हाल ही में सोशल मीडिया पर रोचक और ख़तरनाक स्टंट वाली कुछ तस्वीरें वायरल हुईं. इन तस्वीरों में कुछ किसान 40 फ़ीट चौड़े और 20 फ़ीट ऊंची सूखी घास और जूट के बंडल को ले जाते हुए दिखाई दे रहे हैं. इन तस्वीरों में आप देख सकते हैं कि कैसे ये किसान दो नावों का सहारा लेकर गहरी नदी के बीचों-बीच सफ़र कर रहे हैं.

बांग्लादेश का शहर सिराजगंज जूट उत्पादन की एक बहुत बड़ी इंडस्ट्री है. किसानों को अपना माल बाहर बेचने के लिए दो-तीन की यात्रा करनी पड़ती है, लेकिन ईंधन मंहगा होने के कारण किसान किसी ट्रांसपोर्ट का सहारा नहीं ले सकते. इसीलिए उन्होंने सूखी घास और जूट का इस तरह बांध कर, दो नावों से सफ़र करना उचित समझा.

किसानों का ये आईडिया जितना नया और क्रिएटिव है, उतना ही जानलेवा भी. गहरी नदी के बीचो-बींच सफ़र की ये तस्वीरें देख, किसी की भी सांसें हलक में आ जाए, लेकिन इन किसानों हौसला नहीं टूटा.

32 साल के फ़ोटोग्राफ़र Touhid Parvez का कहना है, 'ये किसान एक साथ इतनी घास और इसलिए ले रहे हैं, क्योंकि ईंधन की कीमत इससे मिलने वाली लागत से अधिक है.'

लकड़ी की दो बोट पर घास और जूट लाद कर ले जाने में कैसे महसूस होता है, ये बात सिर्फ़ एक ग़रीब किसान ही समझ सकता है. एक छोटी चूक से इनकी ज़िंदगी जा सकती है.

Source : dailymail