्होंने एक्टिंग की बारीकियों को सीखने के लिए 'रोशन तनेजा' के एक्टिंग स्कूल में दाखिला ले लिया और साथ ही डांस मास्टर मधुमति से ट्रेनिंग भी लेने लगे. 

Mukesh Rishi in Films
Source: superstarsbio

इस सीरियल से की एक्टिंग की शुरुआत 

रोशन तनेजा के एक्टिंग स्कूल से निकलने के बाद मुकेश ने बॉलीवुड में स्ट्रगल शुरू कर दिया और कुछ समय बाद उन्हें 'थम्सअप' और 'च्यवनप्राश' के विज्ञापनों में काम मिल गया. इस दौरान काम की तलाश में भटक रहे मुकेश को देख निर्देशक संजय ख़ान ने साल 1990 में अपने टीवी सिरियल 'The Sword of Tipu Sultan' में उन्हें 'मीर सादिक' के किरदार के लिए कास्ट कर लिया. इस किरदार से मुकेश को ज़्यादा पहचान तो नहीं मिली, लेकिन एक्टिंग की बारीकियां ज़रूर सीख ली.

Mukesh Rishi in Films
Source: nationalheraldindia

ये भी पढ़ें- जानिए आज किस हाल में है 90's का शातिर विलेन 'इंस्पेक्टर गोडबोले' उर्फ़ सदाशिव अमरापूरकर

'हीरो' नहीं 'विलेन' बनना चाहता हूं  

साल 1993 की बात है. मुकेश ऋषि काम के सिलसिले में निर्माता यश चोपड़ा से मिलने उनके ऑफ़िस गये. इस दौरान जब यश चोपड़ा ने उनसे उनके काम के बारे में पूछा तो मुकेश ने कहा कि 'वो 'हीरो' के बजाय 'विलेन' का रोल करना चाहते हैं'. इस पर यश चोपड़ा ने कहा कि उनकी फ़िल्मों में विलेन जैसा कुछ होता ही नहीं है अगर रोमांटिक फ़िल्मों में कोई रोल चाहिए तो बताओ. ये सुनकर मुकेश ने यश चोपड़ा का आशीर्वाद लिया और वहां से निकल गये. हालांकि, बाद में यश चोपड़ा ने ही मुकेश को अपनी फ़िल्म 'परम्परा' में एक छोटा सा रोल दिया.

Mukesh Rishi in tv
Source: timesofindia

इस फ़िल्म से किया बॉलीवुड में डेब्यू  

मुकेश ने साल 1993 में 'सुनील दत्त, विनोद खन्ना, आमिर ख़ान और सैफ़ अली ख़ान स्टारर फ़िल्म 'परंपरा' में एक छोटे से किरदार से बॉलीवुड में डेब्यू किया था. इसके बाद उन्होंने 'बाज़ी', 'साजन चले ससुराल', 'गर्दिश', 'सपूत', 'घातक', 'जुड़वा', 'गुप्त', 'गुंडा', 'बंधन', 'सरफ़रोश', 'सूर्यवंशम', 'अर्जुन पंडित', 'कुरुक्षेत्र', 'इंडियन' और 'दम' जैसी कई फ़िल्मों में अपनी दमदार एक्टिंग का जलवा दिखाया.

Mukesh Rishi in Films
Source: ibtimes

अब कहां हैं मुकेश ऋषि?

मुकेश अब बॉलीवुड फ़िल्मों में कम ही नज़र आते हैं. पिछले 10 सालों की बात करें तो वो केवल 10 फ़िल्मों में ही दिखाई दिए हैं. वो आख़िरी बार साल 2020 में 'Gul Makai' फ़िल्म में नज़र आये थे. इसके अलावा वो साल 2019 में 'अभय' वेब सीरीज़ में भी एक छोटे से किरदार में नज़र आये थे. 'फ़ोर्स' और 'खिलाड़ी 786' उनकी आख़िरी बड़ी बॉलीवुड फ़िल्में थीं. हालांकि, वो तेलुगु फ़िल्मों में लगातार काम कर रहे हैं.

Mukesh Rishi in South Films
Source: naaradtv

90's के ख़ूंख़ार विलेन मुकेश ऋषि अब तक 76 बॉलीवुड फ़िल्मों में काम कर चुके हैं. इसके अलावा वो 80 से अधिक तमिल, तेलुगु, कन्नड़, मलयालम, पंजाबी, मराठी और भोजपुरी फ़िल्मों में भी अपनी एक्टिंग के जलवे दिखा चुके हैं.

ये भी पढ़ें- जानिए 90's की फ़िल्मों का ख़ूंख़ार विलेन 'चिकारा' उर्फ़ रामी रेड्डी आज किस हाल में है और कहां है