गुजरात के एक बेहतरीन कहानीकार, नाटककार और हास्य लेखक तारक मेहता अब शब्दों की दुनिया को छोड़ कर जा चुके हैं. तारक ने अपने गुजराती कॉलम 'दुनिया ने औंधा चशमा' से काफ़ी लोकप्रियता बंटोरी थी.

इसके बाद SAB TV पर आने वाले सीरियल 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' ने इनकी लेखनी को भारत के हर घर तक पहुंचा दिया.

Source- Intoday

तारक की लेखनी की हम क्या ही तारीफ़ करें, ब​स इतना जान लीजिए ​कि करोड़ों हिन्दी भाषी लोग हर शाम अपने परिवार के साथ सुकून से इनके सीरियल को देख कर ठहाके लगाते हैं.

87 में उम्र में बीमारी से जूझते हुए तारक आज सुबह (1 मार्च 2017) दुनिया को अलविदा कह गए.

तारक के निधन पर देश भर ने ट्विटर पर जताया शोक:

Article Source- News18