पिछले कुछ दिनों से इंटरनेट पर एक तस्वीर वायरल हो रही है. तस्वीर में हिरन की तरह दिखने वाले जानवर, इम्पाला को दो चीते घेरे खड़े हैं. इसी के साथ एक बनावटी कहानी भी इंटरनेट के लोगों की सहानुभूति बंटोर रही है.

कहानी के हिसाब से इस मादा इम्पाला ने चीते के झुंड से अपने बच्चों को बचाने के लिए, खुद को उनके हवाले कर दिया, ताकि बच्चों को भागने का समय मिल जाए. कहानी में ये भी लिखा है कि ये मादा इम्पाला सामने की तरफ़ अपने बच्चों को भागते हुए देख रही है, ये जानते हुए कि उसके तुरंत बाद उसे ये चीते फ़ाड़ देंगे. कहानी को और मसालेदार बनाने के लिए ये भी लिखा गया कि इस फ़ोटो के ​बाद इसकी फ़ोटोग्राफ़र डिप्रेशन में चली गई.

इसमें कोई दो राय नहीं है कि ये पढ़ने के बाद कोई इसे शेयर या लाइक न करे. कुछ ऐसा ही हुआ और देखते ही देखते ये बुरी तरह वायरल हो गई.

क्या था इस तस्वीर का सच?

अपनी तस्वीर को नकली कहानी के साथ वायरल होते देख इसकी फ़ोटोग्राफ़र Alison Buttigieg ने फेसबुक पर इसका सच बताया.

Alison ने लिखा कि उन्होंने ये तस्वीर 2013 में केन्या के मसाई मारा में खींची थी. ये तस्वीर लेते वक़्त इम्पाला के बच्चे वहां नहीं थे. मादा चीता Narasha, अपने बच्चों को झुंड में शिकार करना सिखा रही थी. बच्चे शिकार करने से ज़्यादा इम्पाला के साथ खेलने में रुचि रखे हुए थे. वो इम्पाला अपने बच्चे को नहीं देख रही थी, बल्कि डर के मारे सुन्न हो चुकी थी. इसके अलावा Alison ने लिखा कि वो किसी डिप्रेशन में नहीं आई थी. Alison ने​ लिखा कि इस नकली ख़बर ने उन्हें परेशान कर रखा है. रोज़ सैकड़ों लोग उनसे पूछते हैं कि क्या वो ठीक हैं.

Source- Facebook