Who Is Mame Khan in Hindi : Cannes Film Festival एक अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म फ़ेस्टिवल है, जो प्रतिवर्ष फ्रांस के शहर कांस (Cannes) में आयोजित किया जाता है. इस फ़ेस्टिवल में सिनेमा जगत की बड़ी-बड़ी हस्तियां शिरकर करती हैं. वहीं, इस दौरान भारत के एक लोक गायक की काफ़ी चर्चा हो रही है, जो Cannes 2022 Red Carpet पर कदम रखने वाले देश के पहले लोक गायक बने हैं.

 
इनका नाम है मामे ख़ान. 75वें कान्स फ़िल्म फ़ेस्टिवल में मामे देसी अंदाज़ में अपना जलवा बिखरते नज़र आए. सिर पर पगड़ी बांध मामे ख़ान बॉलीवुड स्टार्स के साथ रेड कारपेट पर चलते नज़र आए. वहीं, उन्होंने दूसरे देश में जाकर राजस्थानी संस्कृति की छाप छोड़ने का काम किया.

उन्होंने, पगड़ी के साथ, गुलाबी रंग का पठानी सूट और ट्रेडिशनल जैकेट पहनी थी. बता दें कि भारत को कांस फ़िल्म फ़ेस्टिवल में 'Country of Honor' से सम्मानित किया गया है. आइये, इस ख़ास लेख में जानते हैं कौन हैं मामे ख़ान और क्या है उनकी पूरी कहानी.   

लेख में आगे बढ़ते हैं और जानते हैं कि कौन है मामे ख़ान? - Who is Mame Khan in Hindi 

कौन है मामे ख़ान? - Who is Mame Khan in Hindi 

mame khan
Source: dnaindia

Who Is Mame Khan in Hindi : मामे ख़ान एक लोक गायक हैं, जो राजस्थान से संबंध रखते हैं. मामे का जन्म 16 जुलाई 1978 में जैसलमेर के पास एक छोटे से गांव सत्तो में हुआ था. मामे ख़ान उत्कृष्ट गायकों के परिवार से आते हैं, जो क़रीब पंद्रह से अधिक पीढ़ियों से गाने-बजाने का काम कर रहे हैं. मामे ख़ान की गायकी को निख़ारने का श्रेय उनके पिता और उनके संगीत गुरु स्वर्गीय राणा ख़ान को जाता है.  

बॉलीवुड की कई फ़िल्मों के लिए गा चुके हैं गाना  

mame khan
Source: abplive

आज मामे ख़ान एक प्रोफ़ेशनल सिंगर बन चुके हैं और बॉलीवुड की कई फ़िल्मों के लिए अपनी आवाज़ दे चुके हैं, जिनमें लक बाय चांस (2009), आई एम (2010), नो वन किल्ड जेसिका (2011), मिर्जया (2016) और सोनचिरैया (2019) जैसी कई हिन्दी फ़िल्म शामिल हैं. वहीं, उन्हें ‘ग्लोबल इंडियन म्यूजिक एकेडमी अवार्ड्स (GiMA 2016) में सर्वश्रेष्ठ लोक एकल पुरस्कार से भी सम्मानित किया जा चुका है.   

शादियों में गाते थे गाना  

mame khan
Source: twitter

Who Is Mame Khan in Hindi : उनका बॉलीवुड तक पहुंचना उतना आसान नहीं था. लेकिन, अपनी गायकी और मेहनत के दम पर उन्होंने राजस्थान के छोटे से गांव से सीधा मुंबई तक का सफ़र तय किया. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें, तो शुरुआत में उनके परिवार की माली हालत ठीक नहीं थी. चूंकि, उनके घर में गाने-बजाने का माहौल रहा है, इसलिए आमदनी के लिए अपने पिता के साथ वो आस-पास के गांव में होने वाली शादियों में गाना गाते थे. जहां बच्चे बचपन में अलग-अलग खिलौने से खेलते थे, वहां मामे ख़ाने के लिए सितार और ढोलक ही खिलौना थे.   

पहली बार जब अमेरिका गए 

mame khan
Source: indulgexpress

Who Is Mame Khan in Hindi : उनसे जुड़ा एक क़िस्सा ये है कि वो पहली बार अपने पिता और अन्य साथियों के साथ म्यूज़िकल प्रोग्राम के लिए अमेरिका गए थे. उनके साथी गा रहे थे और वो उनके लिए ढोलक बजा रहे थे. वो गान चाहते थे, लेकिन पिता से इसकी इज़ाजत नहीं मिली. एक बार वो ग़लती से बेल्जियम में ढोलक भूल आए थे, तब उनके पिता को पता चला कि वो गाना चाहते हैं.  

कुछ इस तरह हुए बॉलीवुड में शामिल

MAME KHAN
Source: indiatimes

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें, तो उनका बॉलीवुड में आना लक बाय चांस था. जैसा कि हमने बताया कि वो शादियों में गाना गाया करते थे. एक बार उन्हें बॉलीवुड सिंगर ईला अरुण की बेटी की शादी में गाने के लिए बुलाया गया. वहां, गायक और संगीतकार शंकर महादेवन मौजूद थे, जिन्होंने उनका गाना सुना. फिर क्या था, उन्हें पहला ब्रेक मिल गया. वो फ़िल्म थी लक बाय चांस, जिसके लिए उन्होंने 'बावरे' गाना गाया. 

मामे ख़ान के बारे में ये जानकारी आपको कैसी लगी, हमें कमेंट में बताना न भूलें.