इतिहास में जब तमाम तरह के राजाओं का शासनकाल था, तो बहुत से हिजड़ों को काम पर लगाया जाता था. काम जैसे कि औरतों के हरम की रखवाली करना. ज़्यादातर हिजड़े ही रानियों के सलाहकार और पहरेदार होते थे. ऐसा इसलिए क्योंकि वे पुरुषों जैसे बलशाली तो थे लेकिन उनमें पुरुषत्व न था. इनकी तैनाती से रानियों को न किसी बाहर वाले से ख़तरा होता था और न ही कभी इनसे. जब किन्नरों की कमी पड़ती थी, तो आम आदमियों के अंडकोष को ज़बरदस्ती काट कर या उनकी Castration करके उन्हें इन कामों में लगाया जाता था. आज चर्चा होगी विश्व के सबसे प्रभावशाली, बलशाली, चालाक हिजड़ों ( या जिन्हें जबरन हिजड़ा बनाया गया) की.

1. Judar Pasha

‘जुदार पाशा’ 16वीं सदी में जन्मा था. वो बहुत छोटा ही था, जब उसे बेच दिया गया. फिर जब वह बड़ा हुआ, उसे नपुंसक बना कर मोरक्को के सुल्तान की सेवा में भेज दिया गया. वह बहुत बलशाली था. इस कारण उसे सुल्तान की सेना में भेज दिया गया, जहां थोड़े ही समय में वह सुल्तान की आर्मी का कमांडर बन गया. 'जुदार पाशा' की अगुवाई में सुल्तान की आर्मी ने अफ्रीका की सबसे बड़ी सल्तनत ‘सोंघाई’ पर हमला किया.

'सोंघाई' के राजा को जब अपनी सल्तनत पर कब्ज़ा होने का डर लगने लगा, तो उसने मोरक्को के सुल्तान को भारी कीमत देने की पेशकश की. राजा नहीं माने पर कमांडर ‘जुदार पाशा’ का दिल ललचा गया. 'जुदार पाशा' ने सुल्तान से बग़ावत कर ली. माना जाता है कि सुल्तान पूरी एड़ी-चोटी का ज़ोर लगाकर भी जुदार को झुका न पाया था. इसके बाद अगले सुल्तान ने उसे मार गिराया था, पर वह भी बड़ी मशक्कत के बाद.

2. Pothinus

ईसापूर्व पहली शताब्दी में किन्नर 'Pothinus' मिस्र का सबसे प्रभावशाली व्यक्ति था. वह मिस्र के किंग की पत्नी की सेवा में कार्यरत था और बहुत कम समय में उसका सबसे ख़ास बन गया था. उसने रानी को अपने ही पति यानि किंग के खिलाफ़ ऐसा भड़काया कि वो किंग से बिलकुल कट गयी. इसके बाद उसने किंग की हत्या का षड्यंत्र भी बनाया लेकिन किंग की नज़र में आ जाने से उसका असली चेहरा सबके सामने आ गया. फिर Pothinus को मार दिया गया और किंग की पत्नी को मिस्र की कमान सौंपी गयी. उस किन्नर के भड़काने का प्रभाव इतना था कि रानी को वापस कभी किंग पर ऐतबार न हुआ.

3. Sporus

रोम के सम्राट Nero की पत्नी ‘सबीना’ पेट से थीं. गुस्से में सम्राट ने उन्हें पेट में तब तक लातें मारी, जब तक वे मरी नहीं. बाद में ‘सबीना’ की मौत से सम्राट अकेला पड़ गया. उसे याद करने लगा. एक दिन उसे अपनी पत्नी सबीना जैसा ही दिखने वाला एक बच्चा ‘Sporus’ दिखा. लड़के को Castrate (नपुंसक बनाना) करके सम्राट ने उससे शादी रचा ली और उसे 'सबीना' कह कर पुकारने लगा. कुछ समय बाद सम्राट की रहस्यमयी तरीके से मृत्यु हो गयी. इसके बाद ‘Sporus’ के संबंध सल्तनत के सेनापति से बने. उसकी भी अचानक मौत हो गयी. फिर ‘Sporus’ के संबंध अगले सम्राट ‘Otho’ से बने, वह भी मारा गया. ‘Sporus’ के साथ संबंध बनाने वाले हर सम्राट की एक-एक करके मौत हुई, इस बात को जान कर अगले सम्राट ने चौकसी बरतनी शुरू कर दी थी. नए सम्राट जानते थे कि सभी पूर्व सम्राटों की मौत का कारण कहीं न कहीं ‘Sporus’ ही है. ‘Sporus’ से छुटकारा पाने के लिए राजा ने उसे ज़लील करने की सारी हदें पार कर दीं और फिर एक दिन उसने खुद ही ज़हर खा लिया.

4. Narses

प्राचीन काल में ‘Narses’ नाम के एक किन्नर को 'Justinian The Great' की सेवा में काम करने का मौका मिला. इस बीच प्रदेश में दंगे हुए. Narses को पब्लिक को शांत करने का काम दिया गया. इस काम को उसने इतनी बखूबी निभाया कि दंगे रुक गये. राजा खुश हुए और Narses को आर्मी में भर्ती करवा दिया गया. इसके बाद रोम पर पुनः अधिकार प्राप्त करने के लिए युद्ध हुआ, जिसकी कमान किन्नर ‘Narses’ को दी गयी. ‘Narses’ को सेना की अगुवाई करने का कोई अनुभव न था. वह 70 साल का बूढ़ा हो चुका था. इसके बावजूद उसकी अगुवाई में बहुत से युद्ध जीत लिए गए.

किसी की ताक़त और अक्ल का अंदाज़ा उसके लिंग से नहीं लगे जा सकता, यह बात तो आपको इस लेख को पढ़ने के बाद समझ आ ही गयी होगी! इस आर्टिकल को शेयर करके अपने दोस्तों को भी समझायें.

Feature Image : Static

Source : Ancient